प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण और उपचार

प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण और उपचार, गर्भावस्था में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण और उपचार, प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण, प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के उपचार, pregnancy me breast se pani, garbhavastha me breast se pani aane ke karan or upchaar

0

क्या आप भी प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से आने वाले सफ़ेद पानी की समस्या से परेशान है? यदि हाँ तो यह गर्भावस्था के दौरान होने वाली एक आम समस्या है। शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव के साथ महिला के ब्रैस्ट में शिशु के लिए दूध तैयार हो रहा होता है। जिसके कारण आपको ब्रैस्ट में से पानी आने की परेशानी हो सकती है। कई महिलाओ को यह पहली और दूसरी तिमाही तो कई महिलाओ को पूरी प्रेगनेंसी के दौरान ब्रैस्ट में से पानी आता है।

इस पानी का रंग दूध जैसा होता है जिसे कोलोस्ट्रम के नाम से जाना जाता है। यह पानी कोलोस्ट्रोन का ही रूप होता है, जो की शिशु के जन्म के बाद उसे अच्छे से पोषण देने के काम आता है। क्योंकि इसमे शिशु के विकास के लिए सभी जरुरी तत्व मौजूद होते हैं। और साथ ही इससे शिशु की प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने में मदद मिलती है। ऐसे में आपको इसे लेकर परेशान नहीं होना चाहिए।

शिशु के जन्म के बाद जैसे ही वो माँ का दूध पीने लगता है। तो ब्रैस्ट में दूध बनने लगता है, और जैसे जैसे बच्चा आपका फीड लेता है तो बॉडी में ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन बनने लगता है। जिससे आपका गर्भाशय भी अपनी सही स्थिति में आने लगता है। और शिशु के दो से चार दिन स्तनपान करने के बाद कोलोस्ट्रम बनना बंद हो जाता है, और दूध बनना शुरू हो जाता है। तो आइये जानते हैं की प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कौन कौन से कारण होते है।

प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण:-

  • थायरॉयड की समस्या होने पर भी आपको अधिक पानी आने की समस्या हो सकती है।
  • ब्रैस्ट में इन्फेक्शन होने के कारण।
  • यदि आपके ब्रैस्ट में गांठ या कैंसर की समस्या है तो भी आपको यह परेशानी हो सकती है।
  • यदि आप ज्यादा टाइट ब्रा या कपडे पहनते हैं तो उससे रगड़ लगने के कारण भी आपको ब्रैस्ट से पानी आने की समस्या होती है।
  • प्रेगनेंसी के दौरान स्तन में दूध बनने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है जो की शिशु के विकास के लिए बहुत जरुरी होता है, इसके कारण ब्रैस्ट से पानी आने लगता है।

ब्रैस्ट से पानी आने की समस्या का समाधान:-

डॉक्टर की राय लें:-

यदि प्रेग्नेंट महिला के ब्रैस्ट से दूध अधिक आता है, तो उसे डॉक्टर से राय जरूर लेनी चाहिए। लेकिन डॉक्टर से भी तभी मिलना चाहिए जब आपके एक ब्रैस्ट में से तो पानी आता है, और दूसरे में से नहीं आता है। इसके अलावा यदि पानी के साथ आपके ब्रैस्ट में पानी के साथ खून भी आता है तो भी डॉक्टर से जल्दी मिलना चाहिए। और यदि आप प्रेग्नेंट नहीं हैं और फिर भी यह पानी आता रहता है तो भी आपको डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए।

पैडेड ब्रा का इस्तेमाल करें:-

कई महिलाओ को प्रेगनेंसी के दौरान ब्रैस्ट से अधिक पानी आने लगता है। ऐसे में महिला को कही बाहर जाने पर या किसी के सामने ऐसा होने पर शर्म का अहसास होता है। इसीलिए आपको इस समस्या से बचने के लिए पैडेड ब्रा का इस्तेमाल करना चाहिए। क्योंकि यह पानी को सोख लेता है, जिससे आपको इस परेशानी से बचने में मदद मिलती है।

तो ये है कुछ कारण जिनकी वजह से आपको प्रेगनेंसी के दौरान ब्रैस्ट से सफ़ेद पानी आने की समस्या हो सकती है। गर्भावस्था के दौरान केवल ब्रैस्ट से पानी ही नहीं, बल्कि निप्पल्स के रंग में बदलाव, उनका चौड़ा होना, ब्रैस्ट में भारीपन आना, आदि आम बात होती है। ऐसे में आप चाहे तो इस बारे में एक बार अपने डॉक्टर से भी राय ले सकती है।

प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण और उपचार, गर्भावस्था में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण और उपचार, प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के कारण, प्रेगनेंसी में ब्रैस्ट से पानी आने के उपचार, pregnancy me breast se pani, garbhavastha me breast se pani aane ke karan or upchaar, pregnancy ke dauran stan se pani aane ki samasya