इन चीजों को पीने के बाद गर्भ गिर जाता है

इन चीजों को पीने के बाद गर्भ गिर जाता है
0

अनचाहा गर्भ

माँ बनने की ख़ुशी किसी भी महिला के लिए बहुत अहम होती है, लेकिन यदि महिला बिना प्लानिंग के गर्भधारण कर ले, तो यह ख़ुशी से ज्यादा महिला के लिए परेशानी का कारण बन सकता है, ऐसे में महिला गर्भपात करवाने की कोशिश कर सकती है। अनचाहे गर्भ का कारण सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का इस्तेमाल न करना हो सकता है, यदि गर्भ थोड़े दिन का हो तो इसे आसानी से गिराया जा सकता है, लेकिन गर्भ यदि तीन महीने का हो जाए तो इसके लिए डॉक्टर से राय लेना ही बेहतरीन विकल्प होता है। ऐसे में कुछ महिलाएं घरेलू तरीको का इस्तेमाल करके इस परेशानी से निजात पा सकती है, तो कुछ डॉक्टर की राय लेना पसंद करती है।

अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए पेय पदार्थ

केवल दवाई का सेवन करने से या खाने पीने की चीजों का सेवन करने से ही गर्भपात नहीं होता है, बल्कि कुछ ऐसे पेय पदार्थ भी हैं जिनका जिन्हे पीने से भी गर्भपात की सम्भावना को बढ़ाया जा सकता है। तो आइये आज हम आपको कुछ ऐसे ही पेय पदार्थो के बारे में बताने जा रहे हैं।

पुदीने का तेल या चाय

यदि महिला दिन में तीन से चार बार खाने में या वैसे ही दो से तीन बूँदे पुदीने के तेल डालकर उसका सेवन करें, या फिर दिन में तीन से चार बार पुदीने की चाय का सेवन करें। क्योंकि इससे बॉडी का तापमान बढ़ता है, जिससे यह गर्भपात करने के लिए यह एक असरदार नुस्खे की तरह काम करता है।

ग्रीन टी

ग्रीन टी का सेवन करने से बॉडी को बहुत फायदा मिलता है, लेकिन गर्भवती महिला को इसका सेवन न करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि इसका सेवन करने से गर्भपात के चांस बढ़ जाते हैं, लेकिन यदि आप गर्भपात करना चाहती है तो दिन में तीन से चार बार ग्रीन टी का सेवन जरूर करना चाहिए।

कैफीन

कॉफ़ी, चाय, ब्लैक टी में कैफीन बहुत अधिक मात्रा में होता है। और कैफीन का सेवन अधिक मात्रा में करने से गर्भाशय में संकुचन की सम्भावना बढ़ जाती है। गर्भाशय में अधिक संकुचन का होना गर्भपात की सम्भावना को बढ़ाता है, ऐसे में महिला गर्भपात करने के लिए इस उपाय का इस्तेमाल भी कर सकती है, और जल्दी फायदे के लिए चाय में तुलसी, इलायची, आदि भी डाल सकते हैं।

बबूल के पत्ते

बबूल के पत्ते दो ग्राम लें, उसके बाद उसे उसे दो कप पानी में उबाल लें। पानी के आधा रहने तक उसे अच्छे से उबालते रहें, उसके बाद उसका सेवन करें। इस उपाय को नियमित दिन में दो बार तक तक करें जब तक गर्भपात नहीं हो जाता है।

अल्कोहल

अल्कोहल का सेवन भी गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए, क्योंकि प्रेगनेंसी में अल्कोहल का सेवन करने से गर्भवती महिला की सेहत पर बुरा असर पड़ने के साथ, गर्भ में भ्रूण के शारीरिक और मानसिक विकास पर बुरा असर पड़ते हैं। साथ ही इसके कारण महिला का गर्भपात भी हो सकता है, ऐसे में यदि आप ड्रिंक करती हैं, और गर्भपात करना चाहती है तो आप अल्कोहल का सेवन कर सकती है।

तो यह हैं कुछ पेय पदार्थ जिनके सेवन से गर्भपात की सम्भावना को बढ़ाने में मदद मिलती है। इसके अलावा एक बात का और ध्यान रखना चाहिए की गर्भपात होने के बाद गर्भाशय की जांच जरूर करवानी चाहिए की कहीं टिश्यू तो नहीं रह गए। क्योंकि यदि यह टिश्यू गर्भाशय में रह जाते हैं तो इसके कारण बाद में महिला को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।