प्रेगनेंसी में बैठने का सही तरीका क्या है,गर्भावस्था एक ऐसा समय होता है जहां महिला को अपना दुगुना ख्याल रखने की सलाह हर कोई देता है। महिला यदि कुछ भी करती है तो उसे हर कोई समझाता है की महिला को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। और ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि प्रेगनेंसी महिला के लिए वो समय होता है जब महिला अकेली नहीं होती है। बल्कि महिला के पेट में पल रहा बच्चा भी महिला पर ही निर्भर करता है।

ऐसे में यदि महिला कोई भी लापरवाही करती है यहां तक की सही तरीके से उठती या बैठती भी नहीं है, तो इसके कारण होने वाली परेशानी महिला के साथ शिशु पर भी गलत असर डाल सकती है। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको प्रेग्नेंट महिला को किस तरह बैठना चाहिए और किस तरह नहीं बैठना चाहिए उस बारे में बताने जा रहे हैं। ताकि प्रेग्नेंट महिला या शिशु को इसके कारण किसी भी तरह की परेशानी न हो।

प्रेगनेंसी में बैठने का सही तरीका क्या है

  • गर्भवती महिला जब भी कहीं बैठती है तो महिला को किसी चीज का सहारा लेकर बैठना चाहिए।
  • और बैठने में महिला को बिल्कुल भी तेजी नहीं करनी चाहिए।
  • साथ ही जहां भी महिला बैठ रही है वहां पर महिला की कमर को सहारा देने के लिए कुछ न कुछ जरूर होना चाहिए।
  • और यदि कुछ नहीं है तो महिला को पिल्लो का सहारा लेकर बैठना चाहिए।
  • इसके बाद जब आप उठने लगती है तो भी आपको जल्दबाज़ी नहीं करनी चाहिए।
  • और आराम से उठना चाहिए, साथ ही किसी चीज या किसी का हाथ पकड़कर उठना चाहिए।

प्रेग्नेंट महिला को किस तरह नहीं बैठना चाहिए

गर्भावस्था के दौरान ऐसे बहुत सी पोजीशन हैं जिसमे प्रेग्नेंट महिला को नहीं बैठना चाहिए। क्योंकि इसके कारण महिला को बहुत सी परेशानियां हो सकती हैं। तो आइये अब जानते हैं प्रेग्नेंट महिला को किस किस पोजीशन में नहीं बैठना चाहिए।

प्रेगनेंसी में बैठने पर नहीं लटकाने चाहिए

  • प्रेग्नेंट महिला को बहुत देर तक पैर लटकाकर नहीं बैठना चाहिए।
  • क्योंकि इसके कारण बॉडी में ब्लड फ्लो में में रूकावट आ सकती है।
  • जिसके कारण पैरों में सूजन, खड़े होते समय आपको चक्कर जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

बिना सहारे के

  • प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सी गर्भवती महिलाएं पीठ के दर्द के कारण परेशान हो सकती है।
  • और इस परेशानी का एक कारण महिला का बिना सहारे के बैठना हो सकता है।
  • बिना सहारे के बैठने के कारण रीढ़ की हड्डी में दर्द, पीठ की मांसपेशियों के अधिक खिंचाव महसूस हो सकता है।
  • ऐसे में गर्भवती महिला इस परेशानी से बचने के लिए बैठते समय पीठ की साइड एक पिल्लो लगाकर बैठे।
  • ताकि महिला को इस परेशानी से बचे रहने में मदद मिल सके।

पैरों के भार

  • प्रेग्नेंट महिला को पैरों के भार भी नहीं बैठना चाहिए।
  • क्योंकि पैरों के भार बैठने के कारण पेट पर दबाव पड़ सकता है।
  • और पेट में दबाव पड़ने के कारण महिला के साथ पेट में बच्चे को भी दिक्कत हो सकती है।
  • इसीलिए गलती से भी प्रेग्नेंट महिला को पैरों के भार नहीं बैठना चाहिए।

बहुत देर तक एक ही पोजीशन में

  • प्रेग्नेंट महिला बहुत देर तक एक ही पोजीशन में भी नहीं बैठना चाहिए।
  • क्योंकि इसके कारण प्रेग्नेंट महिला को बॉडी पार्ट्स में दर्द की समस्या से परेशान होना पड़ सकता है।

तो यह हैं प्रेग्नेंट महिला को किस तरह से बैठना चाहिए या और किस तरह से नहीं बैठना चाहिए उससे जुड़े कुछ टिप्स। यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं या प्रेगनेंसी प्लान कर रही हैं तो आपको भी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि आपको भी उठने या बैठने के कारण होने वाली परेशानी से बचे रहने में मदद मिल सके।