प्रेगनेंसी में यह गलतियां नहीं करें?

गर्भावस्था महिला के लिए बहुत अहम समय होता है और इस दौरान पूरे नौ महीने गर्भवती महिला को अपना बहुत ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती है। क्योंकि यदि महिला अपना अच्छे से ध्यान रखती है तो इससे गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में मदद मिलती है।

साथ ही इस दौरान महिला को छोटी छोटी बातों का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए ताकि महिला किसी भी तरह की गलती नहीं करें। क्योंकि इस दौरान बरती गई थोड़ी सी लापरवाही गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर डाल सकती है। तो आइये अब हम ऐसी कुछ गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो गर्भवती महिला को नहीं करनी चाहिए।

प्रेगनेंसी और प्रसव की जानकारी नहीं लेना

गर्भवस्था की प्लानिंग करने से पहले या गर्भावस्था की शुरुआत से ही महिला को प्रेगनेंसी और प्रसव से जुडी जानकारी इक्कट्ठी कर लेनी शुरू कर देनी चाहिए। क्योंकि इससे प्रेगनेंसी और प्रसव को आसान बनाने में मदद मिलती है। ऐसे में महिला को ऐसा करने में बिल्कुल भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए।

खान पान में लापरवाही

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को खान पान में किसी तरह की लारपवाही नहीं करनी चाहिए जैसे की महिला को डाइट नहीं करनी चाहिए, जंक फ़ूड नहीं खाना चाहिए, मसालेदार व् तली हुई चीजों का सेवन करने से बचना चाहिए, बासी ठंडा गला सड़ा आहार नहीं लेना चाहिए, आदि। साथ ही ऐसी किसी भी चीज का सेवन नहीं करना चाहिए जिससे गर्भपात या बच्चे के विकास रुकने का खतरा हो जैसे की कच्चा पपीता, करेले के बीज, आदि।

ट्रैवल

गर्भावस्था के दौरान यात्रा करने की मनाही होती है क्योंकि ऐसा करने से झटका आदि लगने के कारण गर्भ को नुकसान पहुँचने का खतरा होता है। और यदि कभी ट्रैवल करना पड़े तो बिना डॉक्टर की सलाह के ट्रैवल नहीं करना चाहिए।

दवाइयों का सेवन

गर्भावस्था के दौरान जो दवाइयां डॉक्टर्स ने बताई है उन दवाइयों का सेवन गर्भवती महिला कर सकती है। लेकिन गर्भवती महिला को ऐसी किसी भी दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए जिसका सेवन आपको डॉक्टर ने नहीं कहा है जैसे की सिर दर्द की दवाई या अन्य कोई पेन किलर आदि। क्योंकि यह दवाइयां गर्भ में पल रहे शिशु पर बुरा असर डाल सकती है।

जरुरत से ज्यादा व्यायाम

गर्भावस्था के दौरान थोड़ा बहुत व्यायाम जरूर करना चाहिए क्योंकि इससे महिला के स्वास्थ्य को बेहतर रहने में मदद मिलती है लेकिन जरुरत से ज्यादा व्यायाम गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसकी वजह से गर्भ में पल रहे शिशु पर बुरा असर पड़ सकता है।

घर के काम

प्रेगनेंसी के दौरान महिला घर में थोड़े बहुत काम कर सकती है लेकिन महिला को ऐसा कोई काम नहीं करना चाहिए जिससे महिला के पेट पर किसी तरह का दबाव पड़े। जैसे की महिला को टॉयलेट साफ़ करने से बचना चाहिए, पैरों के भार बैठकर पोछा लगाने से बचना चाहिए, पानी में काम करने से बचना चाहिए, ज्यादा देर खड़े होकर जिस काम को करना पड़े उससे बचना चाहिए, आदि।

गलत पोजीशन में नहीं सोना चाहिए

प्रेग्नेंट महिला को गलत पोजीशन में नहीं सोना चाहिए जैसे की सीधा होकर नहीं सोना चाहिए क्योंकि इसकी वजह से महिला को पीठ में दर्द की समस्या हो सकती है, पेट के बल नहीं सोना चाहिए इसकी वजह से पेट पर दबाव पड़ सकता है।

टेंशन नहीं लेनी चाहिए

गर्भावस्था के दौरान महिला को टेंशन नहीं लेनी चाहिए और किसी भी तरह के नेगेटिव विचारों को मन में नहीं आने देना चाहिए। क्योंकि इनकी वजह से माँ और बच्चे दोनों की सेहत पर गलत असर पड़ता है।

प्रदूषण वाली जगह पर नहीं जाना चाहिए

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को ऐसी जगह पर नहीं जाना चाहिए जहां पर धूल मिट्टी अधिक हो क्योंकि इससे हानिकारक बैक्टेरिया व् वायरस हवा के माध्यम से आपके शरीर में प्रवेश कर सकते हैं जिसकी वजह से शिशु के विकास पर बुरा असर पड़ सकता है साथ ही महिला को भी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या होने का खतरा होता है।

मच्छर मारने का स्प्रे इस्तेमाल नहीं करें

गर्भावस्था के दौरान हो सके तो आपको मच्छर मारने का स्प्रे घर में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें केमिकल बहुत अधिक होती है। और यह आपके सांस लेने के जरिये आपकी स्किन में संपर्क में आने के कारण शरीर में प्रवेश कर सकता है जिसकी वजह से बच्चे के विकास में रूकावट होने का खतरा हो सकता है।

कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल

गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिला को कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी कम करना चाहिए। क्योंकि कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स में केमिकल की अधिकता होती है जो स्किन के संपर्क में आने के बाद शरीर में प्रवेश कर सकता है। और इसके कारण बच्चे के विकास में दिक्कत आने का खतरा हो सकता है।

ज्यादा तेज म्यूजिक

प्रेगनेंसी के दौरान म्यूजिक सुनने से महिला को तनाव को कम करने में मदद मिलती है लेकिन महिला को ज्यादा तेज आवाज़ में म्यूजिक नहीं सुनना चाहिए। साथ ही ऐसी किसी भी जगह पर नहीं जाना चाहिए जहां आवाज़ ज्यादा हो। क्योंकि ज्यादा तेज आवाज़ के कारण गर्भ में शिशु की सुनने की क्षमता पर बुरा असर पड़ सकता है जिसके कारण गर्भ में शिशु के विकास में दिक्कत होने का खतरा होता है।

गलत पोजीशन में उठना बैठना

गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान आराम से उठना या बैठना चाहिए। क्योंकि यदि गर्भवती महिला गलत पोजीशन में उठती बैठती है या ज्यादा तेजी से उठती बैठती है तो इसके कारण गर्भवती महिला को दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

नींद में लापरवाही

जिस तरह प्रेगनेंसी के दौरान महिला के लिए अच्छे से डाइट लेना जरुरी होता है उसी तरह गर्भवती महिला के लिए नींद लेना भी जरुरी होता है। ऐसे में गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान अपनी नींद अच्छे से लेनी चाहिए। और इसमें किसी भी तरह की लापरवाही नहीं करनी चाहिए। क्योंकि यदि महिला नींद भरपूर नहीं लेती है तो इसकी वजह से महिला को स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या होने का खतरा रहता है जिसके कारण माँ व् बच्चे दोनों को दिक्कत हो सकती है।

नशीले पदार्थों का सेवन

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को किसी भी तरह के नशीले पदार्थ जैसे धूम्रपान, अल्कोहल आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा महिला को कैफीन का सेवन भी जरुरत से ज्यादा नहीं करना चाहिए क्योंकि इसकी वजह से शिशु के विकास में दिक्कत होने का खतरा होता है साथ ही समय पूर्व प्रसव होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

बेबी बम्प पर ध्यान नहीं देना

गर्भावस्था के दौरान महिला को अपने बेबी बम्प का ध्यान रखना चाहिए की वह बढ़ रहा है या उतना ही है साथ ही गर्भ में बच्चे की मूवमेंट पर भी महिला को ध्यान देना चाहिए। क्योंकि कई बार गर्भ में शिशु की हलचल कम हो जाती है या बिल्कुल नहीं होती है जो की खतरे का संकेत होता है।

तो यह हैं कुछ गलतियां जो गर्भवती महिला को नहीं करनी चाहिए, क्योंकि इनकी वजह से माँ और बच्चा दोनों को दिक्कत होने का खतरा रहता है। यदि आप भी माँ बनने वाले है तो आप भी इन गलतियों को करने से बचे ताकि आपको और आपके होने वाले शिशु दोनों को स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियों से बचे रहने में मदद मिल सके।

Do not make these mistakes during Pregnancy

Leave a comment