गर्भावस्था में रोजाना एक चम्मच शहद खाने के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करने के साथ सही मात्रा में खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि यदि आप कोई ऐसी चीज खाते है जो पोषक तत्वों से भरपूर है और प्रेगनेंसी के दौरान फायदेमंद भी है। लेकिन आप जरुरत से ज्यादा उस चीज का सेवन करते हैं तो वह खाद्य पदार्थ आपको फायदा पहुंचाने की जगह नुकसान पहुंचा सकता है। जैसे की शहद, शहद का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान बहुत फायदेमंद होता है।

क्योंकि शहद में एंटी बैक्टेरियल, एंटी वायरल, एंटी फंगल और एंटी ऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। लेकिन यदि इसका जरुरत से ज्यादा सेवन किया जाये तो इसके कारण महिला को नुकसान भी हो सकते हैं। इसीलिए गर्भावस्था के दौरान रोजाना गर्भवती महिला एक या दो चम्मच शहद का सेवन कर सकती है। क्योंकि इससे गर्भवती महिला को बहुत से फायदे मिलते हैं तो आइये अब जानते हैं प्रेगनेंसी में शहद खाने से क्या फायदे मिलते हैं।

इम्यून सिस्टम मजबूत होता है

गर्भवती महिला यदि रोजाना गुनगुने पानी में डालकर या वैसे भी एक चम्मच शहद का सेवन करती है। तो इससे गर्भवती महिला की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद मिलती है। क्योंकि शहद में एंटी बैक्टेरियल और एंटी ऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। और प्रतिरोधक क्षमता के मजबूत होने से गर्भवती महिला को हर तरह के संक्रमण से सुरक्षित रहने में मदद मिलती है। जैसे की खांसी, जुखाम, फ्लू आदि की समस्या गर्भवती महिला को नहीं होती है।

एलर्जी से बचाव होता है

प्रेगनेंसी के दौरान कई बार कुछ खाद्य पदार्थ होते हैं जिन्हे खाने से महिला को एलर्जी हो सकती है, स्किन सम्बन्धी परेशानी होने के कारण एलर्जी हो सकती है, आदि। तो ऐसे में शहद का सेवन प्रेग्नेंट महिला के लिए बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि शहद में एंटी वायरल और एंटी फंगल गुण मौजूद होते हैं। जो गर्भवती महिला को एलर्जी की समस्या से बचाव करने में मदद करते हैं।

स्ट्रेस होता है दूर

गर्भावस्था के दौरान होने वाली परेशानियों के कारण, शारीरिक बदलाव होने के कारण गर्भवती महिला तनाव में आ सकती है। लेकिन शहद में ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो स्ट्रेस को दूर करते हैं। इसीलिए रोजाना एक चम्मच शहद का सेवन करने से महिला को तनाव जैसी परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

अनिंद्रा की समस्या से मिलती है राहत

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण, शारीरिक परेशानियों की वजह से, वजन बढ़ने के कारण सोने में परेशानी होती है और नींद भी नहीं आती है। लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला रोजाना रात को सोने से पहले एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद को मिक्स करके पीती है। तो ऐसा करने से गर्भवती महिला अच्छी नींद आती है।

ठण्ड से बचाव

यदि आप प्रेग्नेंट हैं और सर्दियों का मौसम चल रहा है तो शहद को गुनगुने दूध में डालकर रोजाना पीएं। क्योंकि शहद का सेवन करने से ठण्ड व् ठण्ड के कारण होने वाली परेशानियों से गर्भवती महिला को बचे रहने में मदद मिलते हैं।

वजन

रोजाना एक चम्मच शहद का सेवन करने से गर्भवती महिला के शरीर में कोलेस्ट्रॉल कण्ट्रोल में रहता है। साथ ही यह गर्भवती महिला के वजन को जरुरत से ज्यादा नहीं बढ़ने देता है और वजन को नियंत्रित रखता है। जिससे प्रेग्नेंट महिला को वजन के ज्यादा बढ़ने के कारण होने वाली परेशानियों से बचे रहने में मदद मिलती है।

कब्ज़ से राहत

प्रेगनेंसी के दौरान अधिकतर गर्भवती महिलाएं कब्ज़ की समस्या से परेशान रहती है। ऐसे में शहद का सेवन सेवन करने से गर्भवती महिला को कब्ज़ से राहत पाने में मदद मिलती है। क्योंकि शहद शरीर में फ्रक्टोज के अवशोषण को कम करती है जिससे कब्ज़ से आराम मिलता है साथ ही पेट फूलने और गैस की समस्या से भी बचे रहने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ फायदे जो रोजाना एक चम्मच शहद का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को मिलते हैं। तो यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको भी इन परेशानियों से राहत के लिए प्रेगनेंसी के दौरान रोजाना एक चम्मच शहद का सेवन जरूर करना चाहिए। लेकिन ध्यान रखें की बहुत ज्यादा शहद का सेवन नहीं करें और बहुत ज्यादा गर्म पानी में शहद मिलाकर न पीएं। क्योंकि बहुत गर्म पानी में शहद को मिक्स करने से शहद में मौजूद पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं।