Ultimate magazine theme for WordPress.

प्रेगनेंसी में मूली व् गाजर खाने के फायदे

0

प्रेगनेंसी में मूली व् गाजर खाने के फायदे, गर्भावस्था के दौरान मूली खाने के फायदे, गर्भवती महिला को गाजर खाने के फायदे, Benefits of eating carrot during pregnancy, Benefits of eating Radish during Pregnancy

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अपने खान पान का बेहतर तरीके से ध्यान रखना पड़ता है, क्योंकि महिला का बेहतर खान पान न केवल गर्भवती महिला को स्वस्थ रखने में मदद करता है, बल्कि इससे गर्भ में पल रहे शिशु का विकास भी बेहतर तरीके से होने में मदद मिलती है। तो आज हम प्रेगनेंसी के दौरान आपको गाजर व् मूली खाने के फायदे बताने जा रहें हैं, जिन्हे आप सब्ज़ी या सलाद के रूप में खा सकते हैं, साथ ही गाजर का जूस बनाकर भी उसका सेवन कर सकते हैं। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं गाजर और मूली खाने से प्रेगनेंसी के दौरान आपको कौन से फायदे मिलते हैं।

प्रेगनेंसी में मूली खाने के फायदे

मूली का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान महिला को भरपूर करना चाहिए, क्योंकि इसके कारण महिला को बहुत से फायदे मिलते हैं जो प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली बहुत सी परेशानियों से महिला को निजात दिलाने में मदद करते हैं।

ब्लड प्रैशर को नियंत्रित करता है

प्रेगनेंसी के दौरान रक्तचाप का बढ़ना परेशानी का कारण बन सकता है, लेकिन यदि आप मूली का सेवन करती है तो इसके कारण आपकी उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

शुगर कण्ट्रोल करता है

गर्भावस्था के दौरान यदि महिला को अपनी शुगर के कारण होने वाली परेशानी से बचाव करना है और साथ ही शुगर को नियंत्रित करना है, तो महिला को नियमित एक मूली का सेवन जरूर करना चाहिए।

बवासीर के लिए

प्रेगनेंसी के दौरान वजन बढ़ने के कारण मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है, जिसके कारण महिला को बवासीर जैसी समस्या से परेशान होना पड़ सकता है। लेकिन यदि महिला प्रेगनेंसी के दौरान मूली का सेवन करती है। तो ऐसा करने से पाइल्स की समस्या से बचाव करने में मदद मिलती है।

पेट सम्बन्धी समस्या से बचाव करती है

मूली का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान करने से महिला को पेट सम्बन्धी समस्या जैसे कब्ज़, एसिडिटी आदि की परेशानी से निजात मिलता है। साथ ही यह पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में भी मदद करता है, क्योंकि इसमें घुलनशील फाइबर भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। इसके अलावा मूली का सेवन करने से किडनी को स्वस्थ रखने में भी मदद मिलती है जिससे शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकलते है, और प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला और शिशु दोनों को ही स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।

हाइड्रेट रहते हैं

मूली में पानी भी अधिक मात्रा होता है जिसके कारण प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी को हाइड्रेट रहने में भी मदद मिलती है, और आपको पानी की कमी के कारण होने वाली परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है।

स्किन के लिए

प्रेगनेंसी के दौरान स्किन से जुडी समस्याएं भी हो सकती है, ऐसे में दाग धब्बो से बचने के लिए आप यदि मूली की स्लाइस काटकर त्वचा को उससे साफ़ करती है तो ऐसा करने से प्रेगनेंसी के दौरान आपको अपनी स्किन की सुंदरता को बढाए रखने में मदद मिलती है।

वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है

मूली में फाइबर अधिक मात्रा में होता है, साथ ही इसमें पानी की मात्रा भी अधिक होती है जिसके कारण यह प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में अधिक फैट का जमाव नहीं होने देती है। और प्रेगनेंसी के दौरान भी आपके वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।

यूट्यूब विडिओ –

गर्भावस्था में मूली खाने के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान गाजर खाने के फायदे

विटामिन इ, कैल्शियम, फाइबर, आयरन व् अन्य गुणों से भरपूर गाजर का सेवन भी प्रेगनेंसी के दौरान बहुत फायदेमंद होता है, गर्भवती महिला इसे सलाद सब्ज़ी, या इसका जूस निकालकर भी इसका सेवन कर सकती है। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की प्रेगनेंसी के दौरान गाजर का सेवन करने से कौन कौन से फायदे मिलते हैं।

खून की कमी पूरी होती है

प्रेगनेंसी के दौरान खून की कमी के कारण महिला को एनीमिया की समस्या होने के साथ डिलीवरी के समय भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन यदि महिला नियमित गाजर का सेवन करती है, या एक गिलास गाजर का जूस पीती है तो इसके कारण महिला के शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने में मदद मिलती है। साथ ही इसके सेवन से बॉडी में नए ब्लड का निर्माण भी होता है।

यूरिन इन्फेक्शन

कई महिलाओं को प्रेगनेंसी के समय यूरिन इन्फेक्शन की समस्या से परेशान होना पड़ता है, लेकिन गाजर का सेवन आपकी इस परेशानी को खत्म करने में भी आपको मदद करता है। आप इसके लिए गाजर के मुरब्बे का सेवन भी कर सकते हैं।

कमजोरी दूर करता है

प्रेगनेंसी के दौरान गाजर का सेवन आपको ऊर्जा से भरपूर रखने में भी मदद करता है। गाजर का सेवन करने से शरीर में आई कमजोरी को दूर करने में और थकावट जैसी परेशानी से निजात पाने में भी आपको फायदा मिलता है।

भ्रूण के विकास के लिए फायदेमंद

शिशु के विकास के लिए जरुरी पोषक तत्व की कमी को पूरा करने में भी गाजर का सेवन आपकी मदद करता है। इसीलिए प्रेगनेंसी के दौरान शिशु के बेहतर विकास के लिए भी गाजर का सेवन आपको जरूर करना चाहिए।

इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण इम्यून सिस्टम कमजोर पड़ सकता है, जिसके कारण आपको परेशानी हो सकती है, ऐसे में गाजर का सेवन करने से आपकी इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ फायदे जो आपको प्रेगनेंसी के दौरान मूली व् गाजर खाने से मिलते हैं, तो यदि आप भी गर्भवती है और गर्भावस्था के दौरान होने वाली परेशानियों से बचना चाहती हैं और स्वस्थ रहना चाहती हैं तो आपको भी प्रेगनेंसी के दौरान मूली व् गाजर का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

यूट्यूब विडिओ –

गर्भावस्था में गाजर खाना कितना जरुरी है जानिये?