Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

नोर्मल डिलीवरी के बाद पीरियड्स में क्या बदलाव आते हैं

0

प्रेगनेंसी के दौरान पूरे नौ महीने तक पीरियड्स नहीं आते हैं। फिर डिलीवरी के बाद एक दम से पीरियड्स आते हैं और दो से तीन हफ्ते तक पीरियड्स रहते हैं। लेकिन उसके बाद महिला को कई बारे च महीने तक पीरियड्स नहीं आते हैं। ऐसे में डिलीवरी के बाद आने वाले पीरियड्स को लेकर महिला के मन में कई सवाल होते हैं।

जैसे की पीरियड्स कब आएंगे, पीरियड्स के दौरान कोई दिक्कत नहीं नहीं होगी, पीरियड्स अनियमित तो नहीं हो जायेंगे, दर्द तो नहीं होगा, आदि। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको नोर्मल डिलीवरी के बाद पीरियड्स में क्या बदलाव आ सकते हैं।

जब तक स्तनपान करवाती है तब तक नहीं आ सकते पीरियड्स

कुछ केस में होता है की जो महिलाएं स्तनपान नहीं करवाती है तो उन्हें डेढ़ या दो महीने के बाद ही पीरियड्स आना शुरू हो जाते हैं। लेकिन यदि आप अपने बच्चे को स्तनपान करवा रही हैं तो आपको हो सकता ही की जब तक आप अपने बच्चे को स्तनपान करवाएं तब तक पीरियड्स नहीं आएं। या फिर जब आपका बच्चा ब्रेस्टफीड कम कर दे तो उसके बाद आपको पीरियड्स आना शुरू हो जाएँ।

कम या ज्यादा हो सकते हैं पीरियड्स

हो सकता है की आपको पहले या पांच दिन पीरियड्स आते थे तो अब चार या फिर छह दिन आना शुरू हो जाएँ। ऐसा होना काफी आम बात है लेकिन यदि आपको पीरियड्स में ब्लीडिंग बहुत ज्यादा होने लग जाये तो इसे अनदेखा नहीं करें क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होता है इससे आपके शरीर में कमजोरी आ सकती है।

मासिक चक्र पर पड़ता है फ़र्क़

डिलीवरी के बाद जब पीरियड्स आते हैं तो शुरुआत में थोड़े समय के लिए आपके मासिक चक्र पर भी असर पड़ सकता है जैसे की यदि आपको पीरियड्स पहले ठीक एक महीने पहले आ जाते थे। तो डिलीवरी के बाद हो सकता है की थोड़ा आगे पीछे हो जाएँ या हो सकता है शुरुआत में एक दो बार मिस भी हो जाये और दो महीने में एक बार ही पीरियड्स आये। फिर धीरे धीरे सब सामान्य हो जाता है। और आपको पीरियड्स समय पर आने लग जाते हैं।

पेन हो सकता है

कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान पेन नहीं होता है लेकिन हो सकता डिलीवरी के बाद जब आपको पीरियड्स आये तो आपको इस परेशानी का सामना करना पड़े। लेकिन इसमें घबराने की बात नहीं है पीरियड्स के दौरान पेन होना आम बात है। परन्तु यदि दर्द असहनीय हो तो एक बार डॉक्टर से जरूर मिले।

खून के थक्के आ सकते हैं

डिलीवरी के बाद जब आपको पहली बार पीरियड्स आते हैं तो हो सकता है उसमे आपको खून के थक्के आएं। ऐसा होना काफी आम बात होती है लेकिन धीरे धीरे यह सब ठीक हो जाता है। इसे देखकर महिलाओं को बिल्कुल भी घबराना नहीं चाहिए।

तो यह हैं कुछ बदलाव जो महिला को पीरियड्स में महसूस हो सकते हैं। लेकिन यदि आपको पीरियड्स आने पर यदि ज्यादा ब्लीडिंग, ज्यादा पेन आदि की समस्या हो तो आपको इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए और डॉक्टर से मिलना चाहिए। ताकि यदि आपको कोई दिक्कत हो तो उसका सही समय से इलाज़ हो सकें।

Changes in periods after normal delivery

Leave a comment
प्रेगनेंसी में चुकंदर जूस के अद्भुत फायदे कई महिलाओं का एक ब्रेस्ट बड़ा और एक छोटा क्यों होता है