गर्मियों में लू से बचाव के उपाय

गर्मियों के दिन आते ही हम घर से बाहर निकलना नजर अंदाज करते है। पर हम जितनी भी कोशिश करे स्कूल, ऑफिस, कॉलेज या घर का जरुरी समान लेने के लिए तो बाहर निकलना ही पड़ता है। इन गर्मियों में गर्म तपती हवा लगने के कारण लू लगने का खतरा बना रहता है। लू लगने से चक्कर आना, जी घबराना, उलटी, बुखार जैसी परेशानियां होने लगती है।

लू लगने का ज्यादा खतरा मई और जून के महीने में होता है। अक्सर आपने देखा होगा के यह महीने शुरू होते ही घर के बड़े सावधान रहने की सलाह देते है और यह  जरुरी भी होता है क्योंकि कई बार लू का इतना गहरा असर पड़ता है के बहुत से शारीरिक दुष्प्रभाव झेलने पड़ते है।

आइये जानते है के लू से बचने के क्या उपाय है।

पानी

लू का खतरा उन लोगो को ज्यादा होता है जिन लोगो के शरीर में पानी की कमी होती है। ज्यादा समय तक गर्म हवा और धूप में रहने से शरीर का पानी सूखने लगता है या फिर शरीर का पानी पसीने के रूप में बाहर आता है पर जिसके शरीर में पहले से ही पानी की कमी होगी उसके लिए लू का खतरा और बढ़ जाएगा। इसीलिए अपने शरीर में पानी की कमी ना होने दे, रोजाना 8 से 10 ग्लास पानी का सेवन जरूर करे। अगर सादा पानी न पी पा रहे हो तो अपनी रोजाना की तरल मात्रा को बढ़ाये जैसे की छाछ, लस्सी, शरबत, फलो का रस आदि।

कॉफी, चाय और शराब

कॉफ़ी, चाय और शराब में हानिकारक तत्व होते है। इनका सेवन करने से बार पेशाब आता है क्योंकि शरीर नार्मल प्रक्रिया से इनके हानिकारक तत्वों को शरीर से बाहर निकालने की कोशिश करता है। ऐसे में शरीर में पानी की कमी हो जाती है और लू लगने का खतरा बढ़ जाता है। इसके अतिरिक्त तीनो ही चीजों की तासीर गर्म होती है यह शरीर में जाकर और गर्मी बनाते है, इसीलिए गर्मियों में इनके अधिक सेवन से बचना चाहिए।

कच्चा प्याज

रोजाना कच्चे प्याज के सेवन से लू लगने का खतरा कम हो जाता है। इसीलिए आप अपने भोजन में कच्चे प्याज को सलाद की तरह जरूर शामिल करें। अगर गलती आपको लू लग भी चुकी है तो भी प्याज के इस्तेमाल से लू का असर खत्म किया जा सकता है। प्याज को घिस कर उसका रस निकाल लें। अब इस रस को कानो और छाती पर मले इस प्रक्रिया को करने से लू का असर खत्म हो जाएगा।

अदरक का टुकड़ा

लू के असर से बचने के लिए एक छोटा सा अदरक का टुकड़ा लें और उसे अपनी पीने वाली पानी की बोतल में डालकर रखें और उसी पानी का सेवन करे। इस तरह छोटा सा अदरक का टुकड़ा आपको गर्मियों की गर्म हवाओं से बचाएगा।

नारियल पानी

नारियल पानी बहुत से विटामिन्स और मिनरल्स से युक्त होता है। और इसकी खास बात यह है के इसकी तासीर ठंडी होती है। नारियल पानी में मौजूद मिनरल्स और फाइबर हमारे शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करते है। इसके अतिरिक्त नारियल पानी के सेवन से हमारे शरीर का तापमान भी ठंडा रहता है।

सर ढंके

गर्मियों में जब भी घर से बाहर निकले तो अपना सर ढंक कर निकले। क्योंकि गर्म हवा का असर सबसे पहले सर पर ही होता है। इसीलिए घर से निकलते समय छाते का प्रयोग करें और अगर छाता ना हो तो किसी सूती दुपट्टे से अपना सर और मुँह ढंके।

मटके का पानी

अकसर गर्मियों में हम लोग बाहर से आते ही सबसे पहले फ्रीज़ खोलकर फ्रीज़ का ठंडा पानी पीते है। पर ऐसा ना करे फ्रीज़ का पानी भी नुकसानदेह होता है फ्रीज़ की जगह मिटटी के मटके का पाने पीये यकीन मानिये उससे आपकी प्यास भी बुझेगी और यह आपको नुकसान भी नहीं पहुंचाएगा। मटके का प्राकृतिक रूप से ठंडा होता है, इसीलिए इससे शरीर सर्द-गर्म नहीं होगा और लू का खतरा भी नहीं बढ़ेगा।

ईमली का रस

गर्मियों में ईमली और शक़्कर मिलकर शरबत बना लीजिये और इस शरबत का सेवन करे। इससे भी आपका लू से बचाव होगा। ईमली कर शरबत बनाने के लिए ईमली को रात भर के लिए पानी में भिगो कर रखे और सुबह उठकर पानी को छान लें अब अपने स्वादानुसार इसमें शक़्कर और थोड़ा सा ठंडा पानी और मिलाये और इसका सेवन करें।

पुदीने का सेवन

पुदीना भी प्राकृतिक कूलर का कार्य करता है इसीलिए इसका शरबत बनाकर या चटनी बनाकर आप इसका सेवन कर सकते है। यह आपके शरीर को ठंडा रखने में मदद करेगा और लू से आपका बचाव करेगा।

यह सभी उपाय आप अपनी रसोईघर से ही कर सकते है। यह सभी चीजे आपके रसोई में आपको मिल जाएंगी। इसके अतिरिक्त गर्मियों के मौसम में हल्के रंग के सूती कपडे पहने जो आपके शरीर को ठंडा रखने में मदद करे और अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखे। पानी वाले फलों और सब्जियों का अच्छे से सेवन करे। पहले से कटे हुए फलो और सब्जियों का प्रयोग ना करे।