Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

होंठ सूखने और फटने के क्या कारण होते है?

होंठ फटने के कारण और उपाय, होंठ सूखने के क्या कारण होते है, होंठो के सूखने और फटने का कारण, गर्मियों में होंठ क्यों सूखते है, causes of dry lips, remedies to cure dry lips in hindi, होंठ सूखने और फटने के क्या कारण होते है, Honth sukhne ke kya karan hote hai, Honth fatne ke kya karan hote hai

1

होंठो को हमारी खुबसूरती का अभिन्न अंग माना जाता है लेकिन जब यही होंठ बार-बार सूखने या फटने लगे तो ये समस्या का कारण बन जाते है। शायद आप नहीं जानते लेकिन आज के समय में ज्यादातर लोगों के होठ फटते ही है। फटे हुए या सूखे हुए होंठ का केवल हमारी खुबसूरती को खराब करते है अपितु इनके कारण काफी असहजता भी लगती है।

सर्दियों के मौसम में होंठो का फटना आम है लेकिन गर्मियों के मौसम में होंठ सूखने की वजह से भी होंठ फटने ,लगते है, जिसकी वजह से कई बार लोगों के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है। होंठो के सूखने या फटने की सबसे अधिक चिंता लड़कियों को रहती है। क्योंकि लड़कियों को अपने लिप्स बहुत पसंद होते है ऐसे में अगर वे बार-बार फटते रहेंगे तो यह किसी बड़ी समस्या से कम नहीं।होंठ सूखने के कारण

यूँ तो घरेलू उपायों का इस्तेमाल करके होंठो के सूखने और फटने की समस्या को ठीक किया जा सकता है। लेकिन उसके साथ साथ समस्या की मुख्य जड़ यानी कारणों को जान लेना भी आवश्यक है। ताकि होंठो को सूखने से बचाया जा सके। यहाँ हम आपको होंठो के सूखने के कारण बता रहे है। ताकि अगली बार समस्या को शुरू होने से पहले हो खत्म किया जा सके।

होंठ सूखने के क्या कारण होते है?

1. गर्मी के कारण :

गर्मियों के दिनों में चलने वाली गर्म और शुष्क हवाओं के कारण होंठो को काफी नुकसान पहुंचता है। ये हवाएं (लू) होंठो से नमी चुराकर उन्हें रुखा बना देती है। इसके अलावा सूर्य की हानिकारक UV Rays भी होंठो को रुखा बनाने का काम करती है। गर्मी के दिनों में स्वाद से पी जाने वाली सॉफ्ट ड्रिंक्स भी होंठो को काफी नुकसान पहुंचाती है इसलिए हर मौसम (विशेष रूप से गर्मियों में) होंठो का खास ध्यान रखना चाहिए।

2. डिहाइड्रेशन के कारण :

डिहाइड्रेशन कोई बीमारी नहीं बल्कि एक आम समस्या है जो शरीर में पानी की कमी होने के कारण हो जाती है। अगर किसी के शरीर में पानी की कमी हो जाए तो भी होंठ सूखने और फटने लगते है। स्किन की तरह होंठो में भी कोई ऐसी ग्रंथि नहीं होती जो नमी को समा कर रख पाए। जिसके कारण होंठो की नमी बहुत जल्दी खत्म हो जाती है। और होंठ सूखने लगते है। इससे बचने के लिए दिनभर में 8 से 10 ग्लास पानी का सेवन करें। और जितना हो सके तरल पदार्थों का सेवन करें।

3. दवाओं के कारण :होंठ सूखने और फटने के क्या कारण होते है

बहुत से लोग सर्दी-जुखाम, बेचैनी, दर्द, नाक की एलर्जी, डिप्रेशन आदि के लिए दवाएं लेते है। लेकिन कई बार इन दवाओं का साइड इफ़ेक्ट होने लगता है, जिसके कारण होंठ फटने लगते है। अगर आपके द्वारा ली जाने वाली किसी दवा के कारण होंठ फट रहे है तो तुरंत उस दवा का सेवन बंद कर दें। और इस बारे में अपने डॉक्टर से जरुरी पूछें।

4. नाक की बजाय मुंह से सांस लेना :

बहुत से लोग नाक से सांस लेने की बजाय मुंह से सांस लेते है। जिसके कारण सांस लेते समय हवा होंठो से स्पर्श होने लगती है और होंठ सूखने लगते है। इसके अलावा कुछ बीमारियाँ भी है जिनके कारण लोगों से नाक की बजाय मुंह से सांस लेनी पड़ती है – जैसे : साइनसाइटिस, सर्दी-जुखाम, बंद नाक। और होंठो पर बुरा असर पड़ता है।

5. होंठो को चबाने या चाटने के कारण :

बहुत से लोगों की बार-बार होंठ चबाने या चाटने की आदत होती है जिसके कारण होंठो में नमी की कमी हो जाती है। होंठो को बार-बार जीभ से चाटने पर भी होंठो में नमी की कमी हो जाती है जिसकी वजह से होंठ ड्राई और रूखे होने लगते है। इसलिए होंठो को कभी भी दबाना, चाटना या चबाना नहीं चाहिए।

6. एलर्जी के कारण :

निकोल और कोबाल्ट की वजह से यदि होंठो में एलर्जी हो जाए तो भी होंठ फटने लगते है। बहुत सी लिपस्टिक और टूथपेस्ट में हानिकारक केमिकल पाए जाते है, जो होंठो में एलर्जी उत्पन्न कर सकते है। और इस एलर्जी के कारण होंठ सूखने लगते है। इसलिए ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए जिनमे केमिकल का इस्तेमाल किया गया हो। इसके अतिरिक्त कुछ खान-पान वाली चीजों में भी फ़ूड डाई मौजूद होती है जो होंठो में एलर्जी पैदा कर सकते है।

7. अधिक समय तक बाहर रहने और धूप के संपर्क में रहने से :

सर्दी हो या गर्मी, बरसात हो या कोई और मौसम अधिक देर तक घर से बाहर रहने और अधिक समय तक धूप के संपर्क में रहने से भी होंठो को काफी नुकसान होता है। इसलिए हर मौसम में होंठो की खास देखभाल करनी चाहिए। फिर चाहे वो पानी से हो या किसी मोइस्चराइज़र से।

8. केमिकल युक्त टूथपेस्ट :

बहुत से टूथपेस्ट में केमिकल मिलाया जाता है जो होंठो में जलन पैदा कर सकते है और इसके कारण होंठ सूखने लगते है। इसलिए हमेशा हर्बल और नेचुरल टूथपेस्ट का ही इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अतिरिक्त कुछ खाद्य पदार्थ जैसे चयूइंगम, टॉफ़ी और जंक फ़ूड आदि से भी दूर रहना चाहिए क्योंकि इनमें मौजूद तत्व होंठो को काफी नुकसान पहुंचाते है।

अन्य कारण :-

इसके अतिरिक्त भी कुछ कारण है जिनकी वजह से होंठ सूखने लगते है।

  • शरीर में विटामिन बी 12 और अन्य पोषक तत्वों की कमी के कारण।
  • यीस्ट इंफेक्शन के कारण।
  • हाइपर विटामिनोसिस ए के कारण।
  • डायबिटीज की वजह से।
  • शरीर में डिहाइड्रेशन के कारण।

तो, ये थे कुछ सामान्य कारण जिनकी वजह से होंठ सूखने और फटने लगते है। अगर आप इन कारणों पर ध्यान दें तो इस समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते है। अन्य बातों का ध्यान रखने के साथ-साथ एक बात का विशेष ध्यान रखें – पानी भरपूर मात्रा में पीयें और रोजाना रात को सोते समय नाभि पर सरसों या नारियल का तेल लगायें। पानी इसलिए क्योंकि ये आपके होंठो और शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करेगा और तेल इसलिए की ये आपके होंठो को अंदरूनी तौर पर सॉफ्ट और मुलायम बनाएगा।

Show Comments (1)