प्रेगनेंसी में जब बहुत ज्यादा प्यास लगने लगे तो यह दिक्कत हो सकती है

एक स्वस्थ आदमी को दिन में कम से कम आठ गिलास पानी पीने की सलाह दी जाती है लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान महिला को इसे ज्यादा पानी पीने की जरुरत होती है। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला को बहुत सी शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। और बॉडी के हाइड्रेट रहने से गर्भवती महिला को इन परेशानियों को कम करने व् बच्चे के बेहतर विकास में मदद मिलती है।

साथ ही पानी का भरपूर सेवन गर्भवती महिला को ऊर्जा से भरपूर रहने में मदद करता है। लेकिन गर्भवती महिला को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की कहीं वो जरुरत से ज्यादा पानी तो नहीं पी रही है या महिला को बार बार प्यास तो नहीं लग रही है? क्योंकि ऐसा होना भी प्रेगनेंसी के दौरान महिला के लिए परेशानी का कारण होता है। तो आइये अब जानते हैं प्रेगनेंसी के दौरान बार बार प्यास लगने से जुडी कुछ खास बातें:

प्रेगनेंसी में बार बार प्यास लगने के कारण

  • गर्भावस्था के दौरान जिन महिलाओं का ब्लड प्रेशर लौ रहता है उन महिलाओं के साथ ऐसा हो सकता है।
  • प्रेगनेंसी में बॉडी में रक्त की मात्रा बढ़ती है और रक्त की मात्रा को सही रखने के लिए पानी का भरपूर सेवन बहुत जरुरी होता है जिसके कारण महिला को पहले के मुकाबले अधिक प्यास लगती है।
  • यदि गर्भवती महिला भरपूर पानी का सेवन नहीं करती है तो इसके कारण भी महिला को बार बार प्यास लगती है।
  • जो गर्भवती महिला खड़े होकर पानी का सेवन करती है उन्हें भी बार बार पानी पीने की इच्छा होती है।
  • यदि प्रेग्नेंट महिला नमकीन, तेलीय, मसालेदार भोजन का सेवन अधिक करती है तो इस कारण भी महिला को बार बार प्यास लगने की समस्या होती है।
  • प्रेगनेंसी के दौरान पेट का भार नीचे की तरफ होने के कारण महिला की बार बार यूरिन करने की इच्छा होती है और बार बार यूरिन पास करने के कारण भी महिला की प्यास में वृद्धि होती है।

प्रेगनेंसी में बार बार प्यास लगने के कारण हो सकती हैं यह दिक्कतें

गर्भावस्था के दौरान कोई भी लक्षण असहज महसूस हो तो उसे अनदेखा नहीं करना चाहिए क्योंकि वह बाद में आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकता है। जैसे की जरुरत से ज्यादा प्यास लगना भी प्रेगनेंसी के दौरान नुकसानदायक हो सकता है। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की प्रेगनेंसी में बार बार प्यास लगने से कौन सी परेशानियां होती है।

गेस्टेशनल शुगर

यदि गर्भवती महिला को बार बार प्यास लग रही है और उतनी ही ज्यादा बार महिला को यूरिन पास की इच्छा भी हो रही है तो यह गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली शुगर की समस्या का संकेत होता है। ऐसे में इसे अनदेखा न करते हुए तुरंत डॉक्टर से एक बार जरूर जांच करवानी चाहिए।

डीहाइड्रेशन

गर्भवती महिला की बार बार पानी पीने की इच्छा होने का एक कारण गर्भवती महिला के शरीर में तरल पदार्थों की कमी का होना भी होता है। और गर्भवती महिला को यदि डीहाइड्रेशन की समस्या होती है तो महिला को इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए और पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए।

थकान व् कमजोरी

गर्भवती महिला जितना ज्यादा पानी का सेवन करती है उतना ही ज्यादा महिला को यूरिन आता है। और जितनी ज्यादा बार महिला यूरिन पास करती है उतना ही ज्यादा महिला को थकान व् कमजोरी की दिक्कत अधिक होती है।

तो यह हैं कुछ कुछ कारण जिनकी वजह से महिला को ज्यादा प्यास लगती है साथ ही कुछ दिक्कतें भी हैं जो गर्भवती महिला को ज्यादा पानी पीने के कारण होती है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को इस बात का ध्यान रखना चाहिए और यदि बहुत ज्यादा प्यास लगे तो इसे अनदेखा न करते हुए तुरंत डॉक्टर से मिलें।