डिलीवरी के बाद लूज़ पेट को टाइट करने के तरीके

प्रेगनेंसी के दौरान लगातार बच्चे के बढ़ते विकास के साथ गर्भाशय का आकार भी बढ़ता है जिसके कारण पेट भी बाहर की तरफ निकलता है। डिलीवरी होने के बाद एक दम से पेट अंदर नहीं जाता है और पेट की स्किन भी लटकी हुई सी महसूस होती है। ऐसे में पेट की लूज़ स्किन को देखकर महिलाओं को ऐसा लगता है की उनकी सुंदरता और फिटनेस कम हो गई है।

साथ ही महिला को ऐसा भी लगता है की अब यह स्किन कभी टाइट नहीं होगी जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। क्योंकि कुछ ऐसे खास टिप्स हैं जिनका ध्यान यदि डिलीवरी के बाद रखा जाता है तो इससे महिला के लूज़ पेट की स्किन को टाइट करने में मदद मिलती है। तो आइये जानते हैं की वो टिप्स कौन से हैं:

बेल्ट पहने

डिलीवरी के बाद यदि आप चाहती है तो आपकी बेली स्किन लूज़ न हो इसके लिए आपको बच्चे के जन्म के बाद पेट पर मेटरनिटी बेल्ट बांधनी चाहिए। ऐसा करने से आपको उठने बैठने में आसानी होती है साथ ही पेट के आस पास की मांसपेशियों को टाइट रहने में मदद मिलती है। जिससे लूज़ बेली को टाइट करने में मदद मिलती है।

बच्चे को फीड जरूर करवाएं

डिलीवरी के बाद महिला को लूज स्किन को टाइट करने के लिए अपने बेबी को फीड जरूर करवाना चाहिए। क्योंकि फीड करवाने से शरीर की मांसपेशियों पर जोर पड़ता है जिससे मांसपेशियों को सेट होने में मदद मिलती है। और मांसपेशियों का ढीलापन दूर होने लगता है। और जब ऐसा होता है तो धीरे धीरे महिला की बेली शेप में आने लगती है।

पूरा दिन बैठी न रहें

डिलीवरी के बाद बेबी को फीड करवाने के अलावा ज्यादा समय तक महिला को कमर सीधी करके बैठना नहीं चाहिए। बल्कि जितना हो सके लेटे रहना चाहिए। क्योंकि ज्यादा बैठने से आपकी यह परेशानी बढ़ सकती है। इसके अलावा महिला को अपनी नींद भी भरपूर लेनी चाहिए क्योंकि जितना महिला आराम करती है उतना ही जल्दी महिला को फिट होने में मदद मिलती है।

डाइट

डिलीवरी के लूज़ बेली को टाइट करने के लिए महिला को अपनी डाइट का भी अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि महिला जितना अच्छे तरीके से अपनी डाइट लेती है। उतना ही महिला की स्किन को, बॉडी को पोषण मिलता है, जिससे महिला को डिलीवरी के बाद वापिस फिट होने में मदद मिलती है। साथ ही स्किन को पोषण मिलने पर स्किन का लचीलापन बढ़ने लगता है और ढीली त्वचा टाइट होने लगती है।

गर्म पानी

पेट की ढीली त्वचा को टाइट करने के लिए महिला को गरम पानी भी पीना चाहिए। क्योंकि गरम पानी पीने से बॉडी के टॉक्सिन्स बाहर निकलते हैं, वसा का जमाव कम होता हैं, जिससे बॉडी को वापिस सही शेप में जल्दी से जल्दी आने में मदद मिलती है। इसके अलावा महिला को दिन भर में नोर्मल पानी का भी भरपूर सेवन करना चाहिए क्योंकि जितना महिला हाइड्रेटेड रहती है उतना ही स्किन में लचीलेपन को बढ़ाने में मदद मिलती है।

मालिश

डिलीवरी के बाद पेट की मालिश करवाने से भी आपको लूज़ बेली की समस्या से निजात पाने में मदद मिलती है। क्योंकि मालिश करवाने से शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है, मांसपेशियों को टाइट होने में मदद मिलती है साथ ही स्किन में लचीलापन भी बढ़ता है। जिससे बहुत जल्दी स्किन के ढीलेपन को दूर करने में मदद मिलती है। लेकिन ध्यान रखें की यदि आपकी डिलीवरी सिजेरियन हुई है या फिर आपको डिलीवरी में टाँके आये हैं तो मालिश करवाने से पहले एक बार डॉक्टर की राय जरूर लें।

व्यायाम

डिलीवरी के तुरंत बाद नहीं बल्कि थोड़ा समय रुक कर धीरे धीरे व्यायाम करना भी शुरू करें। क्योंकि व्यायाम करने से मांसपशियों को टाइट करने, शरीर में ब्लड फ्लो को सुधारने में मदद मिलती है। जिससे डिलीवरी के बाद लूज़ बेली की समस्या से प्रेग्नेंट महिला को बहुत जल्दी आराम पाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ आसान टिप्स जिन्हे ट्राई करने से डिलीवरी के बाद महिला को लूज़ बेली को टाइट करने में मदद मिलती है। लेकिन ध्यान रखें की बेली को टाइट करने के लिए महिला बिल्कुल भी खाना नहीं छोड़ें, जरुरत से ज्यादा व्यायाम नहीं करें, तनाव नहीं लें, स्तनपान न छुड़वाएं, क्योंकि ऐसा करने से महिला की परेशानी कम होने की बजाय बढ़ सकती है।

How to Tighten Loose Belly Skin after Delivery