Ultimate magazine theme for WordPress.

डिलीवरी के बाद बॉडी के किन पार्ट को नहीं छूना चाहिए

0

डिलीवरी के बाद बॉडी के किन पार्ट को नहीं छूना चाहिए, डिलीवरी के बाद बॉडी के इन पार्ट्स को छूने से बचें, प्रसव के बाद महिला को कौन से बॉडी पार्ट्स को नहीं छूना चाहिए, डिलीवरी के बाद महिला न करें यह गलतियां, Do not touch these body parts after delivery

डिलीवरी के बाद गर्भवती महिला के शरीर में बदलाव होना बहुत आम बात होती है, और यह सब बदलाव डिलीवरी के बाद बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण होते हैं। जिसके कारण महिला को त्वचा बहुत ही संवेदनशील हो जाती है, ऐसे में महिला को अपना बेहतर तरीके से ध्यान रखना पड़ता है साथ ही शिशु की भी अच्छे से केयर करनी पड़ती है। और इसके लिए जरुरी है महिला कुछ बातों का खास ध्यान रखे, जैसे की डिलीवरी के बाद महिला के कुछ बॉडी पार्ट्स होते हैं जिन्हे महिला को बार बार नहीं छूना चाहिए। क्योंकि इसके कारण महिला को शिशु से सम्बंधित परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की डिलीवरी के बाद महिला को कौन से अंगो को नहीं छूना चाहिए।

टांको को

सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को टाँके लगाए जाते हैं, कुछ केस में नोर्मल डिलीवरी के दौरान भी महिला को टाँके लग सकते हैं। ऐसे में महिला को बार बार टांको को छूने से बचना चाहिए, और उन्हें डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाई लगाने के समय और साफ़ सफाई के समय ही हाथ लगाना चाहिए। बार बार टांको को हाथ लगाने से दर्द की समस्या होने के साथ महिला को टांको में इन्फेक्शन की समस्या हो सकती है।

ब्रेस्ट को न छुएं

स्तनपान के दौरान महिला को ब्रेस्ट को पकड़कर शिशु को दूध पिलाना चाहिए ताकि शिशु अच्छे से स्तनपान कर सकें। लेकिन महिला को बार बार ब्रेस्ट को पूरा दिन टच नहीं करनी चाहिए, न ही हर बार स्तनपान करवाने से पहले ब्रेस्ट को धोना चाहिए क्योंकि इससे ब्रेस्ट पर बैक्टेरिया का जमाव हो सकता है, जिसके कारण शिशु को इन्फेक्शन होने के चांस बढ़ सकते हैं।

प्राइवेट पार्ट

डिलीवरी के बाद महिला को दो से तीन हफ्ते तक लगातार ब्लीडिंग हो सकती है, जिसके कारण पेट में दर्द होना, महिला को पैड बदलने जाने की परेशानी होना आम बात होती है, क्योंकि इस दौरान गर्भवती महिला को बहुत अधिक ब्लीडिंग होती है। लेकिन बार बार प्राइवेट पार्ट को छूना भी सही बात नहीं होती है, क्योंकि इससे आपको प्राइवेट पार्ट में इन्फेक्शन की समस्या हो सकती है, दिन में तीन से हर बार पैड बदलने के अलावा फ्रैश होने पर ही आप अच्छे से साफ़ सफाई करें। और उसके बाद अच्छे से से हाथ धोकर सैनीटाइज़र का इस्तेमाल करने के बाद ही शिशु को हाथ लगाएं ताकि शिशु को भी इनेफ्क्शन की समस्या से बचाव करने में मदद मिल सके।

चेहरे की स्किन

कुछ महिलाओं को डिलीवरी के बाद चेहरे पर दाने, मुहांसे जैसी समस्या भी हो जाती है, ऐसे में महिला को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की वो बार बार दानों को न छुएं, और न ही उन्हें नाख़ून से कुरेदे इससे महिला को अधिक दाने हो सकते हैं जिससे उनकी ख़ूबसूरती पर बुरा असर पड़ सकता है।

तो यह हैं कुछ बॉडी पार्ट्स जिन्हे गर्भवती महिला को डिलीवरी के बाद बार बार नहीं छूना चाहिए। क्योंकि इससे गर्भवती महिला के साथ शिशु को भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में महिला को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए, साथ ही डिलीवरी के बाद जल्दी से फिट होने के लिए और शिशु के बेहतर विकास के लिए अपने खान पान का भी अच्छे से ध्यान रखना चाहिए।

Hindi Video : Women should not touch these parts of their body after delivery

Things to Remember After Delivery