गर्भ में शिशु का दिमाग तेज करने के लिए खाएं यह 10 चीजें

0

गर्भ में पल रहे शिशु का शारीरिक व् मानसिक विकास कैसा होगा यह उसकी होने वाली माँ पर ही निर्भर करता है। क्योंकि गर्भ में शिशु अपनी हर एक जरुरत को अपनी माँ के शरीर से ही पूरा करता है। इसीलिए तो प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला को अपना अच्छे से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है ताकि गर्भवती महिला और उसके होने वाले शिशु दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिल सकें।

साथ ही हर गर्भवती महिला चाहती है की उसका होने वाला शिशु हेल्दी, इंटेलीजेंट, सूंदर व् स्वस्थ हो। तो इसके लिए जरुरी है की प्रेगनेंसी के दौरान महिला अपने खान पान से लेकर हर छोटी छोटी बात का ध्यान रखें। तो आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे 10 फूड्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन यदि प्रेग्नेंट महिला करती है तो इससे होने वाले शिशु का दिमाग तेज होता है।

दालें शामिल करें अपनी डाइट में

गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास के लिए दालों का सेवन गर्भवती महिला को भरपूर करना चाहिए। क्योंकि दालों में प्रोटीन भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। और प्रोटीन बच्चे के मस्तिष्क की मांसपेशियों के बेहतर विकास में मदद करता है जिससे बच्चे का दिमागी विकास अच्छे से होता है। खासकर मसूर दाल का सेवन गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। इसके अलावा दालों में अन्य पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं जो बच्चे के शारीरिक विकास को बेहतर करने में मदद करते हैं।

डेयरी प्रोडक्ट्स

गर्भवती महिला को बच्चे के दिमागी विकास को बेहतर करने के लिए डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे की दूध, दही, आदि का सेवन भी भरपूर मात्रा में करना चाहिए। क्योंकि इनमे कैल्शियम व् प्रोटीन उच्च मात्रा में मौजूद होता है जो बच्चे के दिमागी विकास को बेहतर करने में दद करता है।

हरी सब्जियां

आयरन, फोलेट, प्रोटीन, विटामिन्स जैसे पोषक तत्वों से भरपूर हरी सब्जियां भी गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद करती है। साथ ही इनका सेवन करने से गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने व् शिशु के शारीरिक विकास को बेहतर करने में भी मदद मिलती है।

कद्दू के बीज

एंटीऑक्सीडेंट और हाई न्यूट्रिएंट्स से भरपूर कद्दू के बीज का सेवन भी गर्भावस्था के दौरान महिला कर सकती है। क्योंकि यदि गर्भवती महिला कद्दू के बीज का सेवन करती है तो इससे पेट में पल रहे शिशु के दिमाग को तेज करने में मदद मिलती है।

बादाम

वैसे प्रेगनेंसी के दौरान महिला हर तरह के ड्राई फ्रूट्स का सेवन कर सकती है लेकिन गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास बादाम का सेवन गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि बादाम में प्रोटीन कैल्शियम व् अन्य विटामिन्स भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद करते हैं।

अखरोट

दिमाग की शेप में दिखने वाला अखरोट भी गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद करता है। क्योंकि अखरोट में ओमेगा 3 फैटी एसिड व् अन्य पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। और यह पोषक तत्व शिशु के मानसिक विकास को तेजी से करने में मदद करते हैं।

फल

संतरा, सेब, अनार, जामुन जैसे फलों का सेवन भी गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास के लिए गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि इनमे फोलेट, फाइबर, व् अन्य विटामिन्स मौजूद होते हैं जो शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद करते हैं।

अंडा

प्रोटीन, आयरन का बेहतरीन स्त्रोत होने के साथ अंडा choline से भरपूर होता है। जो गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास के लिए बहुत जरुरी होता है। ऐसे में यदि गर्भवती महिला प्रेगनेंसी के दौरान अंडे का सेवन करती है तो इससे गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद मिलती है।

मछली

गर्भावस्था के दौरान महिला को मछली का सेवन करना चाहिए क्योंकि मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। और ओमेगा फैटी एसिड गर्भ में पल रहे शिशु के दिमाग के बेहतर विकास में मदद करता है। लेकिन ध्यान रखें की केवल उन्ही फिश का सेवन करें जिनमे मर्करी की मात्रा मौजूद नहीं होती है। साथ ही मछली में आयोडीन भी मौजूद होता है जो गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर दिमागी विकास में मदद करता है।

ब्लूबेरिस

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर ब्लूबेरिस का सेवन भी गर्भावस्था के दौरान करने से शिशु के दिमाग के तेज को करने में मदद मिलती है। ब्लूबेरिस के अलावा स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरी आदि का सेवन भी शिशु के दिमाग के बेहतर विकास में मदद करता है।

पेट में पल रहे शिशु का दिमाग तेज करने के अन्य टिप्स

  • गर्भ में पल रहे शिशु से बातें करें इससे गर्भ में में शिशु एक्टिव रहता है जिससे उसके शारीरिक व् मानसिक विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • प्रेग्नेंट महिला खुश रहें क्योंकि जितना महिला खुश रहती है उतना ही बच्चा खुश रहता है और उसका विकास अच्छे से होता है।
  • खान पान, नींद, व्यायाम आदि का अच्छे से ध्यान रखें जिससे माँ व् बच्चे दोनों को प्रेगनेंसी के दौरान कोई दिक्कत नहीं हो।
  • नशीले पदार्थों के सेवन से दूरी रखें।
  • किसी भी दिक्कत के होने पर बिना देरी किये तुरंत डॉक्टर से मिलें।
  • हमेशा पॉजिटिव रहें और केवल अच्छी बातें सोचें।
  • गुस्सा, लड़ाई, आदि से बचें।
  • ज्यादा शोर, भीड़भाड़, प्रदूषण वाली जगह पर जाने से बचें।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिन्हे यदि प्रेगनेंसी के दौरान महिला फॉलो करती है तो इससे गर्भ में पल रहे शिशु के दिमागी विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है। और आपका होने वाला शिशु हष्ट पुष्ट, इंटेलीजेंट होता है।

Diet in pregnancy for baby brain