Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी में इन कास्मेटिक का इस्तेमाल नहीं करें?

प्रेगनेंसी में महिलाओ को बहुत सी ऐसी चीजो से परहेज करना पड़ता है, या आप कह सकते है की उन्हें कुर्बानी देनी पड़ती है, क्योंकि यदि आप इनका इस्तेमाल करती है, तो इसके कारण आपकी बॉडी का हार्मोनल स्तर प्रभावित होता है, जिसके कारण शिशु और उसके विकास पर बुरा असर पड़ सकता है, जैसे की आपका मन कई बार कुछ चटपटा या तीखा खाने का करता है, तो आप जंक फ़ूड का सेवन नहीं कर सकते है क्योंकि कई बार इसका असर आपके गर्भ में पल रहे शिशु पर बुरा असर पड़ता है, और घर में महिलाओ को वो स्वाद नहीं आ पाता है, तो आपको इससे परहेज करना पड़ता है।

-- Advertisement --

इन्हें भी पढ़ें:- प्रेगनेंसी चेक करने के ये घरेलु तरीके! यहाँ तक की टूथपेस्ट से भी आप चेक कर सकती है

make up

आप ये तो जानते ही है, की महिलायें अपनी ख़ूबसूरती का कितना ध्यान रखती है, परन्तु उन्हें प्रेगनेंसी में इन चीजो के प्रयोग से भी परहेज करना पड़ता है, क्योंकि इनमे केमिकल अधिक मात्रा में होता है, जो की आपके हॉर्मोन को प्रभावित कर सकता है, और गर्भ में पल रहे शिशु की सेहत पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है, जैसे की इसमें एंडोक्राइन डिस्रप्टर्स जैसे केमिकल्स होते है, जो की हार्मोनल स्तर को खराब करते है, बीपीए, एट्रेज़ाइन, फ्थालेट्स, डाइऑक्सिन और पेरिक्‍लोरेट आदि कुछ एंडोक्राइन डिस्रप्टर्स है जो आपके लिए प्रेगनेंसी में नुकसानदायक हो सकते है, इसीलिए आपको इनके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए, और यदि आप इनका इस्तेमाल करना चाहते है तो ध्यान रखें की आप ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें जिनमे एंडोक्राइन डिस्रप्टर्स की मात्रा अधिक हो, और आप चाहे तो इस बारे में अपने डॉक्टर से भी राय ले सकते है, तो आइये अब जानते है की आपको प्रेगनेंसी में कौन कौन से कॉस्मेटिक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

परफ्यूम का इस्तेमाल नहीं करें:-

परफ्यूम्स में फ्थालेट्स नामक एंडोक्राइन डिस्रप्टर होता है, जो की महिलाओ के एंडोक्राइन सिस्टम को प्रभावित करता है, और जिसके कारण महिला को डिलीवरी में परेशानी, ट्यूमर या फिर गर्भ में पल रहे शिशु का ठीक तरह से विकास नहीं हो पाता है।

लोशन या क्रीम का इस्तेमाल नहीं करें:-

प्रेगनेंसी के दौरान आपको डॉक्टर की सलाह के बिना किसी तरह की क्रीम या लोशन का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए, क्योंकि इनका इस्तेमाल भी आपके गर्भ मे पल रहे शिशु पर बुरा असर डालता है, जिसके कारण आपको समस्या हो सकती है।

हेयर डाई का इस्तेमाल न करें:-

हेयर डाई में अमोनिया की मात्रा अधिक होती है, इसीलिए आपको प्रेगनेंसी के समय में हेयर डाई का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसके कारण फेफड़ो, और त्वचा को नुकसान पहुचता है, और यदि आप डाई का इस्तेमाल करना चाहती है तो आप ऐसी डाई का इस्तेमाल करें जो की अमोनिया से रहित हो।

नेल पेंट का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए:-

प्रेगनेंसी के दौरान नेल पेंट का प्रयोग आपके लिए और भी हानिकारक हो सकता है, क्योंकि इसमें मिथाइलबेंजीन और टॉल्यून जैसे हानिकारक तत्व मौजूद होते है, जो की आपके शरीर में कैंसर के कारक की मात्रा को बढाते है, और जिसके कारण आपको नुकसान होने के साथ शिशु पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।

इन्हें भी पढ़ें:- प्रेगनेंसी में पहले तीन महीने तक ये सावधानी बरतें

हेयर रिमूवल क्रीम  का इस्तेमाल भी न करें:-

हेयर रिमूवल क्रीम में भी जहरीले तत्व होते है, और साथ ही शिशु पर भी इनमें थाइओग्लाइकोलिक एसिड मौजूद होता है, इसीलिए जितना हो सकें आपको इनके इस्तेमाल से प्रेगनेंसी में परहेज करना चाहिए।

लिपस्टिक और आई शेडो का इस्तेमाल न करें:-

लिपस्टिक और आई शेडो में भी सीसा की मात्रा बहुत अधिक होती है, जो की जहरीले तत्व का काम आपके शरीर में करता है, और गर्भवती महिलाओ में और स्तन पान कराने वाली महिलाओ में यह तत्व प्लेसेंटा और दूध ग्रंथियों से गुजरता है, जिसके कारण शिशु के विकास पर इसका बहुत बुरा असर पड़ता है, इसीलिए जितना हो सकें महिलाओ को इसके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए।

अपने डॉक्टर से राय लें:-

आप चाहे तो इस बारे में अपने डॉक्टर से भी राय ले सकती है, और उनसे विस्तार से पूछ भी सकती है की ऐसे कौन से कास्मेटिक है जिनका इस्तेमाल उन्हें नहीं करना चाहिए, जिनसे उन्हें शिशु पर बुरा असर पड़े, और कौन से ऐसे प्रोडक्ट है जिनका इस्तेमाल वो कर सकती है, और उसका बुरा असर भी उनके शिशु पर नहीं पड़ेगा।

तो ये कुछ कास्मेटिक है जिनका इस्तेमाल आपको प्रेगनेंसी में नहीं करना चाहिए, इसके अलावा आपको अपने खान पान या स्वास्थ्य का भी अच्छे से ध्यान रखना चाहिए, और ऐसा कोई भी काम या लापवाही नहीं करनी चाहिए जिसका बुरा असर आपकी सेहत या फिर आपके गर्भ में पल रहे शिशु पर इसका बुरा असर पढ़ें।

इन्हें भी पढ़ें:- प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने तक भूल कर भी क्या-क्या नहीं करना चाहिए

Leave a comment