5 दिन से ज्यादा पीरियड्स होने की समस्या से बचने के घरेलू इलाज

पीरियड्स का मासिक चक्र अठाइस दिन का होता है लेकिन कुछ महिलाओं या लड़कियों को यह दो चार दिन आगे पीछे हो जाते हैं। और ऐसा होने पर परेशान होने की जरुरत नहीं होती है क्योंकि ऐसा होना आम बात होती है। साथ ही पीरियड्स महिला को तीन से पांच दिन तक होते हैं और शुरूआती दो दिनों में ब्लीडिंग की समस्या ज्यादा होती है। लेकिन कुछ महिला को पांच दिन से ज्यादा ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है। साथ ही ब्लीडिंग भी ज्यादा होती है ऐसे में इस परेशानी को अनियमित माहवारी कहते हैं।

यदि किसी महिला को यह परेशानी होती है तो महिला को इसे बिल्कुल भी अनदेखा नहीं करना चाहिए। क्योंकि अनियमित माहवारी की समस्या के कारण महिला के शरीर में बहुत ज्यादा कमजोरी आती है। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको अनियमित माहवारी की समस्या से बचने के कुछ आसान नुस्खे बताने जा रहे हैं। और यदि महिला या लड़की इन बातों का ध्यान रखती है तो ऐसा करने से महिला को इस परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

पीरियड्स ज्यादा दिन तक होने के कारण

  • बॉडी में हार्मोनल असंतुलन होना।
  • गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन।
  • गर्भपात के बाद महिला को यह दिक्कत हो सकती है।
  • किसी शारीरिक बिमारी से ग्रसित होने के कारण, इसके कारण पीरियड्स मिस भी हो सकते हैं।
  • तनाव से ग्रसित महिला को भी यह परेशानी होने की सम्भावना अधिक होती है।
  • पीरियड्स के दौरान आराम करने की बजाय बॉडी पर अधिक दबाव डालने के कारण।

ज्यादा दिन तक पीरियड्स होने की समस्या से बचने के आसान तरीके

यदि कोई महिला ज्यादा दिन तक पीरियड्स होने की समस्या से परेशान है तो कुछ आसान टिप्स का इस्तेमाल करके महिला इस परेशानी से निजात पा सकती है। तो आइये अब ऐसे ही कुछ टिप्स के बारे में विस्तार से जानते हैं।

तनाव लेने से बचें: महिला या पीरियड्स के दौरान मानसिक रूप से बहुत अधिक परेशान रहती है तो इसके कारण ज्यादा दिनों तक ब्लीडिंग होने के साथ ब्लड फ्लो की परेशानी भी ज्यादा होती है। ऐसे में इस परेशानी से बचने के लिए मानसिक रूप से रिलैक्स रहें।

सम्बन्ध बनाएं: यदि किसी शादीशुदा महिला को यह परेशानी है तो उस महिला को पीरियड्स के दौरान सम्बन्ध बनाना चाहिए। ऐसा करने से पीरियड्स जल्दी खत्म हो जाते हैं साथ ही पीरियड्स के दौरान होने वाली दर्द आदि की समस्या से भी महिला को बचे रहने में मदद मिलती है।

व्यायाम करें: नियमित रूप से व्यायाम करने के साथ पीरियड्स आने पर भी महिला को हल्का फुल्का व्यायाम करते रहना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से बॉडी की सभी क्रियाओं की नियमित रूप से काम करने में मदद मिलती है। और पीरियड्स ज्यादा दिनों तक आने की परेशानी से भी राहत मिलती है।

विटामिन सी युक्त आहार: ज्यादा दिन पीरियड्स आने की परेशानी से बचने के लिए विटामिन सी युक्त आहार को अपनी डाइट में महिला को शामिल करना चाहिए। क्योंकि विटामिन सी बॉडी में प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन की मात्रा को कम कर देता है। साथ ही विटामिन सी गर्भाशय की अंदरूनी सतह को जल्दी तोड़ने में मदद करता है जिससे पीरियड्स जल्दी खत्म होते हैं। लेकिन महिला को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की विटामिन सी का भरपूर सेवन करने के साथ महिला को पानी का भी भरपूर सेवन करना चाहिए।

सौंफ: एंटीस्पास्मोडिक तत्व से भरपूर सौंफ का सेवन पीरियड्स से एक हफ्ता पहले या पीरियड्स के दौरान करने से पीरियड्स से जुडी हर समस्या से निजात पाने में मदद मिलती है।

खाने की चीजों का ध्यान रखें: चाय, कॉफ़ी, ठंडी चीजें, मसालेदार खाना आदि का सेवन अधिक मात्रा में न करें। बल्कि अपनी डाइट में पोषक तत्वों से भरपूर चीजों को शामिल करें। ऐसा करने से भी पीरियड्स को नियमित करने में मदद मिलती है।

पपीते का जूस: पपीते के जूस का सेवन करने से पीरियड्स को नियमित करने व् ज्यादा दिन तक ब्लीडिंग की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

डॉक्टर से मिलें: ज्यादा दिनों तक पीरियड्स होने की समस्या को महिला को अनदेखा नहीं करना चाहिए। और जितना हो सके इस परेशानी से बचने के लिए व् अपने आप को फिट रखने के लिए डॉक्टर से मिलें।

तो यह हैं कुछ आसान टिप्स जिनका ध्यान रखने से महिला को अनियमित माहवारी की परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है। यदि आपको भी यह दिक्कत है तो आप भी इन आसान टिप्स का इस्तेमाल कर सकती है।