Ultimate magazine theme for WordPress.

प्रेगनेंसी में काले अंगूर क्यों नहीं खाने चाहिए?

प्रेगनेंसी में काले अंगूर खाने चाहिए या नहीं, प्रेगनेंसी एक ऐसा समय होता है जहां महिला को अपने खान पान का न केवल अच्छे से ध्यान रखना पड़ता है। बल्कि किसी भी चीज को खाने से पहले यह जानना जरुरी होता है। की प्रेगनेंसी के दौरान उस चीज का सेवन करना भी चाहिए या नहीं। क्योंकि सही खान पान जहां गर्भवती महिला व् भ्रूण के लिए फायदेमंद हो सकता है। वहीँ गलत खान पान के कारण प्रेग्नेंट महिला व् शिशु की सेहत को नुकसान भी पहुँच सकता है।

साथ ही प्रेग्नेंट महिला को कुछ चीजें जैसे की कच्चा पपीता, अधिक मात्रा में कैफीन, अल्कोहल, अनानास, चाइनीज़ फ़ूड, मर्करी युक्त मछली, आदि का सेवन करने की मनाही होती है। ऐसे में खान पान को लेकर मन में सवाल आना जरुरी होता है। और इस समय जितनी सतर्कता बरतनी जरुरी होती है। तो आइये आज इस आर्टिकल में काले अंगूर को लेकर बात करने जा रहे हैं। की प्रेगनेंसी के दौरान काले अंगूर का सेवन करना चाहिए या नहीं।

प्रेगनेंसी में काले अंगूर का सेवन करना चाहिए या नहीं

गर्भावस्था के दौरान काले अंगूर का सेवन का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि काले अंगूर में रेसर्विट्रॉल की मात्रा मौजूद होती है। जो की एक हानिकारक पदार्थ होता है जिससे प्रेगनेंसी के दौरान महिला को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा काले अंगूर का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को और भी दिक्कतें हो सकती है। तो आइये अब जानते हैं की प्रेगनेंसी में काले अंगूर का सेवन करने से कौन सी परेशानियां हो सकती है।

पाचन तंत्र होता है कमजोर

  • काले अंगूर को खाने पर उसका छिलका पचाने में प्रेग्नेंट महिला को दिक्कत हो सकती है।
  • जिसके कारण महिला को पाचन तंत्र से जुडी समस्या हो सकती है।
  • और पाचन तंत्र कमजोर होने के कारण महिला को पेट सम्बन्धी अन्य परेशानियां हो सकती है।

प्रेगनेंसी में काले अंगूर का सेवन करने से हो सकती है एसिडिटी

  • अंगूर अम्लीय होते हैं और यदि अंगूर खट्टे हो तो ज्यादा अम्लीय हो जाते हैं।
  • ऐसे में काले अंगूर का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को एसिडिटी, खट्टे डकार, सीने में जलन, उल्टी जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

डायरिया

  • काले अंगूर का सेवन करने से पेट में गर्माहट बढ़ जाती है।
  • जिसके कारण प्रेग्नेंट महिला को दस्त जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
  • जिससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है।
  • और शरीर में पानी की कमी होने के कारण गर्भवती महिला की परेशानियां बढ़ सकती है।

प्रेगनेंसी में काले अंगूर का सेवन करने से हो सकता है हार्मोनल असंतुलन

  • रेसर्विट्रॉल की मात्रा काले अंगूर में मौजूद होती है।
  • ऐसे में प्रेग्नेंट महिला यदि काले अंगूर का सेवन करती है तो इसके कारण बॉडी में हार्मोनल असंतुलन हो सकता है।
  • और बॉडी में हार्मोनल असंतुलन होने के कारण महिला को दिक्कत हो सकती है।

समय पूर्व प्रसव

  • काले अंगूर का सेवन प्रेगनेंसी की आखिरी तिमाही में अधिक करने से गर्भाशय में संकुचन का खतरा रहता है।
  • जिसके कारण महिला की समय से पहले डिलीवरी होने का डर बढ़ जाता है।

ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को जितना हो सके अंगूर का सेवन करने से बचना चाहिए। ताकि गर्भवती महिला या शिशु किसी को भी सेहत सम्बन्धी परेशानी न हो। कभी प्रेग्नेंट महिला का मन हो तो एक दो काले अंगूर का सेवन महिला कर सकती है।