प्रेगनेंसी में सिर दर्द होने के कारण

प्रेगनेंसी में सिर दर्द होने के कारण

प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली दिक्कतें

गर्भवती महिला के लिए प्रेगनेंसी का हर पल बेहद खूबसूरत होने के साथ नए नए अनुभव से भरपूर होता है। लेकिन माँ बनना इतना आसान नहीं होता है क्योंकि प्रेगनेंसी के पूरे नौ महीने बहुत सी शारीरिक परेशानियों से गुजरती है साथ ही कुछ महिलाएं तो मानसिक रूप से भी परेशान हो सकती है। प्रेगनेंसी के दौरान उल्टियां होना, मूड स्विंग्स होना, भूख का ज्यादा व् कम लगना, थकान, कमजोरी, बॉडी में दर्द, नींद में कमी, ब्लड प्रैशर से जुडी परेशानी, सिर दर्द व् चक्कर आदि बहुत सी समस्या हो सकती हैं। और इनके कारण कुछ गर्भवती महिलाएं एक या दो महीने तो कुछ पूरे नौ महीने तक परेशान रहती है। और प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला को एक जैसी परेशानी हो ऐसा भी कोई जरुरी नहीं होता है क्योंकि यह पूरी तरह से महिला के शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव पर निर्भर करता है।

प्रेगनेंसी में सिर दर्द होने के कारण

गर्भावस्था के दौरान सिर में दर्द होना आम बात होती है कुछ महिलाओं को यह समस्या बहुत ज्यादा होती है तो कुछ महिलाओं को कभी कभी सिर में दर्द हो सकता है। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले सिर में दर्द का कोई एक कारण नहीं होता है बल्कि इसके कई कारण हो सकते हैं। तो लीजिए अब विस्तार से जानते हैं की प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले सिर में दर्द के कौन कौन से कारण होते हैं।

हार्मोनल बदलाव

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में लगातार हार्मोनल बदलाव होते रहते हैं, और इन हार्मोनल बदलाव के साथ बॉडी में रक्त का दौरा भी तेजी से होने लगता है। जिसके कारण महिला को सिर में दर्द जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है, खासकर प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने में हार्मोनल बदलाव तेजी से होते हैं तो यह समस्या भी प्रेगनेंसी के शुरूआती समय में अधिक रह सकती है।

ब्लड प्रैशर

कुछ महिलएं प्रेगनेंसी के दौरान ब्लड प्रैशर के घटने या बढ़ने की समस्या के कारण परेशान हो सकती है। जिसके कारण सिर में दर्द का होना बहुत ही आम बात होती है। ऐसे में महिला को ब्लड प्रैशर से जुडी समस्या ले निजात के लिए उपाय करने चाहिए क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान ब्लड प्रैशर की समस्या का अधिक होना गर्भवती महिला के साथ शिशु के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है।

थकान व् कमजोरी

खान पान के सही न होने के कारण, अधिक शारीरिक श्रम के कारण, बॉडी में हार्मोनल बदलाव के कारण गर्भवती महिला को थकान व् कमजोरी की समस्या के कारण परेशान होना पड़ सकते हैं। वैसे ही थकान व् कमजोरी का अनुभव होने पर सिर में दर्द, बॉडी पेन की समस्या का होना भी आम बात होती है।

भूख

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान भूख कम लगती है तो कुछ को ज्यादा, ऐसे में भूख अधिक लगने पर यदि आप खाने से परहेज करती हैं या अपने आहार को बहुत कम मात्रा में लेती है तो इसके कारण भी सिर में दर्द जैसी समस्या का सामना गर्भवती महिला को करना पड़ सकता है।

माइग्रेन

माइग्रेन एक ऐसी समस्या है जिसके कारण महिला को सिर में दर्द की समस्या हो सकती है, ऐसे में यदि महिला गर्भवती है तो इस परेशानी का सामना महिला को अधिक भी करना पड़ सकता है। क्योंकि माइग्रेन के कारण होने वाला सिर दर्द और प्रेगनेंसी के दौरान होने वाला दर्द दोनों महिला के लिए असहनीय भी हो सकते हैं, ऐसे में आपको एक बार डॉक्टर से जरूर राय लेनी चाहिए।

तनाव

जो महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान मानसिक रूप से परेशान रहती है, चिंता करती रहती हैं तो इसके कारण भी महिला को सिर में दर्द जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में इस परेशानी से निजात पाने के लिए और प्रेगनेंसी के दौरान स्वस्थ रहने के लिए गर्भवती महिला को तनाव लेने से बचना चाहिए और जितना हो सके खुश रहने की कोशिश करनी चाहिए।

डीहाइड्रेशन

प्रेगनेंसी के दौरान पानी का भरपूर सेवन करने से न केवल गर्भवती महिला को बल्कि गर्भ में पल रहे शिशु को भी फायदा मिलता है। लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला के शरीर में पानी की कमी होती है तो इसके कारण गर्भवती महिला को सिर में दर्द की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

एक्सरसाइज

थोड़ा बहुत एक्सरसाइज करना प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को फिट रखने में मदद करता है साथ ही इससे बॉडी में ब्लड फ्लो को बेहतर तरीके से सभी अंगो तक पहुँचने में मदद मिलती है और महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। लेकिन यदि महिला सारा दिन आराम करती है और बिल्कुल भी मूवमेंट नहीं करती है तो इससे ब्लड फ्लो अच्छे से नहीं हो पाता है जिसके कारण सिर में दर्द जैसी समस्या का सामना महिला को करना पड़ सकता है।

कैफीन

कैफीन का अधिक मात्रा में सेवन करने से गर्भवती महिला को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, ऐसे में यदि प्रेगनेंसी से पहले यदि महिला कैफीन का अधिक सेवन करती थी और अब नहीं करती है। तो महिला के रूटीन में आने वाले बदलाव के कारण भी महिला को सिर दर्द जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

फ्लू

खांसी, जुखाम, बुखार, आदि के होने पर भी गर्भवती महिला को सिर में दर्द जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में महिला को फ्लू के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत बात करनी चाहिए क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान फ्लू की समस्या का अधिक होना गर्भवती महिला के लिए और शिशु के लिए परेशानी खड़ी कर सकता है।

तो यह हैं कुछ कारण जिनकी वजह से प्रेगनेंसी के दौरान महिला सिर में दर्द की समस्या से परेशान हो सकती है। ऐसे में गर्भवती महिला को अपनी सेहत का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए, तनाव नहीं लेना चाहिए, बॉडी को आराम देना चाहिए, नींद भरपूर लें, थोड़ा व्यायाम करें, योगासन व् मैडिटेशन करें, आदि। इन सभी टिप्स को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं ताकि प्रेगनेंसी के दौरान सिर दर्द के अलावा अन्य परेशानियों से बचाव करने और गर्भवती महिला को फिट रहने में मदद मिल सके।

Leave a Comment