Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेग्नेंट होते ही महिला के शरीर में यह बदलाव आते हैं?

गर्भधारण करना हर महिला के लिए बहुत ही ख़ुशी भरा लम्हा होता है। और हर महिला अपने जीवन में इस लम्हे को जरूर महसूस करना चाहती है। लेकिन माँ बनने की जितनी ख़ुशी महिला को होती है उतना ही इस दौरान महिला को बहुत सी दिक्कतों, बदलाव आदि का सामना भी इस दौरान करना पड़ता है। और यह बदलाव महिला के प्रेग्नेंट होते ही शरीर में शुरू हो जाते हैं और महिला को महसूस होने लगते हैं। यह बदलाव महिला को बाहरी व् आंतरिक रूप से होते हैं। ऐसा होना गर्भवस्था के दौरान आम बात होती है। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको महिला को प्रेग्नेंट होते ही शरीर में कौन- कौन से बदलाव महसूस होते हैं उनके बारे में बताने जा रहे हैं।

-- Advertisement --

पीरियड्स मिस होना

यदि महिला प्रेग्नेंट होती है तो सबसे पहले महिला को पीरियड्स आने बंद हो जाते हैं और पीरियड्स मिस होने के बाद ही महिला प्रेगनेंसी टेस्ट करती है। इसके अलावा शुरुआत में यदि महिला को हल्की स्पॉटिंग यदि महसूस होती है तो यह भी प्रेगनेंसी का लक्षण होता है।

ब्रेस्ट में बदलाव

महिला को प्रेग्नेंट होते ही अपने स्तनों में थोड़ा दर्द, सूजन, आदि भी महसूस हो सकती है। साथ ही महिला की ब्रेस्ट के आगे के हिस्से का रंग भी पहले की अपेक्षा थोड़ा गहरा हो जाता है।

उल्टी आने का मन करना

उल्टी आना प्रेगनेंसी के सबसे अहम लक्षणों में से एक होता है ऐसे में यदि महिला गर्भवती है तो महिला को उल्टी आने की इच्छा अधिक हो जाती है।

मूड स्विंग्स

बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव का असर महिला के व्यवहार पर भी देखने को मिल सकता है। जिसकी वजह से गर्भवती महिला को मूड स्विंग्स की समस्या हो सकती है।

भूख में कमी

प्रेग्नेंट होते ही महिला के शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण शुरूआती समय में महिला की भूख में थोड़ी कमी आ सकती है। लेकिन ऐसा हर महिला के साथ हो यह बिल्कुल भी जरुरी नहीं होता है।

बार बार यूरिन आने की समस्या

प्रेगनेंसी के शुरूआती समय में बॉडी में तेजी से हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण किडनी का काम बढ़ जाता है जिसकी वजह से महिला को बारे बार यूरिन पास करने की इच्छा हो सकती है।

स्किन में बदलाव

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी की शुरुआत से ही ड्राई स्किन की समस्या हो सकती है जिसकी वजह से महिला को खुजली आदि की समस्या भी अधिक हो सकती है।

गैस व् कब्ज़ की समस्या

बॉडी में हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण पाचन कराया थोड़ा धीमे काम कर सकती है जिसकी वजह से महिला को पेट सम्बन्धी समस्या जैसे की कब्ज़, पेट में गैस आदि अधिक हो सकती है। साथ ही प्रेग्नेंट महिला को सीने में जलन आदि की समस्या भी हो सकती है।

तनाव

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में हो रहे बदलाव के कारण मानसिक रूप से परेशानी का अनुभव हो सकता है जिसकी वजह से महिला स्ट्रैस जैसी परेशानी का सामना कर सकती है।

तो यह हैं है कुछ बदलाव जो प्रेग्नेंट होते ही महिला को शरीर में महसूस होने लग जाते हैं ऐसे में महिला को अपना और ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती है। ताकि प्रेग्नेंट महिला को इन बदलाव के कारण किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

Changes occur in a woman’s body as soon as she is pregnant

Leave a comment