Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

मोच का दर्द कम करने के तरीके

पैर में मोच आना आम बात है, यह कोई बिमारी नहीं है बल्कि कई बार आपके पैर के अचानक मुड़ जाने, किसी चोट लगने के कारण, मांसपेशियों में खिंचाव होने के कारण, खेल कूद करते समय, कई बार ऊँचे सैंडल पहनने के कारण, पैर स्लिप होने पर, आपको इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन यह बात भी सच है की मोच के कारण आपके पैर में बहुत अधिक दर्द होता है और कई बार सूजन भी हो जाती है, इसके लिए दवाइयों का सेवन करने से अच्छा होता है की आप घर में रखी सामग्री का इस्तेमाल करके इस समस्या से राहत पा सकते है, तो आइये जानते है की मोच से बचने के लिए आप क्या क्या कर सकते है।

-- Advertisement --

इन्हें भी पढ़ें:- यूरिन के दौरान दर्द के कारण और इससे बचने के उपचार

बर्फ का प्रयोग करें:-

मोच के दर्द को कम करने और यदि सूजन आ गई है तो उससे राहत पाने के लिए आपको बर्फ का प्रयोग करना चाहिए, आप इसे एक कपडे में लेकर मोच की जगह पर अच्छे से सिकाई करें, इससे आपके ब्लड फ्लो को सुधरने में मदद मिलेगी, इसे सूजन कम होने लगती है, साथ ही धीरे धीरे आपको दर्द से भी निजात मिल जाता है।

सरसों के तेल का उपयोग करें:-

इस उपाय को करने के लिए आप पांच से छह चम्मच सरसों का तेल लें, उसके बाद उसमे आधा चम्मच हल्दी ( आप हल्दी के पेस्ट का इस्तेमाल भी कर सकते हैं ) और पांच से छह लहसुन की की कलियों को पीसकर अच्छे से उसमे गरम कर लें, जब यह अच्छे से पाक जाएँ तो इस तेल से अपनी मोच की मसाज करें, यह आपकी मोच के लिए जादू का काम करेगा, मोच और दर्द को गायब करने में आपकी मदद करती है।

इन्हें भी पढ़ें:- चेहरे पर लगे चोट के निशान हटाने के तरीके!

हल्दी का प्रयोग करें:-

हल्दी एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होती है, मोच के दर्द के साथ यह आपको सूजन आदि से भी आराम दिलाने में मदद करती है, इसके इस्तेमाल के लिए आप एक या दो चम्मच हल्दी में पानी मिला लें, उसके बाद इस्पेसट को हल्का गरम करें, और इसे अच्छे से अपनी मोच पर थोड़ी देर के लिए लगाएं, और उसके बाद गुनगुने पानी से अपने पैरों को धो लें, ऐसा दिन में दो बार करें, और जब तक करें जब तक आपका पैर अच्छे से ठीक न हो जाए।

शहद और चूने का इस्तेमाल करें:-

मोच के दर्द से राहत पाने के लिए आप शहद और चूने का इस्तेमाल भी कर सकते है, इसके लिए आप बराबर मात्रा में शहद और चूने को मिलाकर अच्छे से अपनी मोच पर मसाज करें, ऐसा दिन में दो बार करें, इससे आपको फायदा मिलता है।

एलोवेरा जैल का इस्तेमाल करें:-

एलोवेरा में भी ऐसे गुण होते हैं जो आपको मोच के दर्द से राहत दिलाने में मदद करते है, इसके लिए आप एलोवेरा जैल को अच्छे से अपनी मोच पर लगाएं, और सूखने के लिए छोड़ दें, और उसके बाद अपने पैरों को गरम पानी से धो लें, ऐसा करने से भी आपको पैर की मोच के दर्द से राहत पाने में मदद मिलती है।

पान के पत्ते का इस्तेमाल करें:-

यदि आप अपनी मोच से राहत पाना चाहते हैं, तो आपको पान के पत्ते के चारों तरफ सरसों का तेल लगाकर अच्छे से उसे गरम करके आप अपनी मोच पर बाँध लें, उसके बाद आराम करें, जितना आप आराम करेंगे उतनी जल्दी आपको मोच से राहत पाने में मदद मिलेगी।

नमक और सरसों के तेल का इस्तेमाल करें:-

पैर की मोच से राहत पाने के लिए आपको तवे पर तीन से चार चम्मच सरसों के तेल में दो से तीन चम्मच नमक डालकर अच्छे से गरम करना चाहिए, जितना गरम आप सहन कर सकते है, उस पेस्ट के उतना गरम रहने पर आप किसी पट्टी की मदद से उसे बाँध लें, इस उपाय को रात में करें तो सारी रात के लिए इसे अपने पैर पर छोड़ दें, आपको इससे राहत मिलेगी।

तुलसी के पत्तो का इस्तेमाल करें:-

तुलसी के पत्तो का इस्तेमाल करने से भी आपको अपने पैर में दर्द की समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है, इसके लिए आप तुलसी के पत्तों को अच्छे से पीस लें, और अपनी मोच पर लगाकर बाँध लें, या फिर आप तुलसी के पत्तों का रस निकाल कर थोड़े से सरसों के तेल में गरम कर लें, और उससे अपने पैर की मसाज करें, आपको राहत पाने में मदद मिलेगी।

आराम करें:-

पैर की मोच से राहत पाने के लिए आपको एक बात का और ध्यान रखना चाहिए की जितना हो सकें आपको आराम करना चाहिए, क्योंकि यदि आप पैर की मोच आने पर अधिक चलने की कोशिश करते है, जिससे आपके पैर पर दबाव पड़ता है, इससे दर्द और सूजन दोनों ही बढ़ जाते है, इसीलिए यदि आप अपनी मोच से राहत पाना चाहते हैं, तो जितना हो सकें पैदल चलने से बचें और अपने पैर को आराम दें।

तो ये हैं कुछ उपाय जिनका इस्तेमाल करके आप मोच के दर्द व् सूजन से राहत पा सकते हैं, इसके अलावा आपको अपने पैर की मोच से राहत पाने के लिए गरम पानी में अपने पैरों की सिकाई करें, या गरम पट्टी बाँध कर रखें, लेकिन गरम पट्टी ज्यादा कस कर न बांधे, आपको आराम मिलेगा।

इन्हें भी पढ़ें:- चोट से नीली पड़ी त्वचा को ठीक करने के उपाय

 

Leave a comment