Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

जांघ में रगड़ या काछ का उपचार

जांघ में रगड़ या काछ का उपचार, जांघ में रगड़ या काछ होने के कारण, जांघ में रगड़ या काछ का उपाय, जांघो के बीच रैशेस होने के कारण और बचाव, jaangh me ragad ke karan, jaangh me ragad se bachne ke upay, जांघ में रगड़ या काछ से बचने के घरेलू नुस्खे

0

जांघ में रगड़ होने के कारण चलने फिरने में परेशानी, खुजली व् जलन महसूस होना आम बात होती है। इन्हे रैशेस की समस्या भी कहा जाता है, यह कोई बिमारी नहीं होती है। बल्कि स्किन के साथ होने वाला एक साइड इफ़ेक्ट होता है, जो की स्किन में घर्षण होने के कारण हो जाता है। यह परेशानी गर्मियों व् बरसात के मौसम में ज्यादा होती है। साथ ही इसका एक कारण अधिक पसीना आना भी हो सकता है। और कई बार यदि स्किन में संक्रमण हो जाए तो भी आपको यह परेशानी हो सकती है।

जिन लोगो का वजन अधिक होता है, जो लोग पैरों को सटाकर चलते है, साइकिलिंग करते है, जॉगिंग अधिक करते है, उन्हें इस परेशानी का सामना अधिक करना पड़ता है। क्योंकि इससे आपकी जांघो के बीच अधिक घर्षण उत्त्पन्न होता है जिसके कारण आपको यह परेशानी हो सकती है। और यह समस्या केवल बड़ो को ही नहीं बल्कि बच्चों को भी हो सकती है। तो आइये आज हम आपको जांघो पर रगड़ लगने के कारण होने वाली परेशानी से बचने के कुछ आसान उपाय बताते है।

जांघ में रगड़ या काछ के कारण:-

  • स्किन में अधिक नमी होने के कारण।
  • अधिक साइकिलिंग या जॉगिंग करने के कारण।
  • जांघो के आस पास रगड़ होने के कारण।
  • स्किन के अधिक सूखे होने पर।
  • जो लोग ज्यादा टाइट कपडे पहनते है उन्हें भी यह परेशानी हो सकती है।
  • फंगल या बैक्टीरियल संक्रमण के कारण भी ऐसा हो सकता है।
  • जिन लोगो को अधिक पसीना आता है उन्हें भी यह परेशानी हो सकती है।
  • पैरों को अधिक सटाकर चलने वालो को भी यह समस्या हो सकती है।

जांघ पर रगड़ की समस्या से बचने के उपाय:-

तुलसी:-

तुलसी में मौजूद औषधीय गुण आपको इस समस्या से बचाने में मदद करते है। इसके लिए आप तुलसी के पत्तो को पीसकर उसके बाद उसमे थोड़ा सा काला नमक मिलाएं। और इसे रगड़ वाली जगह पर लेप की तरह इस्तेमाल करें। और थोड़ी देर के लिए लगा रहने दें, रगड़ के पूरी तरह ठीक हो जाने तक इस तरीके का इस्तेमाल करें।

सफ़ेद सिरका:-

चार बड़े चम्मच पानी में एक बड़ा चम्मच सफ़ेद सिरके का मिलाकर अच्छे से गर्म करें, उसके बाद रुई की मदद से इसे रगड़ पर लगाएं। और इसे अच्छे से साफ़ करें, इससे उसके आस पास मौजूद बैक्टेरिया को खत्म करके, रगड़ को ठीक करने में मदद मिलेगी। ऐसा दिन में दो से तीन बहार करें।

नारियल का तेल:-

नारियल का तेल भी आपकी स्किन से जुडी परेशानी को हल करने का एक असरदार उपाय है। इसके लिए आप दिन में दो से तीन बार अच्छे से नारियल का तेल अपनी रगड़ पर लगाएं, इससे आपकी स्किन को ठीक होने में मदद मिलती है।

एलोवेरा:-

एलोवेरा भी आपकी त्वचा को ठंडक देने में मदद करता है। इसके लिए आप एलोवेरा के ताजे पत्ते को तोड़कर उसका जेल निकाल लें। और हल्के हाथों से इसे अच्छे से अपनी रगड़ पर लगाएं, ऐसा करने से आपकी स्किन को ठंडक पहुँचने में मदद मिलती है। और रगड़ पर नियमित लगाने से इस समस्या से बहुत जल्दी निजता पाने में मदद मिलती है।

टी ट्री ऑयल:-

टी ट्री ऑयल में मौजूद औषधीय गुण आपको इस परेशानी से वचाने के साथ संक्रमण से बचाव करने में भी मदद करते है। इसके लिए आप दिन में दो बार चार से पांच बूंदे टी ट्री ऑयल की अच्छे से अपनी रगड़ पर लगाएं। इसका असर आपको एक ही दिन में दिखाई देने लगेगा।

खट्टी दही:-

खट्टी दही को भी रैशेस पर लगाने से भी आपको राहत मिलती है, इसके लिए आप दही को लगाकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दें, उसके बाद पानी की मदद से इसे साफ़ कर दें, दिन में दो बार अच्छे से इसे स्किन पर लगाएं, इससे आपको जांघो से जुडी इस परेशानी का समाधान करने में मदद मदद मिलती है।

निम्बू:-

नारियल के तेल में निम्बू या फिर केले को मैश करके इसमें निम्बू का रस मिलाकर रगड़ पर अच्छे से लगाएं। उसके बाद इसे थोड़ी देर के लिए ऐसे ही छोड़ दें, ऐसा दिन में दो बार करें जब तक की आपको अच्छे से आराम न आ जाए। इससे आपको इस समस्या को जल्दी खत्म करने में मदद मिलती है।

नीम:-

नीम के पत्तों को अच्छे से पीस कर लेप तैयार करें, उसके बाद इसे रगड़ पर लगाएं। उसके बाद इसे थोड़ी देर के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दे, उसके बाद पानी में नीम के पत्तों को अच्छे से उबाल कर उस पानी के गुनगुना रहने पर इसे अच्छे से साफ़ करें। ऐसा करने से आपको इस समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है। साथ ही नीम के औषधीय गुणों के कारण यदि इन्फेक्शन हो तो उसे ठीक करने में भी मदद मिलती है।

जांघ में रगड़ या काछ से बचने के उपचार:-

  • विटामिन इ के तेल का इस्तेमाल करने से भी आपको इस समस्या से बचाव करने में मदद मिलती है।
  • ओलिव ऑयल का प्रयोग करने से भी फायदा मिलता है।
  • अजवाइन को पीस कर पानी के साथ मिलाकर लेप तैयार करें और उसका प्रयोग करें।
  • सरसों के तेल और पाउडर को मिलाकर लगाने से भी आपको इससे बचने में मदद मिलती है।
  • यदि आपको ज्यादा परेशानी है तो आप इसके लिए डॉक्टर से भी राय ले सकते है।
  • ज्यादा टाइट कपडे नहीं पहनने चाहिए।

तो यदि आपको भी ये समस्या है तो आप भी ऊपर दिए गए टिप्स का इस्तेमाल कर सकते है इससे आपको जल्दी ही इस समस्या से बचने में मदद मिलती है। साथ ही सिंथेटिक कपड़ो को अधिक पहनने से बचना चाहिए क्योंकि इनके कारण भी आपको इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, खासकर गर्मियों में आपको जितना हो सके कॉटन के कपडे पहनने चाहिए।

Leave a comment