Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

सर्दियों में शिशु की त्वचा की देखभाल ऐसे करें

0

सर्दियों के मौसम में स्किन में रूखापन आना आम बात होती है इसीलिए सर्दियों में स्किन की एक्स्ट्रा केयर की जरुरत होती है। खासकर छोटे बच्चों की स्किन तो और भी ज्यादा कोमल और मुलायम होती है ऐसे में बच्चों की स्किन का भी खास ख्याल रखने की जरुरत होती है। क्योंकि यदि स्किन का अच्छे से ध्यान न रखा जाये तो स्किन रूखी व् बेजान हो जाती है जिसके कारण खुजली, स्किन फटने, जैसी समस्या होने का खतरा होता है। तो आइये अजा इस आर्टिकल में हम आपको सर्दियों में शिशु की त्वचा की देखभाल कैसे करनी चाहिए उसके बारे में कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं जिनसे शिशु की त्वचा को सर्दियों में भी कोमल व् मुलायम बने रहने में मदद मिलती है।

मालिश

छोटे बच्चों की रोजाना नहाने से पहले मालिश करनी चाहिए इससे बच्चे की स्किन को पोषण मिलता है साथ ही त्वचा में नमी बरकरार रहती है। जिससे सर्दियों में भी स्किन की कोमलता भी बरकरार रहती है। इसके अलावा मालिश करने से बच्चे की हड्डियों को पोषण भी मिलता है और शरीर में ब्लड फ्लो भी अच्छे से होता है।

कच्चा दूध

नहलाने से पहले बच्चे की स्किन पर रुई की मदद से कच्चा दूध लगाएं ऐसा करने से स्किन को पोषण मिलता है साथ ही शिशु की रंगत भी निखरती है। जिससे सर्दियों के मौसम में भी शिशु की त्वचा की कोमलता को बरकरार रहने में मदद मिलती है।

मॉइस्चराइजर

शिशु की स्किन के लिए बहुत से प्रोडक्ट्स आते हैं जैसे की शिशु का शैम्पू, बॉडी वाश, मॉइस्चराइजर आदि। ऐसे में बच्चे की स्किन की कोमलता को बरकरार रखने के लिए बच्चे को रोजाना मॉइस्चराइजर लगाएं इससे स्किन को पोषण मिलता है जिससे शिशु की स्किन की नमी बरक़रार रहती है।

देसी घी

पुराने समय में शिशु की मालिश व् स्किन की कोमलता को बरकरार रखने के लिए देसी घी का इस्तेमाल किया जाता था और यह काफी फायदेमंद भी होता है। ऐसे में सर्दियों के मौसम में शिशु की स्किन की कोमलता को बरकरार रखने के लिए आप शिशु की देसी घी से मालिश करें ऐसा करने से शिशु की स्किन की कोमलता को बरकरार रखने में मदद मिलती है।

ज्यादा गर्म पानी से शिशु को नहीं नहलाएं

सर्दियों के मौसम में शिशु को गर्म पानी से ही नहलाना चाहिए लेकिन ध्यान रखें की पानी उतना ही गर्म हो जिससे शिशु को ठण्ड नहीं लगे। क्योंकि ज्यादा गर्म पानी से नहलाने के कारण भी शिशु की स्किन को नुकसान पहुँचता है। इसके अलावा जरुरत से ज्यादा साबुन आदि भी शिशु को न लगाएं क्योंकि इसकी वजह से भी शिशु की स्किन के रूखे होने की समस्या हो सकती है।

शिशु को सूती कपडे पहनाएं

सर्दियों में ठण्ड से बचाव के लिए ऊनी कपडे ही पहनने चाहिए लेकिन शिशु को सबसे पहले कोई सूती कपडा पहनाना चाहिए उसके बाद ऊनी कपडा पहनाना चाहिए। क्योंकि ऊनी कपडे जब शिशु की स्किन के संपर्क में आते हैं तो इससे स्किन पर लाल निशान, खुजली जैसी समस्या शिशु को होने का खतरा रहता है और सूती कपडे पहले पहनाने से इस समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

जरुरत से ज्यादा धूप में नहीं बिठाएं

सर्दियों के मौसम में शिशु के लिए धूप जरुरी होती है लेकिन शिशु को जरुरत से ज्यादा धूप में नहीं लिटाएं क्योंकि इससे भी स्किन नमी खोने लगती है जिससे शिशु की स्किन रूखी व् बेजान होने का खतरा रहता है।

जरुरत से ज्यादा नहीं नहलाएं

छोटे बच्चों की साफ सफाई का ध्यान रखते हुए रोजाना नहलाना अच्छी बात होती है। लेकिन सर्दियों के मौसम में रोजाना बच्चे को नहलाने के कारण बच्चे को ठण्ड लगने व् स्किन की नमी खोने की समस्या हो सकती है। ऐसे में आप एक दिन नहलाकर एक या दो दिन बच्चे को गीले कपडे से पोछ दें। इससे शिशु को ठण्ड भी नहीं लगेगी और शिशु की स्किन की कोमलता को बरकरार रहने में मदद मिलेगी। इसके अलावा शिशु को नहलाने के बाद मॉइस्चराइजर जरूर लगाएं।

तो यह हैं कुछ आसान टिप्स जिन्हे फॉलो करने से सर्दियों के मौसम में भी शिशु की स्किन की कोमलता को बरकरार रहने में मदद मिलती है। इसके अलावा शिशु के खान पान, नींद आदि का भी अच्छे से ध्यान रखना चाहिए ताकि शिशु को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

Baby skin care tips for winter

Leave a comment