प्रेगनेंसी में ठंडा पानी पीना चाहिए या गर्म पानी पीना चाहिए?

0

गर्भावस्था के दौरान कुछ भी खाने या पीने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी होता है। क्योंकि यदि महिला कुछ गलत खा लेती है या पी लेती है, जरुरत से ज्यादा किसी चीज का सेवन कर लेती है, गलत समय पर किसी चीज का सेवन करती है तो इसकी वजह से गर्भवती महिला व् गर्भ में पल रहे शिशु को परेशानी होने का खतरा बढ़ जाता है।

ऐसे में हर चीज की पूरी जानकारी होने के बाद ही गर्भवती महिला को कुछ खाना या पीना चाहिए। आज इस आर्टिकल में हम गर्भवती महिला को ठंडा पानी पीना चाहिए या गर्म पानी पीना चाहिए इससे जुडी जानकारी बताने जा रहे हैं। ताकि आपको प्रेगनेंसी के दौरान कैसा पानी पीना चाहिए उसके बारे में पता चल सके।

प्रेग्नेंट महिला ठंडा पानी पीये या गर्म पानी

गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान एक दिन में आठ से दस गिलास पानी पीने की सलाह दी जाती है क्योंकि पानी का भरपूर सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला की शारीरिक परेशानियां कम होती है, गर्भवती महिला स्वस्थ रहती है व् गर्भ में शिशु का विकास बेहतर तरीके से होता है। ऐसे में कुछ महिलाओं के मन में पानी को लेकर सवाल होता है की प्रेगनेंसी में ठंडा पानी पीना चाहिए या गर्म, तो इसका जवाब है की गर्भवती महिला प्रेगनेंसी के दौरान ठन्डे पानी का सेवन कर सकती है लेकिन यदि ठण्ड का मौसम है।

तो महिला को ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि इससे सर्दी, जुखाम ठंडा लगने का खतरा रहता है। साथ ही गर्भवती महिला को गर्म पानी भी नहीं पीना चाहिए क्योंकि ज्यादा गर्म पानी पीने से शरीर के तापमान में फ़र्क़ आ सकता है जिसकी वजह से बच्चे पर गलत असर पड़ता है जिसकी वजह से गर्भपात, समय से पहले डिलीवरी जैसी परेशानियां भी हो सकती है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को पानी का सेवन करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए की गर्भवती महिला को न तो ज्यादा गर्म पानी पीना चाहिए और न ही ठंडा पानी पीना चाहिए बल्कि महिला को नोर्मल तापमान का पानी पीना चाहिए। जिससे माँ और बच्चा दोनों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो।

READ  सर्दियों में त्वचा काली पड़ गई है? अब ऐसे ठीक करें

प्रेगनेंसी में पानी पीने के फायदे

  • महिला को हाइड्रेट रहने में मदद मिलती है जिससे प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सी परेशानियों से निजात मिलता है।
  • पानी का भरपूर सेवन करने से शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकलते हैं।
  • गर्भवती महिला की बॉडी हाइड्रेट रहने से महिला को ऊर्जा से भरपूर रहने में मदद मिलती है।
  • पानी का भरपूर सेवन करने से गर्भाशय में एमनियोटिक फ्लूड की मात्रा सही रहती है जिससे गर्भ में शिशु का विकास अच्छे से होता है।
  • पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है कब्ज़ से निजता मिलता है।
  • ब्लड प्रैशर नोर्मल रहता है।
  • स्किन हेल्दी रहती है।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में ठंडा पानी पीना चाहिए या गर्म पानी पीना चाहिए उससे जुड़े टिप्स। साथ ही पानी पीने के बेहतरीन फायदे भी बताएं गए हैं, इसीलिए गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए। ताकि प्रेग्नेंट महिला और शिशु को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

Hot or cold water during Pregnancy

Leave A Reply

Your email address will not be published.