Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi
Browsing Category

बच्चों की परवरिश

सर्दियों में शिशु की त्वचा की देखभाल ऐसे करें

सर्दियों के मौसम में स्किन में रूखापन आना आम बात होती है इसीलिए सर्दियों में स्किन की एक्स्ट्रा केयर की जरुरत होती है। खासकर छोटे बच्चों की स्किन तो और भी ज्यादा कोमल और मुलायम होती है ऐसे में बच्चों की स्किन का भी खास ख्याल रखने की जरुरत…
Read More...

जब शिशु के गाल फटने लगे तो यह जरूर करें?

सर्दी का मौसम आते ही स्किन थोड़ी शुष्क यानी की रूखी हो जाती है। और स्किन का रूखापन बढ़ने के कारण स्किन फटने लगती है जिसके कारण हल्का हल्का दर्द भी महसूस हो सकता है। और जब बात छोटे बच्चे की हो तो उसकी स्किन के लिए एक्स्ट्रा केयर की जरुरत पड़ती…
Read More...

नवजात शिशु के रोने के क्या-क्या कारण होते हैं?

छोटे बच्चों का रोना बहुत ही आम बात होती है ऐसे में जब बच्चे के रोने के बाद आप उसे खिलाते है, बुलाते हैं या गोद में उठा लेते हैं तो बच्चा चुप भी हो जाता है। लेकिन यदि बच्चा फिर भी रोता रहता है तो इसका मतलब यह होता है की बच्चे के रोने का कोई…
Read More...

नवजात शिशु को हमेशा गोद में क्यों नहीं रखना चाहिए?

छोटे बच्चे बहुत ही प्यारे और मासूम होते हैं उनकी हर छोटी से छोटी बात बहुत ही प्यारी और मन को मोह लेने वाली होती है। साथ ही आपके बच्चे की आदत कैसी होगी यह आप बच्चे की केयर कैसे करती है, बच्चे को रखती कैसे हैं इस बात पर निर्भर करती है। जैसे…
Read More...

फूंक मार-मार कर बेबी को खाना क्यों नहीं खिलाना चाहिए?

हर माँ चाहती है की उसका बच्चा हेल्दी रहे और इसके लिए महिला बच्चे के खान पान से लेकर हर छोटी छोटी बात का ध्यान रखती है। लेकिन कई बार देखा जाता है की महिलाएं जब अपने बच्चे को खाना खिलाती है तो वो वो खाने को पहले फूंक मारती हैं और उसके बाद…
Read More...

बेबी को खाना खिलाते समय यह गलतियां नहीं करें?

जन्म के छह महीने तक शिशु को माँ का दूध पिलाने की सलाह दी जाती है और इसके अलावा शिशु को और कुछ नहीं खिलाना या पिलाना चाहिए। लेकिन छह महीने के बाद धीरे धीरे शिशु को कुछ कुछ खिलाना शुरू किया जा सकता है जैसे की केला, उबला आलू, फलों का रस, दाल…
Read More...

ब्रेस्टफीडिंग छुड़वाने के तरीके

बच्चे के जन्म के बाद माँ के दूध के अलावा बच्चे के लिए और कोई उत्तम आहार नहीं होता है। इसीलिए बच्चे के जन्म के बाद कम से कम छह महीने तक बच्चे को माँ का दूध पिलाने की सलाह ही दी जाती है और कुछ बच्चे छह महीने नहीं बल्कि एक, डेढ़, दो साल या…
Read More...

ब्रेस्टफीडिंग करवाने से पहले यह जरूर करें?

बच्चे के जन्म के बाद कम से कम छह महीने तक माँ का दूध ही बच्चे के लिए सर्वोत्तम आहार होता है। क्योंकि माँ के दूध में वो सभी जरुरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो बच्चे के विकास के लिए जरुरी होते हैं। साथ ही माँ का दूध पीने से बच्चे का विकास…
Read More...

नवजात शिशु के हाथ पैर टेढ़े मेढ़े हैं? तो यह करें

प्रेगनेंसी के समय महिला अपना अच्छे से ध्यान रखती है क्योंकि जब महिला स्वस्थ रहती है तो इससे गर्भ में पल रहे बच्चे के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है। साथ ही यदि बच्चे के विकास के लिए सभी जरुरी पोषक तत्व उसे मिलते हैं तो इससे बच्चे को…
Read More...

रात को बिस्तर पर आपका बच्चा टॉयलेट नहीं करेगा करने होंगे यह काम

कई बच्चे होते हैं जिन्हे रात को सोते समय बीच में ही टॉयलेट निकल जाता है। बच्चों की यह आदत अच्छी तो नहीं है लेकिन छोटे बच्चों के साथ अकसर ऐसा हो जाता है। और इसमें घबराने की भी कोई बात नहीं होती है। लेकिन यदि बच्चा पांच साल की उम्र के बाद आठ…
Read More...
प्रेगनेंसी में चुकंदर जूस के अद्भुत फायदे कई महिलाओं का एक ब्रेस्ट बड़ा और एक छोटा क्यों होता है