Take a fresh look at your lifestyle.

प्रेग्नेंट महिला के लिए एक से नौ महीने तक के पौष्टिक आहार

0

प्रेगनेंसी के दौरान खान पान का बहुत अधिक महत्व होता है क्योंकि खान पान के जरिये महिला के शरीर में जरुरी पोषक तत्वों की कमी पूरी होती है। साथ ही शिशु के विकास के लिए भी पोषक तत्व महिला द्वारा लिए गए आहार के जरिये ही शिशु को मिलते हैं। जिससे गर्भावस्था के नौ महीने महिला को फिट व् स्वस्थ रहने में मदद मिलती है साथ ही गर्भ में शिशु का विकास भी बेहतर तरीके से होने में मदद मिलती है।

तो लीजिये आज इस आर्टिकल में हम प्रेगनेंसी के दौरान महिला का आहार कैसा होना चाहिए और किस तरह महीने दर महीने महिला को अपने खान पान में बदलाव करना चाहिए उसके बार में बताने जा रहे हैं। यदि आप भी माँ बनने वाली है तो आपको भी प्रेगनेंसी के दौरान लिए जाने वाले पौष्टिक आहार की जानकारी होनी चाहिए। ताकि आपको और आपके होने वाले बच्चे को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

गर्भावस्था के पहले महीने में क्या खाएं

प्रेग्नेंट महिला को पहले महीने का पता ही नहीं चलता है लेकिन यदि आप कंसीव करने का ट्राई कर रही है और आपको लगता है की आपका गर्भाधारण हो जायेगा। तो आपको शुरुआत से ही अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए ऐसे में प्रेगनेंसी के पहले महीने में यानी जब आप कंसीव करना का ट्राई कर रही हैं तो आपको हरी सब्जियों, फलों, डेयरी प्रोडक्ट्स, दालें व् बीन्स आदि का भररपुर सेवन करना चाहिए। साथ ही उन चीजों का सेवन करने से परहेज करना चाहिए जो आपकी प्रेगनेंसी होने में बाधा बनते हैं जैसे की गर्म तासीर वाली चीजें, कच्चा पपीता, आदि।

प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में क्या खाएं

गर्भावस्था के दूसरे महीने में शिशु के दिल की धड़कन आती है जिसके बाद धीरे धीरे शिशु के अंग बनने लगते हैं। ऐसे में प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में महिला को ऐसी डाइट लेनी चाहिए जिससे शिशु का शुरुआत से ही विकास बेहतर तरीके से होने में मदद मिल सके। साथ ही दूसरे महीने में महिला के शरीर में हार्मोनल बदलाव अधिक होने के कारण महिला को शारीरिक परेशानियां भी अधिक हो सकती है। ऐसे में महिला को डाइट में ऐसी चीजों को भी शामिल करना चाहिए जिससे महिला की दिक्कतों को कम करने में मदद मिल सके। जैसे की महिला को ओट्स, साबुत अनाज, दूध, दही, दालें, फ्रूट्स आदि का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

प्रेग्नेंट महिला तीसरे महीने में क्या खाएं

गर्भावस्था के तीसरे महीने में शिशु के अंगो का विकास और अच्छे से होने लगता है ऐसे में महिला को अपने खान पान का और अच्छे तरीके से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। इसीलिए महिला को थोड़ी थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए जिससे महिला के शरीर में एनर्जी भरपूर रहे साथ ही शिशु का विकास भी अच्छे से हो। ऐसे में महिला को आलू, शकरकंद, थोड़े थोड़े ड्राई फ्रूट्स, जूस, नारियल पानी, फल, सब्जियां, दालें व् फलियां, आदि का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

प्रेग्नेंट महिला चौथे महीने में क्या खाएं

प्रेगनेंसी के चौथा महीना महिला के लिए थोड़ा रिलैक्स करने वाला होता है क्योंकि अब महिला की शारीरिक परेशानियां भी थोड़ी कम हो जाती है। लेकिन इस महीने में शिशु के अंग लगभग बन चुके होते हैं और उनका विकास होना शुरू हो जाता है। ऐसे में अब महिला को ऐसी डाइट लेनी चाहिए जिससे शिशु के बेहतर विकास में मदद मिल सके। और इसके लिए महिला को अपनी डाइट में कुछ अन्य चीजों को भी शामिल करने की जरुरत होती है जैसे की फलों, सब्जियों, साबुत अनाज, दालों के साथ महिला को अंडे, चिकन, मछली आदि का भी सेवन करना चाहिए।

गर्भावस्था के पांचवें महीने में क्या खाएं

प्रेगनेंसी के पांचवें महीने में महिला को थोड़ी ज्यादा भूख लग सकती है क्योंकि अब शिशु के विकास के लिए भी ज्यादा पोषक तत्वों की जरुरत होती है। ऐसे में महिला को एक बार भरपूर खाना खाने की बजाय थोड़ी थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए जिससे खाना हज़म भी हो जाये और आपको भरपूर मात्रा में पोषक तत्व भी मिल सके। ऐसे में महिला दाल, रोटी, सब्जी के अलावा स्नैक्स के रूप में ब्रेड, सलाद, फ्रूट्स, चने, फलों का रस आदि का सेवन कर सकती है।

प्रेग्नेंट महीना छठे महीने में क्या खाएं

इस दौरान महिला को अपनी डाइट का और अच्छे से ध्यान रखना चाहिए क्योंकि इस दौरान वजन बढ़ने के कारण महिला को पाचन सम्बन्धी समस्या अधिक हो सकती है ऐसे में महिला को फाइबर युक्त डाइट का भरपूर सेवन करना चाहिए। और इसके लिए महिला केला, खट्टे फल, ब्रोकली, गाजर, दालें आदि का भरपूर सेवन कर सकती है।

गर्भावस्था के सातवें महीने में महिला क्या खाएं

प्रेगनेंसी के सातवें महीने में गर्भ में बच्चे का विकास और तेजी से होने लगता है ऐसे में महिला को उन सभी चीजों का सेवन करना चाहिए जिससे बच्चे का शारीरिक और मानसिक विकास तेजी से होने में मदद मिल सके। साथ ही महिला को भी भरपूर एनर्जी मिलें खासकर तरल पदार्थों का इस दौरान महिला को भरपूर सेवन करना चाहिए। ऐसे में महिला को रसदार फल, नारियल पानी, दाल का पानी, सूप, अंडा, मछली, देसी घी, खजूर व् अन्य ड्राई फ्रूट्स और अन्य खाद्य पदार्थों का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

प्रेगनेंसी के आठवें महीने में क्या खाएं

गर्भावस्था के आठवें महीने में महिला को अंडा, चिकन, पालक व् अन्य हरी सब्जियां, दाल, रोटी, चावल, फल, दूध, दही, ड्राई फ्रूट्स आदि का भरपूर सेवन करना चाहिए। लेकिन इस दौरान महिला को कैफीन युक्त चीजों का सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से गर्भ में शिशु पर नकारात्मक असर पड़ने से साथ समय से पहले बच्चे के जन्म का खतरा बढ़ जाता है।

प्रेगनेंसी के नौवें महीने में क्या खाएं

गर्भावस्था के आखिरी महिला में महिला को उन चीजों का भरपूर सेवन करने से चाहिए जिससे महिला के प्रसव को आसान बनाने में मदद मिल सके। जैसे की महिला को खजूर, ड्राई फ्रूट्स, देसी घी, भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ, पालक, मसालेदार आहार, आदि।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के एक से नौ महीने तक महिला को क्या खाना चाहिए उससे जुड़े टिप्स, साथ ही प्रेगनेंसी के दौरान खान पान का ध्यान महिला को जरूर रखना चाहिए। क्योंकि बेहतर खाना पान आपकी प्रेगनेंसी में आने वाली परेशानियों को कम कर सकता है, आपको फिट रखने में मदद करता है और आपकी एक हेल्दी, हष्ट पुष्ट, तंदरुस्त बच्चे को जन्म देने में मदद मिलती है।

First to ninth month diet for pregnant women

Leave A Reply

Your email address will not be published.