Ultimate magazine theme for WordPress.

गर्भ में शिशु को गोरा करने के लिए प्रेग्नेंट महिला खाए यह तीन फल

0

गर्भावस्था में शिशु का रंग गोरा

जन्म के बाद नहीं बल्कि गर्भ से ही महिला शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास को बेहतर करने की तैयारी में लग जाती है। क्योंकि हर महिला चाहती है की उसके गर्भ में पल रहा शिशु सूंदर, बुद्धिमान व् गोरा हो और गर्भ में शिशु के विकास में किसी भी तरह की कमी न आए। और इसके लिए प्रेगनेंसी के दौरान महिला अपने खान पान से लेकर अपनी छोटी छोटी चीजों का अच्छे से ध्यान रखती है। और घर के सदस्य हो या रिश्तेदार हर कोई आपको प्रेगनेंसी के दौरान अपनी अपनी राय देता है। जैसे की कुछ लोग महिला के लक्षण को देखकर यह अंदाज़ा लगाते हैं की गर्भ में पल रहा शिशु बेटा है या बेटी, वहीँ कुछ सदस्य गर्भ में पल रहा शिशु गोरा हो इसके लिए अपने खान पान में कुछ चीजों को शामिल करने की सलाह देते हैं।

गर्भ में पल रहा शिशु गोरा हो इसके लिए गर्भवती महिला खाएं यह फल

गर्भ में पल रहे शिशु का विकास पूरी तरह से महिला पर निर्भर करता है और शिशु को गर्भनाल के माध्यम से शिशु के लिए जरुरी सभी पोषक तत्व भी पहुंचाए जाते हैं। तो लीजिये अब जानते हैं की वो कौन से तीन फल है जिनका सेवन यदि प्रेग्नेंट महिला करती है तो उससे शिशु की रंगत में निखार लाने में मदद मिलती है।

संतरा

खट्टा मीठा स्वाद होने के साथ विटामिन सी जैसे पोषक तत्वों से भरपूर संतरा प्रेगनेंसी के दौरान महिला को पसंद आ सकता है। साथ ही इसमें पानी की मात्रा भी अधिक होती है जिससे प्रेग्नेंट महिला को पानी की कमी के कारण होने वाली परेशानी से निजात पाने में मदद मिलती है। इसके अलावा संतरे में मौजूद विटामिन सी और भरपूर पानी शिशु की स्किन को भी पोषण पहुंचाता है, जिससे स्किन को निखारने में मदद मिलती है। इसीलिए गर्भवती महिला को नियमित एक संतरा खाने की सलाह भी दी जाती है।

अंगूर

पर्याप्त मात्रा में अंगूर का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को न केवल स्वास्थ्य सम्बन्धी फायदा मिलता है। बल्कि इससे गर्भ में पल रहे शिशु की रंगत में निखार लाने में मदद मिलती है। क्योंकि अंगूर में मौजूद अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड प्रेग्नेंट महिला के स्वास्थ्य और शिशु की रंगत को गोरा करने दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इसीलिए गर्भ में पल रहे शिशु की रंगत को निखारने के लिए पर्याप्त मात्रा में नियमित गर्भवती महिला अंगूर का सेवन कर सकती है।

नारियल

नारियल में भी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो न केवल गर्भवती महिला के लिए बल्कि गर्भ में पल रहे शिशु के लिए भी फायदेमंद होते है। नारियल का सेवन करने से गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक विकास के साथ शिशु की स्किन टोन को भी सुधारने में मदद मिलती है। इसीलिए गर्भ में पल रहे शिशु की रंगत में निखार लाने के लिए प्रेग्नेंट महिला नारियल का सेवन भी कर सकती है, इसके अलावा महिला चाहे तो नारियल पानी का सेवन भी भरपूर मात्रा में कर सकते हैं।

तो यह हैं वो तीन फल जिनका सेवन प्रेग्नेंट महिला यदि करती है तो इससे महिला को प्रेगनेंसी के दौरान आने वाली परेशानियों को कम करने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर शारीरिक विकास और शिशु की स्किन टोन को निखारने में भी मदद मिलती है।