Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

होंठ फटने के क्या कारण है?

होंठ फटने के कारण, होंठ फटने की वजह, होंठ क्यों फटते है, होंठों के फटने का क्या कारण है, होंठ किस कारण से फटते है, होंठो के फटने की मुख्य वजह, होंठों के रूखे होने का कारण, होंठ फटने और रूखे होने के कारण, होंठ फटने की वजह और रूखे होने के कारण, सर्दियों में होंठ क्यों फटते है, गर्मियों में होंठों के फटने का कारण

-- Advertisement --

हमारी आँखे हो या हमारा चेहरा पर्सनालिटी में चार चाँद लगाने में मदद करता है। उसी प्रकार हमारे होंठ भी पर्सनालिटी को बढ़ाते है, परंतु कई बार होंठो के रूखे सूखे हो जाने के कारण उनमे फटने की समस्या होने लगती है।

वैसे तो अधिकतर ये समस्या सर्दी के समय होती है, लेकिन कई बार होंठो पर हमेशा होंठों पर जीभ लगाने, या फिर उन्हें दांत से काटने, लिप बाम का इस्तेमाल नहीं करने, या मुँह से सांस लेने के कारण भी होंठ फटने लगते है।

जिसका सीधा प्रभाव हमारी पर्सनालिटी पर पड़ता है। अगर आपके साथ भी अक्सर यही समस्या होती है तो पहले इस समस्या के कारण जान लें और आज हम आपको उन्ही कुछ कारणों के बारे में बतायेंगे जिनसे आपके होंठ फटते है।

होंठ फटने के निम्नलिखित कारण हो सकते है :-

1. होंठों को चेतना, चबाना या काटना :

बहुत से लोग होंठों के थोड़ा रुखा होने पर उन्हें चाटकर गीला कर देते है। जब की होंठों पर जीभ फिराने से थोड़ी देर बाद वे फिर से रूखे होने लगते है। और उन्हें फिर से नम करने की इच्छा होती है। जिसके बाद फिर से जीभ लगाते है। और यही प्रक्रिया काफी समय तक चलती रहती है। लेकिन बता दें इससे समस्या खत्म नहीं होती बल्कि होंठ और अधिक रूखे और बेजान हो जाते है। इसीलिए ऐसा कतई न करें।

2. धुप से बचाव :

यह पढ़े : फटे होंठों का इलाज

सूरज की तेज किरणे और गर्मियों में चलने वाली गर्म हवाएं होंठों से नमी सोख लेती है। जिससे होंठ रूखे हो जाते है। चेहरे पर तो सभी लोशन आदि का इस्तेमाल करते है लेकिन लिप्स के बारे में कोई नहीं सोचता। जिसके कारण उन्हें नमी नहीं मिल पाती और वे रूखे होने लगते है। तो अगली बार जब बाहर जाए तो होंठों पर भी लोशन और सनस्क्रीन लगाना न भूलें।

3. मुंह से साँस लेना :फटे होंठो को मुलायम करने की टिप्स

बहुत से लोगो अक्सर मुंह से साँस लेते है। हां, कई बार ये मज़बूरी हो सकती है। लेकिन बार बार इसे दोहराना आपकी आदत का संकेत है। क्योंकि जब हम मुंह से साँस लेते है तो हवा होंठों पर से गुजरती है जिससे वे उनसे नमी छीन लेती है और होंठ बेजान होकर फटने लगते है। वैसे ये समस्या अधिकतर खर्राटे लेने वालों में अधिक देखने को मिलती है। इसलिए अपनी इस आदत को बदले और मुंह से साँस लेना छोड़ दें।

4. खाद्य पदार्थ :

इनके अलावा भी हमारे मुंह के सम्पर्क में आने वाली ऐसी बहुत सी चीजें होती है जिनके कारण होंठों में सूखापन आ सकता है। टूथपेस्ट भी उन्ही में से एक है। अगर आपको लगता है की टूथपेस्ट में गड़बड़ है तो आप उसे बदल सकते है। साथ ही खट्टे फलों के सेवन से भी यह समस्या हो सकती है। टमाटर की चटनी, च्वेइंग गम, कैंडी का सेवन करने से भी होंठों में सूखापन आ सकता है।

5. पानी की कमी :

कई बार शरीर में आई पानी की कमी के कारण भी होंठ सूखने लगते है। अगर आपके होंठ बहुत अधिक सुख रहे है तो समझ लें की आपके शरीर में पाने की कमी है। इस स्थिति में धुप और हवा रूखेपन को बढ़ाने में मदद करती है। गर्मियों के मौसम में पानी की कम की कमी के कारण होंठ फटने की समस्या सबसे अधिक होती है।

6. विटामिन की कमी :

विटामिन बी की कमी के कारण भी होंठ सूखने और फटने की समस्या हो सकती है। इसके अलावा आयरन और फोलेट की कमी की वजह से भी यह समस्या हो सकता है। ऐसे में डॉक्टरी सलाह से इलाज करवाना बेहतर होता है। अगर आपको लगता है की होंठ बहुत अधिक सुख रहे है और स्वयं इलाज संभव नहीं तो एक बार डॉक्टर के पास जरूर जाए।

इसे भी पढ़े : होंठों की खूबसूरती बढ़ाने के तरीके

7. एलर्जी :

कई बार मुलती विटामिन के अन्य तत्वों के कारण एलर्जी हो जाती है जिससे होंठ सूखने या फटने की समस्या हो सकती है। लिपस्टिक उन एलर्जी के कारणों में से एक है। साथ ही जिन खानों में रंगों का इस्तेमाल किया जाता है वे भी इसके जिम्मेदार है।

8. बिमारी और दवाएं :

थायराइड , सिरोसिस , डायबिटीज आदि बीमारियों के होने से होंठ फटने की समस्या हो सकती है। कुछ अन्य बीमारी के कारण भी होंठ फटना या उनमे जलन सूजन आदि हो सकते है। कभी कभी कुछ दवाएं जैसे झुर्रियों या एक्ने , ब्लड प्रेशर आदि की दवा के कारण भी होंठ सूख कर फटने लगते है । यदि लंबे समय तक इस प्रकार की परेशानी बनी रहे तो डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लेना चाहिए।

Leave a comment