Take a fresh look at your lifestyle.

जानिए बिच्छू के काटने के घरेलू इलाज

0

बिच्छू (Scorpion) को तो आप सभी जानते होंगे और हो सकता है कभी न कभी देखा भी होगा. बिच्छू एक प्रकार का बेहद खतरनाक कीड़ा होता है जो बहुत ही जहरीला होता है और यदि ये किसी मनुष्य को काट ले तो कुछ ही घंटो में उसके पुरे शरीर में ये जहर फ़ैल जाता है और उसकी मृत्यु भी हो सकती है.

इसके काटने पर होने वाली पीड़ा बहुत ही असहनीय होती है. और उसके काटने के बाद पुरे शरीर में जलन भी होती है जिसकी वजह से मनुष्य को बहुत परेशानियो का सामना करना पड़ता है. इसीलिए बिच्छू के काटने के बाद तुरंत पीड़ित व्यक्ति का उपचार किया जाना आवश्यक होता है.

बिच्छू के काटने पर सबसे पहले जहर को रोकना चाहिए ताकि जहर पुरे शरीर में न फैले. इसके लिए लोग उस स्थान पर (जहाँ बिच्छू ने डंक मारा है) वहां कस के पट्टी बांध देते है जिससे जहर शरीर के अन्य हिस्सो में न जा सके. इसके बाद बिच्छू के जहर को विभिन्न चिकित्साओं द्वारा बाहर निकाला जाता है.

आप चाहे तो इसके उपचार के लिए अपने किसी नजदीकी डॉक्टर के पास भी जा सकते है. परन्तु हर किसी के लिए ये संभव नहीं हो पाता. इसीलिए आज हम आपको बिच्छू के काटने पर किये जाने वाले घरेलु उपचारो के बारे में बताने जा रहे है.

बिच्छू कहां पाए जाते है?

ज़्यादातर बिच्छू पानी वाले क्षेत्रो के इर्द-गिर्द ही रहते है. नदी, तालाबो और उसके आस पास भी बिच्छू देखने को मिलते है. समुद्र के किनारे और विशेषकर किनारे की रेत में बिच्छू मिलते है. लेकिन ये रेत के ऊपर नहीं बल्कि उसके अंदर छुपे रहते है. जिससे कोई भी उन्हें आसानी से देख नहीं पाता.

बिच्छू के काटने पर प्रयोग किये जाने वाले घरेलु उपाय 

बिच्छू एक विषैला कीड़ा होता है जो अपने शिकार को डंक मरता है. उसके इस डंक में बहुत खतरनाक जहर पाया जाता है जो यदि किसी व्यक्ति के पुरे शरीर में फ़ैल जाये तो उसकी जान भी जा सकती है. इसीलिए इसके काटने पर सबसे पहले इसके जहर को शरीर में फैलने से रोका जाता है. उसके बाद इसके डंक को निकालने की प्रक्रिया शुरू की जाती है. इसके लिए अधिकतर लोग घरेलु उपायो का ही प्रयोग करते है. जबकि कुछ झाड़ा और मन्त्र आदि का प्रयोग करने में विश्वास रखते है.bichu karne ke upay

नीचे कुछ सरल और आसन घरेलु इलाज दिए गए है जिनकी मदद से आप बिच्छू के डंक और उसके जहर से राहत पास सकते है. तो आईये जानते है क्या है वे उपाय :

पुदीना :-

यदि किसी व्यक्ति को बिच्छू काट ले तो जिस जगह पर बिच्छू ने डंक मारा है उस जगह पर पुदीने के पत्तो का पेस्ट बनाकर लगाएं. इसके अलावा पुदीने का रस निकालकर पीड़ित व्यक्ति को पीने को कहे. इससे भी Bichu का विष उतर जाता है.

सेब :-

बिच्छू के काटने पर सेब को पीसकर उसका लेप बना लें. अब इस लेप को जिस जगह Bichu ने काटा है वहां लगाएं. और साथ ही पीड़ित व्यक्ति को सेब खाने को भी दें. ये उपाय भी बिच्छू का जहर जल्द उतारने में मदद करता है.

फिटकरी :-

Bichu के काटने पर तुरंत ही उस जगह पर फिटकरी को पानी में घिस कर उसका लेप बनाकर लगाएं. ऐसा करने से बिच्छू का जहर फैलता नहीं है.

सरसों का बीज :-

इसके अलावा जिस जगह बिच्छू में काटा है वहां सरसों के बीजो को पीस कर लगाने से भी जहर निकल जाता है.

Silica-200 :-

ये एक प्रकार की होम्यपैथी दवा है जो Bichu के काटने पर दी जाती है. ये तरल रूप में मिलती है. जब भी किसी व्यक्ति को बिच्छू काट लें तो उसकी जीभ पर इस दवा की केवल एक बून्द डालें. 10 मिनट के अंतराल में 3 बार इस दवा के लेने से जहर का असर कम होने लगता है.

मूली :

मूली को पीस कर उसका पेस्ट बना लें. अब इसमें हल्का सा नमक मिलाकर उस स्थान पर लगाएं जहाँ Bichu ने काटा था और साथ ही रोगी को मूली भी खिलाये. ये जहर के प्रभाव को कम करने में मदद करेगी.

लहसुन :-

इस उपाय के लिए एक लहसुन को छिल कर उसका रस निकाल लें. अब इसमें 3 चम्मच शहद मिलकर पीड़ित को खाने के लिए दें. इससे जहर का असर कम हो जायेगा.
इसके अतिरिक्त लहसुन की 6 कलियों को पीसकर उसमे आधा चम्मच नमक मिलाकर जिस जगह Bichu ने काटा है वहां लगाने से विष का प्रभाव कम हो जाता है.

तुलसी :-

तुलसी के पत्तो को पीसकर उसमे नमक मिलाये और इस लेप को Bichu द्वारा काटे गए स्थान पर लगाएं. ऐसा करने से जहर का असर कम होने लगता है.

बिच्छू के काटने के अन्य घरेलु इलाज :-

1. एक पत्थर को अच्छे से साफ़ कर लें. अब उस पर फिटकरी को घिसें. इसके बाद जिस स्थान पर बिच्छू ने काटा है उस स्थान पर उस लेप को लगाएं. और थोड़ी देर आग से सेकें. किसी भी प्रकार के Bichu का जहर इस इलाज से दो मिनट में उतर जायेगा.pyaas ka ras juon ke liye

2. बारीक़ पीसे हुए सेंधा नमक को प्याज में मिलाये. और जिस जगह Bichu ने काटा था वहां लगाएं. इससे जहर उतर जायेगा.

3. माचिस की पांच से सात तीलियों के मसाले को पानी में घिसकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से भी बिच्छू का जहर उतर जाता है.

4. प्याज के रस में नौसादर मिलाकर Bichu के डंक पर जागने से विष को प्रभाव कम हो जाता है.

5. हल्दी की बुकनी अंगारो पर डालकर उसका धुँआ Bichu के डंक वाले स्थान पर लें. उससे जहर उतरता है.

6. पुदीने का रस पीने या उसके पत्तो को खाने से Bichu के काटने पर होने वाली पीड़ा में राहत मिलती है.

7. सूखे रतालू को घिस कर लगाने से भी Bichu के डंक में लाभ मिलता है.

विशेष :-

परिस्तिथि के अनुसार निर्णय लें. यदि आवश्यकता है तो डॉक्टर से भी सलाह लें. इसके साथ ही जिस व्यक्ति को Bichu ने काट लिया है तो तुरन्त उस जगह से करीब चार उंगल ऊपर किसी कपडे या रस्सी से बांध देना चाहिए. इससे जहर खून के साथ शरीर के बाकी हिस्सों में नहीं फैलेगा. इसके बाद किसी साफ़ सेफ्टी पिन या चिमटी को गर्म करके त्वचा में घुसा कर डंक निकाल देना चाहिए.

Bichu के काटने के घरेलु इलाज, Bichu के काटने पर क्या करें, Bichu के डंक का उपचार, बिच्छू काटने पर किये जाने वाले घरेलु उपचार, Bichu के डंक का इलाज

Leave A Reply

Your email address will not be published.