Take a fresh look at your lifestyle.

एड़ियां फटने से बचाने के उपाय

0

Cracked Heels : Remedies and Preventions

एड़ियां फटने से बचाने के उपाय, Cracked Heels : Remedies and Preventions, Cracked Heels Treatment in hindi, फटी एड़ियां ठीक करने के घरेलू उपाय, Cracked Heels

सर्दियों का मौसम शुरू होते ही बहुत सी परेशानियां भी दस्तक देना शुरू कर देती है। कभी खांसी जुखाम, तो कभी रूखी त्वचा। लेकिन इनके अलावा भी एक समस्या है जो केवल सर्दियों के मौसम में ही देखने को मिलती है और वो है फटी एड़ियों की समस्या। इस मौसम में चलने वाली सर्द हवाएं स्किन से नमी चुराकर उसे रुखा और बेजान बना देती है जिससे वे फटने लगती है। स्किन चाहे फेस की हो या एड़ियों की। स्थिति दोनों के साथ समान रहती है। ऐसे में इसका उपचार करना बेहद जरुरी होता है क्योंकि अगर समय पर इसके लिए प्रयास नहीं किये गए तो समस्या बढ़ सकती है।

फेस की स्किन तो फिर भी 2-3 बार मॉइश्चराइज़र लगाने से नार्मल हो जाती है लेकिन एड़ियां उन्हें ठीक करने में काफी समय लग जाता है। क्योंकि एड़ियां सिर्फ बाहर से ही नहीं फटती बल्कि काफी अंदर तक फ़टी होती है। समस्या के बढ़ने पर एड़ियों से खून निकलने लगता है और उनमे काफी दर्द भी होता है जिन्हे बिवाइयां भी कहते है। अगर आपके साथ भी हर सर्दियों में ये समस्या होती रहती है तो आज हम आपको कुछ ऐसे आसान और घरेलू उपाय बताने जा रहे है जिनकी मदद से आप इस समस्या को ठीक कर पाएंगे। चूँकि ये सभी उपाय पूरी तरह घरेलू है तो इनके इस्तेमाल से आपकी स्किन पर भी कोई दुष्प्रभाव नहीं होंगे। तो आइये जानते है उन उपायों के बारें में –

एड़ियां फटने के कारण :

किसी भी समस्या का इलाज जानने से पूर्व उसके कारणों को पहचान लेना चाहिए ताकि अगली बार इस समस्या को बढ़ने से रोका जा सके। यहाँ हम आपको एड़ियां फटने के कुछ कारणों के बारे में बता रहे है।एड़ियां

एड़ियां फटने का सबसे बड़ा संकेत आपकी एड़ी पर मौजूद मोटी, उखड़ी और दरार पड़ी हुई स्किन होती है। जिसके नींम कारण हो सकते है –

  • लंबे समय तक खड़े रहना।
  • ओपन बैक सैंडल्स पहनना।
  • नंगे पैर घूमना।
  • अपने पैरों या एड़ियों पर हार्श सोप का इस्तेमाल करना।
  • सही से फिट नहीं होने वाले शूज पहनना।
  • मौसमी परिवर्तन।
  • सर्दियों के मौसम में त्वचा के रूखी होने की वजह से।
  • इसके अलावा अगर आप रोजाना अपने पैरों और एड़ियों को सही से मॉइस्चराइज़ नहीं करते है तो भी आपकी एड़ियां काफी जल्दी रूखी होंगी।
मेडिकल कारण :

ड्राई स्किन का मुख्य कारण high blood sugar और blood circulation में तकलीफ होना भी होता है। इसके अलावा नर्व के डैमेज होने से भी आपकी एड़ियां रूखी, बेजान और दर्दनाक हो सकती है।

कुछ अन्य कारण –

  • शरीर में विटामिन की कमी।
  • फंगल इन्फेक्शन।
  • वजन बढ़ाने वाला थाइराइड (hypothayroidism)।
  • स्किन संबंधी परेशानियां।
  • Psoriasis
  • मोटापा।
  • गर्भवस्था।
  • बढ़ती उम्र भी एड़ियों के फटने का कारण होती है।

एड़ियां फटने से बचाने के घरेलू उपाय :-

1. नारियल का तेल :

सर्दियों के मौसम में अक्सर एड़ियां फट जाती है इससे बचने के लिए रोजाना रात को सोने से पहले अपनी एड़ियों पर नारियल का तेल लगाएं। आप चाहे तो इसे हल्का सा गर्म करके भी अपने पैरों पर लगा सकती है। तेल लगाने के बाद पैरों की अच्छे से मसाज भी करें। उसके बाद जुराबें पहनकर सो जाएं। अगली सुबह जागकर अपने पैरों को धो लें। लगातार प्रयोग करने से एड़ियों से संबंधित समस्याएं दूर हो जाएंगी।

2. ग्लिसरीन और गुलाबजल :ediyo ki dekhbhal

इस उपाय का इस्तेमाल आप एड़ियों के फटने के बाद भी कर सकते है। ग्लिसरीन और गुलाबजल दोनों में ही कई ऐसे तत्व पाए जाते है जो स्किन को नमी देकर कोमल बनाने में मदद करते है। इस उपाय के लिए गुलाबजल की 3/4 मात्रा में 1/4 मात्रा ग्लिसरीन मिलाएं और मिश्रण बनायें। अब इस मिश्रण को अपनी एड़ियों पर अच्छे से लगायें। कुछ देर लगा रहने दें और बाद में गुनगुने पानी से साफ़ कर लें। लगातार प्रयोग से एड़ियां नहीं फटेंगी और अगर फट गयी है तो ठीक हो जाएंगी।

3. ओट और जोजोबा आयल :

ओट मील में स्किन को स्क्रब करने के साथ-साथ डेड स्किन निकालने के भी गुण पाए जाते है। जबकि जोजोबा आयल स्किन को मॉइश्चराइज़ करने का काम करता है। इसके लिए ओटमील को पीसकर दरदरा पाउडर बना लें। अब इस पाउडर को जोजोबा आयल के साथ मिक्स करके अपनी एड़ियों पर लगाएं। कुछ देर तक रहने दें और उसके बाद गुनगुने पानी से साफ़ कर लें।

4. शहद :

शहद सिर्फ एड़ियों के लिए ही नहीं बल्कि शरीर के सभी हिस्सों के लिए लाभकारी औषधि है। इसकी मदद से पैरों को हाइड्रेट रखा जा सकता है और साथ ही यह पैरों व्नि एड़ियों को नियमित पोषण देने में भी मदद करती है। इसके लिए पानी में आधा कप शहद मिलाएं और उसमे अपने पैर डुबोएं। 20 मिनट तक पैर पानी में रखने के बाद बाहर निकाल लें। उन्हें अच्छे से पोंछ लें और उनपर मॉइस्चराइज़र लगा लें।

5. ओलिव आयल :

जैतून का तेल स्किन को मॉइस्चराइज़ करने के लिए बेहद मददगार औषधि है। जिसका प्रयोग करके स्किन संबंधित बहुत सी परेशानियों को आसानी से दूर किया जा सकता है। इसके लिए अपनी एड़ियों पर जैतून के तेल से मालिश करें। आधा घंटे तक पैरों पर तेल लगे रहने दें फिर पानी से साफ़ कर लें। हफ्ते में एक बार इस्तेमाल करने से एड़ियां पहले की तरह कोमल और मुलायम हो जाएंगी।

इन्हें भी ध्यान में रखें :- jurabe pehne

> सर्दियों के दिनों में अपनी एड़ियों को फटने से बचाने के लिए दिनभर जुराबें पहनकर रहे। अगर आपको कहीं बाहर जाना है तो बिना जुराब पहनें न जाएँ। क्योंकि बाहर चलने वाली हवाएं उन्हें और रुखा व् बेजान बना देंगी।

> फटी एड़ियां काफी दर्दनाक होती है। ऐसे में इनसे बचने के लिए नियमित रूप से उनपर मॉइश्चराइज़र लगाएं। रात को सोने से पहले, नहाने के बाद और दिन में कम से कम 2 बार एड़ियों को क्रीम से मालिश जरूर करें। और तुरंत जुराब पहन लें।

> एड़ियां फटने का एक कारण फर्श पर नंगे पैर घूमना भी होता है। तो जब आप अपनी एड़ियों का उपचार कर रहे है तो उसके लिए जरुरी है की पूरी सावधानी बरती जाएं। अर्थात फर्श पर नंगे पैर नहीं घूमें।

> ये काफी मामूली बात है लेकिन एड़ियां फटने के लिए ये कारण भी जिम्मेदार होता है। अगर आप चाहते है की आपकी एड़ियां नहीं फटे तो उसके लिए अपने पैरों की सफाई रखें। कहीं बाहर से आने के बाद पैरों को धोएं। उनमे नियमित मॉइस्चराइज़िंग करें और हफ्ते में एक बार स्क्रबिंग भी करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.