Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

सिजेरियन डिलीवरी के बाद तीन महीने तक ऐसे रखें अपना ध्यान

0

प्रेगनेंसी के दौरान आने वाली परेशानियों के कारण, डिलीवरी के समय आने वाली समस्या के कारण, गर्भ में शिशु के साथ कोई समस्या होने पर, या कुछ महिलाएं जो दर्द से डरती हैं, उनकी सिजेरियन डिलीवरी होती है। वैसे ज्यादातर महिलाएं नार्मल डिलीवरी को ही ज्यादा बेहतर मानती हैं क्योंकि इसके बाद बॉडी को अच्छे से फिट होने में ज्यादा समय नहीं लगता है। जबकि सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को पूरी तरह से फिट होने के लिए कम से कम छह महीने का समय लग सकता है। साथ ही सिजेरियन डिलीवरी में महिला के घाव भरने में समय भी लगता है, और उन्हें नार्मल डिलीवरी से बहुत ज्यादा केयर की जरुरत होती है।

सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को अपने खान पान से लेकर अपने उठने बैठने का भी अच्छे से ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि उसकी थोड़ी सी लापरवाही के कारण उसे परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है। इसके अलावा सिजेरियन डिलीवरी के बाद बच्चे को स्तनपान करवाते हुए भी ज्यादा परेशानी होती है, क्योंकि महिला यदि पेट पर ज्यादा जोर देती है तो उसे परेशानी हो सकती है। इसके अलावा और भी बहुत सी बातें हैं जिनका ध्यान आपको सिजेरियन डिलीवरी के बाद रखना चाहिए। ऐसे में आज हम आपको सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, और अपनी केयर कैसे करनी चाहिए इससे ही जुडी कुछ बातें बताने जा रहें है।

सिजेरियन डिलीवरी के तीन महीने तक महिला को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए:- डिलीवरी होने के बाद एक तरह महिला का नया जन्म ही होता है। ऐसे में उसके शरीर बहुत कमजोर हो जाता है और खासकर जब महिला की सिजेरियन डिलीवरी हुई होती है। ऐसे में महिला को अपना बहुत अधिक ध्यान देना पड़ता है। तो आइए अब जानते है की सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

अपने टांको का रखें ध्यान:- सिजेरियन डिलीवरी होने पर महिला के टांको की संख्या अधिक होती है। ऐसे में महिला को उनका ध्यान रखना चाहिए, उनकी साफ़ सफाई रखनी चाहिए ताकि इन्फेक्शन न हो, ड्रेसिंग करवाते रहना चाहिए। इसके अलावा महिला को नहाते समय ज्यादा पानी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, गुनगुने पानी का प्रयोग नहाने के लिए करना चाहिए, साथ ही नहाते समय घाव पर कोई कपडा या पॉलीथीन का इस्तेमाल करना चाहिए। ताकि घाव गीला न हो, क्योंकि यदि घाव गीला हो जाएगा तो आपको दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

मालिश न करवाएं:- सिजेरियन डिलीवरी की शुरुआत में कम से कम बीस दिन तक आपको मालिश नहीं करवानी चाहिए, क्योंकि उस समय घाव भरा हुआ नहीं होता है, और ऐसे में मालिश करवाने के कारण आपको परेशानी हो सकती है। लेकिन यदि आप चाहे तो घाव भरने के बाद मालिश करवा सकते है, क्योंकि इससे आपको जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है, साथ ही आपकी बॉडी को भी आराम मिलता है।

खान पान का ध्यान रखें:- महिला को सिजेरियन डिलीवरी के बाद अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। जैसे की महिला को पौष्टिक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए, लेकिन ज्यादा घी से भरी हुई चीजे नहीं खानी चाहिए क्योंकि इससे घाव को भरने में समय लग सकता है। हाँ घाव भरने के बाद आप जितना चाहे घी आदि का सेवन कर सकती है, इसीलिए आपको हैल्थी आहार का सेवन करना चाहिए लेकिन ऐसे आहार से परहेज करना चाहिए जिससे आपके घाव को भरने में परेशानी हो।

नींद भरपूर लेनी चाहिए:- डिलीवरी के बाद अपने बॉडी को पूरी तरह रेस्ट देने के लिए भरपूर नींद लेनी चाहिए, ऐसा करने से आपके शरीर को आराम मिलता है। शुरुआत में शिशु के कारण आपको थोड़ा परेशानी हो सकती है, लेकिन जब भी शिशु सोएं उस समय आप भी सो जाएँ।

भारी सामान, या ज्यादा भागदौड़ से रखें परहेज:- पेट पर किसी भी तरह से जोर पड़ने के कारण आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आपको न तो भारी सामान उठाना चाहिए, न ही ज्यादा सीढ़ियां चढ़नी चाहिए, न ही ज्यादा भागदौड़ करनी चाहिए, क्योंकि इसके कारण आपको आपको परेशानी हो सकती है।

बिना डॉक्टर के परामर्श के न करें दवाइयों का सेवन:- कई बार ऐसा होता है सिजेरियन डिलीवरी होने के कारण आपको पेट या अन्य जगह पर दर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे में इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए आपको दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए, बल्कि अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए। क्योंकि बिना परामर्श के दवाइयां खाने के कारण आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

आराम से उठे बैठें:- सिजेरियन डिलीवरी के बाद यदि आप एक दम से उठते या बैठते हैं तो इसके कारण आपको घाव से जुडी परेशानी या पेट में दर्द आदि का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की जब भी आप उठे या बैठे तो करवट लेकर उठे और आराम से बैठें ऐसा करने से आपको कोई परेशानी नहीं होगी। साथ ही पेट के बल झुककर, और पैरों के भार बैठकर काम न करें क्योंकि इससे आपके टांको पर जोर पड़ता है, जिसके कारण आपको परेशानी हो सकती है।

शिशु को स्तनपान जरूर करवाएं:– स्तनपान करवाने से महिला को सिजेरियन वाले घाव को तेजी से भरने में मदद मिलती है। साथ ही इससे शिशु के बेहतर विकास में भी फायदा होता है। इसीलिए सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए। और स्तनपान करवाते समय सहारा लेकर बैठना चाहिए ताकि आपको स्तनपान करवाते समय किसी भी तरह की परेशानी न हो। और चाहे तो गोद में सिरहाने को लेकर उस पर शिशु को लिटाएं और उसके बाद आराम से शिशु भी रहता है और आपको भी परेशानी नहीं होती है।

व्यायाम न करें:- बॉडी की फिटनेस को लेकर महिलाएं बहुत परेशान होती है, लेकिन आपको सिजेरियन डिलीवरी के बाद कम से कम दो महीने तक किसी भी तरह का व्यायाम नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे आपको परेशानी हो सकती है, और उसके बाद भी हल्का व्यायाम करने से ही शुरुआत करनी चाहिए।

सम्बन्ध न बनाएं:- प्रसव के दौरान महिला बहुत सी परेशानियों से गुजरती है, और उसके बाद उसे काफी दिनों कम से कम तीन हफ्ते तक ब्लीडिंग भी होती है। उसके बाद भी उसकी बॉडी को अच्छे से ठीक होने में समय लगता है। इसीलिए आपको सिजेरियन डिलीवरी के बाद सम्बन्ध बनाने से काफी समय तक परहेज रखना चाहिए, और इसके बारे में अपने डॉक्टर से जरूर राय लेनी चाहिए।

ज्यादा टाइट कपडे न पहनें:- ज्यादा टाइट कपडे पहनने के कारण, सिंथेटिक कपडे पहनने के कारण आपके घाव पर परेशानी होने के साथ आपको चुभन महसूस हो सकती है। ऐसे में आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आप डिलीवरी के बाद खुले और कॉटन के कपडे पहने जिससे आपको आराम महसूस हो।

डॉक्टर से जांच करवाएं:- जब तक आपके घाव भर नहीं जाते हैं तब तक डॉक्टर से राय लेते रहना चाहिए, और साथ ही जांच भी करवाते रहना चाहिए। ताकि यदि कोई भी परेशानी हो तो आपको इस समस्या का हल करवाने में मदद मिल सके।

तो यह हैं कुछ टिप्स जो की सिजेरियन डिलीवरी के बाद तीन महीने तक महिला को ध्यान रखने चाहिए। ऐसा करने से महिला को आराम मिलता है और जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है। इसके अलावा यदि टांको से जुडी कोई परेशानी हो या और कोई समस्या हो तो इससे बचने के लिए आपको एक बार अपने डॉक्टर से राय लेनी चाहिए।

Leave a comment