वजाइनल इन्फेक्शन जैसे खुजली, सूजन, दर्द, जलन के घरेलू उपचार

0

वजाइनल इन्फेक्शन जैसे खुजली, सूजन, दर्द, जलन के घरेलू उपचार, गुप्तांग में खुजली, जलन, सूजन दूर करने के टिप्स, प्राइवेट पार्ट में खुजली, जलन, सूजन व् दर्द से राहत के घरेलू टिप्स, वजाइना में खुजली से राहत के टिप्स, Home Remedies for Vagina Infection

गुप्तांग से जुडी समस्याएं जैसे खुजली, जलन, सूजन, व् दर्द आदि के होने पर महिला को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही यह शर्मिंदगी की वजह भी हो सकती है, लेकिन कई बार महिलाएं इसे अनदेखा कर देती है। जिसके कारण आप ज्यादा परेशानी होती है आपको ऐसा नहीं करना चाहिए। वजाइना से जुडी यह समस्या हर उम्र की लड़कियों महिलाओं को हो सकती है। इसे लम्बे समय तक इग्नोर करने के कारण आपको ज्यादा परेशानी हो सकती है। तो आइये आज हम आपको इस समस्या के होने के कारण और इससे बचने के कुछ उपचार बताने जा रहें हैं।

वजाइना में जलन, सूजन, खुजली, दर्द के कारण

  • गुप्तांग के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले प्रोडक्ट्स के सूट न करने के कारण आपको यह समस्या हो सकती है।
  • यौन संक्रमित बिमारी होने के कारण आपको इस समस्या से परेशानी हो सकती है।
  • यूरिन इन्फेक्शन का होना भी इसका एक कारण हो सकता है।
  • साफ़ सफाई न रखने के कारण इन्फेक्शन हो सकता है जिसके कारण आपको खुजली जलन जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • वजाइना में बैड बैक्टेरिया की मात्रा की अधिकता होने पर आपको इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • दाद होने पर भी आपको इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • मासिक धर्म के दौरान यदि साफ़ सफाई न रखी जाये तो आपको इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • ज्यादा टाइट अंडरवियर या कपडे पहनने के कारण भी आपको गुप्तांग से जुडी इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

वजाइनल इन्फेशन से बचने के घरेलू नुस्खे

वजाइनल इन्फेशन के होने का सबसे बड़ा कारण होता है साफा सफाई न रखना, यदि आप अपने प्राइवेट पार्ट की अच्छे से साफ़ सफाई रखते हैं तो आपको इस परेशानी से बचाव करने में मदद मिलती है। तो आइये अब जानते हैं कुछ घरेलू नुस्खे जिनसे आपको इस समस्या से बचाव करने में मदद मिलेगी।

नीम

नीम के पत्तों को पानी में उबाल कर दिन में तीन से चार अच्छे से अपने प्राइवेट पार्ट को धोएं। ऐसा करने से बैड बैक्टेरिया को खत्म करने में मदद मिलती है जिससे खुजली, जलन, दर्द, आदि से राहत पाई जा सकती है।

लहसुन

लहसुन को पीस कर एक पेस्ट तैयार करें और उसके बाद वजाइना उसे वजाइना पर लगाएं। ऐसा करने से आपको राहत मिलेगी। आप चाहे तो लहसुन, विटामिन इ और नारियल के तेल को मिलाकर भी लगा सकते हैं इससे भी आपको फायदा मिलता है। इसके अलावा आप लहसुन को अपने आहार में भरपूर लें, इससे भी आपको वजाइनल इन्फेक्शन से जल्दी निजात पाने में मदद मिलती है।

गेंदे के पत्ते

गेंदे के फूल के पत्ते अच्छे से पीसकर एक पेस्ट तैयार करें, उसके बाद उस पेस्ट को अपने प्राइवेट पार्ट लगाएं। थोड़ी देर बाद उसे साफ कर दें ऐसा करने से भी आपको इस समस्या को दूर करने में मदद मिलती है।

दही

दही का इस्तेमाल करने से वजाइना के संतुलन को बनाएं रखने में मदद मिलती है, जिससे आपको हर परेशानी से निजात मिलता है। इसके लिए आप रुई की मदद से दही को लगाएं और दस मिनट बाद गुनगुने पानी से धोएं, ऐसा दिन में दो बार तब तक करें जब तक आपको अच्छे से इस परेशानी से राहत न मिल जाए।

नारियल तेल

नारियल का तेल भी आपको इस समस्या से बचाव करने में मदद कर सकता है, इसके इस्तेमाल के लिए आप दिन में दो से तीन बार प्रभावित जगह पर इसे लगाएं। ऐसा करने से आपको जरूर फायदा मिलेगा।

एलोवेरा जैल

एलोवेरा जैल का इस्तेमाल करने से भी आपको इस परेशानी से निजात पाने में मदद मिलती है इसके लिए आप दिन में दो बार एलोवेरा जेल को प्राइवेट पार्ट में लगाएं। और उसके बाद आधा घंटे के लिए छोड़ दें, और गुनगुने पानी का इस्तेमाल करके बाद में इसे साफ करें। ऐसा करने से आपको ठंडक का अहसास होता है साथ ही संक्रमण से निजात पाने में मदद मिलती है।

सेब का सिरका

दो कप गुनगुने पानी में एक कप सेब का सिरका मिलाएं उसके बाद दिन में दो से तीन बार इसका इस्तेमाल करके प्राइवेट पार्ट को अच्छे से साफ़ करें। ऐसा जब तक करें जब तक आपको पूरी तरह से इस समस्या से निजात न मिल जाए। यह भी वजाइनल इन्फेक्शन से निजात पाने के एक प्रभावी नुस्खा होता है।

टी बैग

गर्म पानी में दस मिनट के लिए एक टी बैग रखें, उसके बाद उसे निकालकर फ्रीज़र में ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद इसे अपने प्राइवेट पार्ट पर दस मिनट तक रखें, ऐसा दिन में तीन से चार बार करें, ऐसा करने से आपको इस समस्या से निजात पाने में मदद मिलेगी।

टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल को प्राइवेट पार्ट पर लगाने से भी आपको बैड बैक्टेरिया को खत्म करके खुजली, जलन, जैसी समस्या से राहत दिलाने में मदद मिलती है।

वजाइनल इन्फेक्शन से राहत के अन्य टिप्स

  • साफ सफाई का ध्यान रखें, जितनी बार शौच जाए उतनी बार अच्छे से पानी से प्राइवेट पार्ट को साफ़ करें।
  • मासिक धर्म के दौरान पैड अच्छी क़्वालिटी का इस्तेमाल करें, और साफ सफाई का ज्यादा ध्यान रखें।
  • ज्यादा खुशबूदार चीजों का इस्तेमाल वजाइना के लिए न करें।
  • सम्बन्ध बनाते समय संक्रमण होने के खतरे से बचने के लिए प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करें।
  • ज्यादा टाइट अंडरवियर न पहने, और जितना हो सकें कॉटन का अंडरवियर पहने।
  • एक कटोरी दही का नियमित सेवन करने से भी आपको इस परेशानी से बचाव करने में मदद मिल सकती है।

तो यह हैं वजाइना में होने वाली खुजली, जलन, दर्द, सूजन आदि से बहने के कुछ घरेलू उपाय। इन टिप्स का इस्तेमाल करने से आपको इस परेशानी से निजात मिल जाता है। इसके अलावा आपको अपने प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई रखनी चाहिए और यदि अधिक परेशानी हो तो इग्नोर न करते हुए किसी स्त्री विशेषज्ञ से राय लेनी चाहिए।

[Total: 4    Average: 2/5]