प्रेगनेंसी के दौरान यदि चेहरे और पैरों पर सूजन होने लगे तो क्या करें?

गर्भावस्था जहां महिला के लिए एक ख़ुशी का पल होता है वहीँ इस दौरान महिला को बहुत सी परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है। जैसे की महिला के शरीर में बदलाव होने लगते हैं, महिला का वजन बढ़ता है, कुछ महिलाओं की स्किन पर भी असर पड़ता है, पेट सम्बन्धी परेशानियां महिला को हो सकती है, ब्लड प्रैशर से जुडी समस्या का सामना महिला को करना पड़ सकता है, मूड स्विंग्स जैसे की गुस्सा या चिड़चिड़ाहट महिला को अधिक हो सकती है,

तनाव की समस्या महिला को हो सकती है, सिर दर्द व् बॉडी के अन्य पार्ट्स में दर्द की समस्या महिला को हो सकती है, सूजन की समस्या से महिला को परेशान होना पड़ सकता है, आदि। लेकिन ऐसा जरुरी नहीं है की यह सभी परेशानियां गर्भवती महिला जो जरूर हो बल्कि सभी गर्भवती महिलाओं को अलग अलग दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। आज इस आर्टिकल में हम आपसे प्रेगनेंसी के दौरान चेहरे और पैरों पर सूजन होने लगे तो महिला को क्या करना चाहिए उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

प्रेगनेंसी में सूजन होना सही है या नहीं?

गर्भावस्था के दौरान सूजन आना बहुत ही सामान्य बात होती है। और यह सूजन महिला को हाथों, पैरों, चेहरे, होंठ आदि पर आ सकती है। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान यदि कोई भी लक्षण असामान्य दिखाई दे तो उसे अनदेखा नहीं करना चाहिए। ऐसे ही प्रेगनेंसी के दौरान यदि महिला को शरीर के किसी भी अंग पर सूजन की समस्या अधिक हो तो महिला को उसे अनदेखा नहीं करना चाहिए।

गर्भावस्था में सूजन होने के कारण

  • शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला को इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
  • जो महिलाएं ज्यादा समय तक पैरों के भार खड़ी रहती हैं उन्हें पैरों व् टखनों में इस परेशानी का सामना अधिक करना पड़ सकता है।
  • गर्भाशय का आकार बढ़ने के कारण पेट के निचले हिस्से पर दबाव बढ़ने के कारण यह समस्या हो सकती है।
  • हाई ब्लड प्रैशर की समस्या से जूझ रही गर्भवती महिलाओं को यह समस्या हो सकती है।
  • जो गर्भवती महिलाएं किडनी लिवर की समस्या से जूझ रही होती है उन्हें भी इस समस्या का सामना अधिक करना पड़ सकता है।
  • धूम्रपान करने के कारण।

प्रेग्नेंट महिला को पैरों और मुँह पर सूजन होने पर क्या करना चाहिए?

गर्भावस्था के दौरान यदि किसी गर्भवती महिला को पैरों व् मुँह पर सूजन की समस्या है तो कुछ आसान टिप्स का इस्तेमाल करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। जैसे की:

सिकाई

गुनगुने पानी में नमक डालकर उसमे थोड़ी देर पैरों को रखने से पैरों की सिकाई हो जाती है जिससे पैरों को आराम मिलता है और सूजन की समस्या को कम करने में मदद मिलती है।

मसाज

रात को सोने से पहले रोजाना गुनगुने तेल से मसाज करें ऐसा आप पैरों के साथ चेहरे पर भी कर सकते हैं। ऐसा करने से भी गर्भवती महिला को पैरों की सूजन की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है क्योंकि इससे ब्लड फ्लो को बेहतर तरीके से होने में मदद मिलती है।

सोने की सही पोजीशन

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को सही पोजीशन में सोना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से दिल, लिवर, गर्भाशय व् शरीर के अन्य सभी हिस्सों में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है। जिससे महिला को सूजन की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है और प्रेगनेंसी में सोने की सही पोजीशन महिला का बाईं और करवट लेकर सोना होती है।

पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लें

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लेनी चाहिए। क्योंकि इससे शरीर में पोषक तत्वों की मात्रा सही रहती है। जिससे महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है और महिला जितना स्वस्थ रहती है उतना ही प्रेगनेंसी के दौरान आने वाली परेशानियों को कम होने में मदद मिलती है।

पानी का भरपूर सेवन करें

गर्भावस्था के दौरान महिला को पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए। क्योंकि पानी का भरपूर सेवन करने से शरीर में तरल पदार्थों की मात्रा सही रहती है जिससे महिला को सूजन की समस्या को कम करने में मदद मिलती है।

नमक कम लें

नमक का सेवन गर्भवती महिला को सिमित मात्रा में करना चाहिए क्योंकि नमक जरुरत से ज्यादा खाने पर महिला को सूजन की समस्या अधिक हो सकती है।

आरामदायक चप्पल व् जूते पहनें

ऐसे जूते चप्पल पहने जिसमे से हवा आसानी से पास हो जाये क्योंकि बंद जूते चप्पल पहनने के कारण न तो से पैरों तक हवा पास होती है और पैरों में ब्लड फ्लो में रूकावट भी हो सकती है। ऐसे में महिला को सूजन की समस्या को कम करने के लिए हवादार जूते चप्पल पहनने चाहिए।

एक ही पोजीशन में ज्यादा देर न रहें

गर्भवती महिला को एक ही पोजीशन में ज्यादा देर नहीं रहना चाहिए, क्योंकि इसके कारण ब्लड फ्लो पूरे शरीर में अच्छे से नहीं हो पाता है जिसकी वजह से महिला को सूजन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी में सूजन की समस्या से बचे रहने के लिए महिला को एक ही पोजीशन में ज्यादा देर नहीं रहना चाहिए।

व्यायाम

सूजन की समस्या से राहत पाने के लिए गर्भवती महिला को थोड़ी देर व्यायाम भी जरूर करना चाहिए। क्योंकि व्यायाम करने से शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है जिससे गर्भवती महिला को सूजन की समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है।

कैफीन का सेवन कम करें

चेहरे व् पैरों की सूजन की समस्या से राहत पाने के लिए गर्भवती महिला को कैफीन युक्त चीजें जैसे की चाय कॉफ़ी का सेवन भी कम करना चाहिए। क्योंकि कैफीन युक्त चीजों का ज्यादा सेवन सूजन की समस्या को बढ़ा सकता है।

स्विमिंग

सूजन की समस्या से राहत पाने के लिए गर्भवती महिला चाहे तो स्विमिंग कर सकती है स्विमिंग करने से शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है जिससे गर्भवती महिला को सूजन की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ उपाय जिनसे महिला को सूजन की समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है। इसके अलावा महिला को एक बात का ध्यान रखना चाहिए यदि महिला को चेहरे पर, पैरों पर या शरीर के अन्य किसी भी हिस्से में सूजन की समस्या अधिक हो तो महिला को तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए। क्योंकि ज्यादा सूजन की समस्या होने किसी शारीरिक बीमारी के होने का लक्षण होता है।

Swelling problem during Pregnancy

Leave a comment