Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

दादी माँ के घरेलु नुस्खे और देसी इलाज

0

Gharelu Nuskhe in hindi :- पहले के ज़माने में डॉक्टर नहीं हुआ करते थे और न ही एलोपैथी दवाइयां होती थी. लेकिन उस समय भी लोग बीमार पड़ते थे और उनका इलाज भी होता है. जानते है कैसे? वैद्य जी की आयुर्वेदिक औषधियों द्वारा. जी हां, पहले के समय में लोग अपनी बीमारियों को ठीक करने के लिए किसी दवाई के मोहताज नहीं होते थे बल्कि स्वयं घर पर ही अपना इलाज कर लिया करते थे.

इतना ही नहीं हक़ीम वैद्य आदि भी इन्ही औषधियों के द्वारा लोगो का इलाज किया करते थे. इन उपायों की सबसे बड़ी ख़ासियत ये है की इनका कोई दुष्प्रभाव नहीं है. और सबसे बड़ी बात इनके लिए आपको हज़ारो रूपए खर्च करने की भी आवश्यकता नहीं है. आप सोच रहे होंगे की यह औषधियां बनती किस वस्तु से होंगी?

इसका उत्तर है प्राकृतिक उत्पाद. जी हां, आपके आस पास मौजूद वनस्पति और प्राकृतिक उत्पादों के द्वारा ही इन घरेलु औषधियों का निर्माण किया जाता है. जिनके किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव नहीं है. और सबसे बड़ी बात इन औषधियों के प्रयोग से बीमारिया तो ठीक होती ही है साथ-साथ त्वचा का रंग निखारने और बालो की सुंदरता को बढ़ाने के लिए भी ये बेहद फायदेमंद है. Dadi maa ke Gharelu Nuskhe 

आम भाषा में इन्हें देसी घरेलु नुस्खे भी कहा जाता है क्योकि इन्हें घर में मौजूद उत्पादों द्वारा बनाया गया है. इन उपायो के द्वारा कैंसर जैसी भयंकर बीमारियों से लेकर खांसी जुखाम जैसी आम बीमारियों को आसानी से ठीक किया जा सकता है.

वैसे तो आज कल अधिकतर लोग एलोपैथी दवाओं का ही प्रयोग करते है क्योकि उन्हें इन घरेलु उपायो की जानकारी नहीं होती. इसीलिए आज हम आपको दादी माँ के उन घरेलु नुस्खों के बारे में बताने जा रहे है जिन्हें जानकर आपको हैरानी भी होगी और प्रसन्नता भी. तो आय जानते है दादी में के घरेलु नुस्खे और देसी उपचार !!

दादी माँ के घरेलु नुस्खे और उपाय (Gharelu Nuskhe)dadi-maa-ke-desi-nuskhe

  1. एकग्राम सूखा धनिया, 1 ग्राम सरपगंधा, 2 ग्राम मिशरी में पीस कर ताज़ा पानी के साथ खाने से High Blood Pressure कंट्रोल हो जाता है.
  2. यदि कान मे कीड़ा चला जाए तो कान मे सरसो का तेल भर दे. कीड़ा अपने आप बाहर आ जाएगा.
  3. संतरे के रस में नमक और काली मिर्च डाल कर हर रोज पीने से नज़र की कमज़ोरी दूर हो जाती है.
  4. आँख मे मच्छर चले जाने पर उल्टे पाँव पीछे चलना शुरू कर दे. मच्छर निकल जाएगा.
  5. दाद पर कच्चे पपीते का रस लगाने से दाद और खुजली की समस्या कुछ ही दिनो में ठीक होने लगेगी.
  6. गुलुकांद खाने से असिडिटी की समस्या में फ़ायदा होता है.
  7. 2 ग्राम भूनी हुई फिटकरी रात को मुँह में रख कर सोने से 3-4 महीने मे तुतलाहट (तुतलाने की समस्या) कम होने लगती है.
  8. पथरचट्टा का 1 पत्ता पीस ले और साथ में 4 दाने मिशरी भी पीस कर 1 कप पानी के साथ खाली पेट पिए. पथरी की समस्या खत्म ही जाएगी.
  9. गरम दूध में हल्दी डाल कर पीने से पुरानी खाँसी ठीक हो जाती है.
  10. बच्चों को दस्त होने पर ठंडे पानी में जायफल पीस कर सुबह शाम दे.
  11. होंठो पर कच्चा दूध लगाने से उनका कालापन दूर होता है.
  12. चेहरे पर झाइयां होने पर तारपीन का तेल लगा कर कुछ देर बाद धो ले.
  13. ब्राह्मी के पत्तो को पीस कर सुबह शाम दूध के साथ लेने से स्वपन दोष ठीक होता है और पेशाब भी खूल कर आता है.
  14. नाक में कोई चीज़ फस जाए तो तंबाकू पीस कर सूंघने से छींक के साथ वो वस्तु भी बाहर आ जाती है.
  15. बालों के गिरने या टूटने पर सिर में नींबू के रस में नारियल का तेल मिला कर हल्के हाथो से सिर की मालिश करे. बाल मुलायम हो जाएँगे और डेंड्रफ की समस्या भी दूर हो जाएगी.
  16. अगर बच्चा रात में बिस्तर पर पेशाब करता है तो एक अखरोट की गिरी और किशमिश रात को सोने से पहले 10 दिन तक खिलाए या एक सूखा छुआरा सुबह खाली पेट दे.
  17. पपीते की जड़ 6 ग्राम पीस कर 10 ग्राम पानी मे घोल कर छान ले. इस पानी को रोज पीने से पथरी 2 दिन मे गाल कर बाहर आ जाएगी.
  18. एक गिलास मीठे दूध में 5 ग्राम बेलगिरी का चूर्ण मिला कर पीने से खून बढ़ता है और शरीर में खून की कमी दूर होने लगती है.
  19. रात को सोने से पहले काली मिर्च पीस कर मुहासों पर लगने से मुहांसे ठीक हो जाते है.
  20. करेले के जूस को सुबह-सुबह खाली पेट पीना चाहिए. इसके लिए सब से पहले दो से तीन करेले के बीज निकाल दे और उनका रस निकले. फिर उसमे थोड़ा पानी डाले और पियें. कम से कम 2 महीने तक ये जूस सुबह खाली पेट पिए.
  21. 3 ग्राम कलौंजी पीस कर 1 ग्राम मक्कन मे मिला कर चाटने से हिचकी दूर हो जाती है.
  22. आग से जल जाने पर शहद लगाने से फफोले नहीं पड़ते.
  23. अगर ग़लती से किसी ने काँच खा लिया हो तो उसे उबले हुए आलू खिलाओ.
  24. हिचकी बंद ना हो तो पुदीने के पत्ते या नींबू का रस चूसिए.
  25. छोटे बच्चो को होने वाले हरे पीले दस्त में माँ के दूध में जायफल घीस कर देने से फ़ायदा होता है.
  26. खूनी बवासीर में खून को रोकने के लिए 10-12 ग्राम धुले हुए काले तिल को ताज़ा मक्खन के साथ ले. इसे लेने से भी बवासीर में खून आना बंद हो जाता है.
  27. पीली मिट्टी को पीस कर पानी के साथ लेप बना कर पेडू पर लगाने से पेशाब खूल कर आता है.
  28. बच्चों की साँस चलने, पसली में दर्द होने पर सरसो के तेल को हल्का गर्म कर के पान के पत्ते पर लगाएं और दर्द वाली जगह पर बांधे.
  29. अनार के छिलके को पीस कर पानी के साथ लेने से स्वपन दोष ठीक होता है.
  30. नींबू के रस मे एक जायफल घीस कर लेने से दस्त खूल कर होते है.
  31. टमाटर के रस को चेहरे पर लगाने से चेहरे के दाग धब्बे दूर होने लगते है.
  32. गुलाब के इत्र की 1-2 बूँद कान मे डालने से कान का दर्द दूर होता है.
  33. आँख की फुंसी पर लौंग घीस कर लगाने से फुंसी दब जाती है.
  34. कच्चे आम के छिल्को का काढ़ा बना कर रख ले. पेट मे कीड़े होने पर दो दिन तक 1 चम्मच पीने से पेट के कीड़े मर जाते है.
  35. पेट में किसी भी तरह का जहर चला गया हो तो 1 ग्राम राई का चूरन पानी मे घोल कर पीने से उल्टी द्वारा जहर बाहर आ जाता है.
  36. नीम और बेर के पत्ते पीस कर सिर में रगड़कर कुछ देर बाद बाल धोने से बाल लंबे और सुन्दर होते है. .
  37. गंजापन से छुटकारा पाने के लिए 5 चमच दही में 1 चम्मच नींबू का रस और 2 चम्मच काले चने का पाउडर मिला कर इसे 1 घंटे तक सिर पर लगा कर रखे. फिर उसके बाद सिर धो ले. इसे हफ्ते में 2 से 3 बार करे.
  38. घुटनो और जोड़ो का दर्द होने परअश्वगंधा, आमलकी और शतावरी का चूर्ण अच्छे से मिला ले और हर रोज सुबह पानी के साथ ले. इससे दर्द में फ़ायदा मिलता है, जोड़ो को मजबूती मिलती है और अगर गठिया की शिकायत हो तो वो भी ठीक होता है.
  39. सर्दी जुखाम में तुरंत आराम के लिए दिन में 2 बार शहद के साथ अदरक खाए.
  40. अदरक का रस और शहद मिला कर लगाने से दाँत का दर्द ठीक होता है.
  41. पेट की चर्बी और मोटापा कम करने के लिए हर रोज सुबह उठते ही खाली पेट 1 ग्लास गुनगुने पानी मे 1 नींबू निचोड़ कर पिएं और दिन मे एक बार नींबू की चाय पिए.
  42. सुबह शौच जाने से पहले तांबे के बर्तन मे रखा हुआ रात का बासी पानी रोजाना पिया जाए तो कब्ज की समस्या दूर होती है और स्वपन दोष में भी फ़ायदा होता है.
  43. रोज सुबह किसी चीज़ को पकड़ कर कुछ देर लटकने से कद लंबा होता. कम से कम 1 साल तक इसे रोजाना करना चाहिए..
  44. मछली का काँटा अगर गले मे फँस जाए तो केला खाना चाहिए.
  45. हरा धनिया पीस कर उसका पानी निचोड़ कर पीने से उल्टी रुक जाती है.
  46. असली शहद 50 ग्राम और दही 100 ग्राम मिला कर रोज सुबह खाने से सेहत बनती है और शरीर में मोटापा आता है. इससे एक साल तक लगातार करे. इससे दिमाग़ की कमज़ोरी दूर होती है, चेहरे के पिंपल्स दूर होते है और चेहरे का रंग साफ़ होता है.
  47. लौंग का उबला हुआ पानी पीने से बार बार लगने वाली प्यास कम हो जाती है.
  48. अगर बच्चे को पेशाब ना आए तो 6 ग्राम कलमी शोरा थोड़े पानी में घोले और उसमे एक रूई भिगो कर बच्चे के मसाने पर रख दे. 5 मिनिट बाद बच्चा पेशाब कर देगा.
  49. डेंगू होने पर 1 गिलास पानी में थोड़ी से गिलोय को पीस ले और उसमे 5-6 पत्तिया तुलसी की मिला कर उबाल ले और एक काढ़ा बना कर पियें. इसके साथ 3 चम्मच एलोवेरा का रस पानी में मिला कर हर रोज पियें तो कभी कोई बीमारी नहीं होगी, इसमे पपीते के 3-4 पत्तो का रस मिला कर दिन मे 3 से 4 बार पीने से Platlets की मात्रा जल्दी से बढ़ती है. ये दवा डेंगू, स्वाइन फ़्लू और चिकनगुनिया मे रामबाण का काम करती है.
  50. मोर के पंक बच्चे के गले में बाँधने से बच्चे का दाँत चबाना बंद होता है और बच्चा रात को डरता नहीं है.
  51. आम की लकड़ी का कोयला बारीक पीस 100 ग्राम, 10 ग्राम लाहोरी नमक, 10 ग्राम इलायची का तेल ले और सब को मिला कर शीशी में भर कर रख ले. इसे एक बार दांतो पर लगने से दाँत सफेद होने लगते है.
  52. DDT पाउडर को पानी में घोलकर चारपाइयो मे डालने से ख़टमल मर जाते है.
  53. अजवाइन, काली मिर्च, नमक लाहोरी, सोंठ, जीरा-सफेद, मोटी इलायची, धनिया, पुदीना, नोसदार और काला नमक. ये सब 10-10 ग्राम ले और 3 ग्राम लौंग ले. सब को मिला कर बारीक पीस ले. हर रोज 3 ग्राम पानी के साथ लेने से पेट का दर्द ठीक होता है और खाना ठीक से हज़म होता है.
  54. पीली पट्टी वाला तंबाकू 100 ग्राम ले और तवे पर डाल कर हल्की आग पर चम्मच से हिलाते रहे. जब धुंआ निकलना बंद हो जाए तो तवे से हटा बरीक पीस ले. 15 ग्राम लाहोरी नमक और 5 ग्राम काली मिर्च मिला कर पीस ले. रोजाना इससे अपने दांतो पर मलने से खून आना बंद हो जाता है. हर रोज पीने से भी पायरिया की प्राब्लम से राहत मिलती है.
  55. गाजर का रस, टमाटर का रस और चुकंदर का रस मिला कर रोजाना 1 गिलास 2 महीने तक पीने से झाइयां, दाग़, मुहाँसे दूर होते है और चेहरा सुन्दर और साफ़ होने लगता है.
  56. हाइट बढ़ाने के लिए कभी भी झुक कर ना बैठे और ना ही झुक कर चले. चलते और बैठते समय अपनी कमर को सीधा रखे. सही तरीके से बैठने और चलने से लंबाई बढ़ती है.
  57. चेहरे से तिल और मस्से साफ़ करने के लिए रोजाना एलोवेरा जेल का सेवन करे.
  58. पेट में कीड़े होने पर लस्सी में अजवाइन का चूर्ण मिला कर पिए, इससे पेट के कीड़े मर जाएँगे.
  59. दिल की बीमारियो (हार्ट प्राब्लम) से बचे रहने के लिए अपने खाने को रिफाइंड तेल की बजाय सरसो के तेल में बनाए. .
  60. जोड़ो का दर्द दूर करने के लिए लहसुन के तेल में हींग और अजवाइन मिला कर पका ले और जोड़ो की मालिश करे.
  61. WheatGrass जूस जिसे हम गेहू का ज्वरा भी कहते है, कैंसर से बचाव और उपचार में काफ़ी फायदेमंद आयुर्वेदिक नुस्ख़ा है.
  62. अगर किसी को माइग्रेन की बीमारी हो तो उसे आधा सिर दर्द होता है जो सहन के बाहर हो जाता है, माइग्रेन में सिर के जिस हिस्से में ज्यादा दर्द हो उस तरफ की नाक में गाय का शुद्ध देसी घी डालने से फ़ायदा होता है.
  63. खाँसी और कफ का उपचार करने के लिए अजवाइन की भाप(स्टीम) ले.
  64. गर्दन (नेक), सर्विकल के दर्द में एक पोटली में अजवाइन डाल कर उसे तवे पर गरम करे फिर गर्दन पर सेक करे.
  65. पीलिया के उपचार के लिए मूली के पत्तो का रस निकाल कर पिए.
  66. रोजाना खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड खाने से कई तरह की बीमारिया दूर होती है.
  67. गले का इन्फेक्शन या गले की कोई बीमारी का इलाज करने के लिए शहद का सेवन करे.
  68. अगर आपको भूख कम लगती है तो पका हुआ टमाटर कच्चा ही खाए.
  69. अगर किसी को लकवे का अटैक पड़े तो उसे तुरंत 50-100 गरम तिल का तेल हल्का गरम कर के पिलाए और लहसुन चबाने को दे.
  70. काले होंठ गुलाबी करने के लिए मक्खन में केसर मिलाकर हर रोज होंठ पर लगाए. होंठ की देखभाल के लिए ये घरेलू नुस्खे बहुत असरदार है.
  71. अगर मोटापा कम करना चाहते है तो अपनी डाइट में मिर्च, ग्रीन टी, ड्राइ फ्रूट्स, हल्दी को शामिल करे.
  72. दिल की बीमारियो का इलाज घरेलू नुस्खे से करने के लिए 40 ग्राम आँवले के रस में 20 ग्राम गाजर का रस मिलाकर पियें. इस उपाय से ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल होता है.
  73. हार्ट अटैक से दूर रहने के लिएलौकी का जूस पिए और लौकी की सब्जी खाए.
  74. अगर आपबिना एक्सर्साइज़ किए मोटापा कम करने के उपाय करना चाहते है तो ग्रीन कॉफी का सेवन करे. इससे 1 महीने मे 2 से 3 किलो वजन कम कर सकेंगे.
  75. अगर आपको रात में नींद नही आती तो सोने से पहले 1 ग्लास गरम दूध में शहद मिला कर पिए इससे अनिद्रा का रोग दूर होगा.
  76. गुर्दे (किड्नी) की बीमारियो से बचने और उपाय करने के लिए हर एक घंटे में पानी पिए. पानी पीने से किड्नी में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते है. आप नींबू पानी भी पी सकते है इससे बॉडी को विटामिन C भी मिलेगा.
  77. आँवला के रस में शहद मिला कर चाटने से आँखो की रोशनी बढ़ती है.
  78. मुँह से साँस की बदबू आने पर नीम, कीकर या बाबुल के दातुन से दांतो और मसूड़ो की सफाई करे.
  79. चमड़ी (Skin) के रोग के ट्रीटमेंट के लिए अजवाइन पीस कर एक गाढ़ा लेप बना ले और स्किन पर लगाए.
  80. नींबू की चाय (लेमन टी) पीने से क़ब्ज़, पेट की गैस और मोटापा जैसी समस्याओ से निजात मिलती है.
  81. आजकल छोटे बच्चो की आँखो पर चश्मा लग जाता है, आँखो की रोशनी तेज करने के लिए अखरोट के तेल से आँखो के आस पास मसाज करे. इस नुस्खे को आज़माने से आँखो के संरमण दूर होते है और आँखो की खुजली खत्म होती है .
  82. हर रोज सुबह शाम एक गिलास पानी में 1 चम्मच सेब का सिरका और1 चम्मच शहद मिला कर पीने से लिवर (जिगर) की कमजोरी और गर्मी दूर होती है. लिवर को ताक़त देने में ये उपाय रामबाण का काम करता है.
  83. फोड़े और फुंसी के इलाज के लिए अजवाइन पीस कर उसमे नींबू का रस मिला कर लगाए.
  84. चेहरे से कील मुहांसे और पिंपल्स हटाने की लिए नीम की पत्तियो को पानी में उबाल कर पानी से चेहरे को धोए और पत्तियो को पीस कर एक लेप बनाए और अपने चेहरे पर लगाए.
  85. पेट की बीमारियो से बचने और इलाज के लिए मुली पर काला नमक और पीसी हुई काली मिर्च डाल कर खाए.
  86. कमर दर्द, स्लिप डिस्क होने पर 1/2 चम्मच गूगल गरम पानी के साथ दिन में 2 बारले. गूगल कमर दर्द से छुटकारा पाने का अच्छा उपाय है.
  87. गर्मी से बचने के लिएखीरे का पानी, आम का पन्ना और मट्ठा या लस्सी या छाछ (बटर मिल्क) का सेवन करे.
  88. प्रेग्नेंट महिला कोशरीर की मासपेशिया मजबूत रखने के लिए एक्सर्साइज़, योगा और नियमित व्यायाम करना ज़रूरी है. इससे डेलिवरी के टाइम बच्चे को push करने मे फयडा मिलता है.
  89. भिंडी में Anti Oxidents की मात्रा अधिक होती है और ये कैंसर से बचाव के लिए बहुत उपयोगी है. भिंडी शरीर में कैंसर की कोशिकाओ को बढ़ने से रोकती है.
  90. गर्मी में सिर दर्द होने पर नारियल तेल से सिर की मालिश करे, इससे सिर को ठंडक मिलेगी जिससे सिर के दर्द में आराम मिलने लगेगा.
  91. आम के पत्तो को पीस कर रस निकल ले और हल्का गरम कर ले. अब इस रस की 2 से 3 बूंदे कान में डाले, आपके कान दर्द में आराम मिलेगा.
  92. आँखो में कोई इन्फेक्शन या फिर कोई सूजन हो जाए तो एक कटोरी पानी मे एक चम्मच सेब का सिरका डाल कर रुई से आँखे साफ़ करे.
  93. गर्भवती महिला कोनॉर्मल डिलीवरी के लिए चलना फिरना बहुत ज़रूरी है और शारीरिक रूप से active रहना चाहिए.
  94. अगर आपको यात्रा करते समय उल्टी आती है तो यात्रा शुरू करने से पहले 1 चम्मच अदरक और 1 चम्मच प्याज का रस मिला कर पियें.
  95. मर्दाना कमज़ोरी हो या नपुंसकता,  इसका इलाज आयुर्वेद से करने के लिए 1 चम्मच शहद में 1 चम्मच आंवला चूर्ण और 2 चम्मच आंवले का रस मिला कर दिन में 2 बार ले. इस नुस्खे से योंनशक्ति बढ़ती है और नपुंसकता का उपचार करने में मदद मिलती है.
  96. थाइराइड का इलाज घरेलू तरीके से करने के लिए हरा धनिया पीस कर चटनी बनाए और एक चम्मच चटनी एक गिलास पानी में मिला कर पिए.
  97. दिमाग़ तेज करने और याददाश्त बढ़ाने के लिए रात की भीगी हुई दाल का पेस्ट बना कर इसमे मिशरी मिला दे और दूध के साथ खाए. जिन स्टूडेंट्स को पढ़ाई में याद करने में प्राब्लम होती है उन्हे ये उपाय रोजाना करना चाहिए.
  98. भूख कम करने के लिए दादी माँ के नुस्खे कहते है की आप खाने में हरी और काली मिर्च का सेवन करे. मिर्च भूख कम करती है और इससे मोटापा कम करने के उपाय भी हो जाते है.
  99. मासिक धर्म जिसे हम पीरियड्स भी कहते है, के दौरान महिलाओ को काफ़ी दर्द झेलना पड़ता है, पीरियड्स में होने वाले दर्द को कम करने के लिए हल्दी वाला दूध पीये. हल्दी के सेवन से शरीर में गर्मी आने लगती है जिससे माहवारी में होने वाले दर्द में रिलीफ मिलता है.

Dadi maa ke Gharelu Nuskhe, Gharelu Nuskhe in hindi, दादी माँ के देसी नुस्खे, Desi Gharelu Nuskhe aur upay, Dadi maa ke Gharelu Nuskhe se ilaj kaise kare

Leave a comment