प्रेग्नेंसी में कीवी खाने के फायदे

प्रेग्नेंसी में कीवी के फायदे
0

Benefits of Kiwi Fruit in Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान फल खाना बहुत फायदेमंद होता है। खासकर गर्मियों के दिनों में। इस मौसम में गर्मी, आलस और थकान से बचने के लिए ऐसे फल खाने चाहिए जिनमे रस अच्छी मात्रा में हो। कीवी फल भी उन्ही में से एक है। कीवी फल में रस के साथ-साथ कई सारे पोषक तत्व भी प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं। जो गर्भवती महिला के साथ-साथ गर्भ में पल रहे शिशु को भी फायदा पहुंचाते हैं। आज हम आपको प्रेग्नेंसी में कीवी फल खाने के फायदे बता रहे हैं।

कीवी फल क्या है?

रस और फाइबर से भरपूर कीवी फल उन पौष्टिक फलों में से एक है जिसे गर्भवती महिला को जरूर खाना चाहिए। कीवी फल हरे रंग का होता है जिसमे रस होता है। इस फल में छोटे-छोटे काले बीज होते हैं। ओवल आकार का यह फल अंदर से सॉफ्ट और खाने में मीठा होता है।

कीवी फल के पोषक तत्व

छोटे से कीवी फल में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं। कीवी में पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट, डाइट्री फाइबर, प्रोटीन, कोलीन, विटामिन A, कैल्शियम, विटामिन बी 6, मैग्नेशियम, पोटैशियम, फोलेट, विटामिन E, विटामिन K, और फॉस्फोरस जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। कीवी में सबसे अधिक विटामिन C होता है जो प्रेग्नेंसी के दौरान आवश्यक पोषक तत्व है।

प्रेग्नेंसी में कीवी फल खाने के फायदे

गर्भावस्था में कीवी खाने के निम्नलिखित फायदे होते हैं –

शिशु के लिए

कीवी में फोलिक एसिड होते हैं जो गर्भ में पल रहे शिशु के समुचित विकास में मदद करता है। ये तत्व शिशु के मस्तिष्क और केंद्रीय तंत्रिका प्रणाली के विकास में मदद करता है और शिशु को जन्म के साथ होने वाली मस्तिष्क संबंधी समस्यायों से बचाने में मदद करता है। फोलिक एसिड गर्भ में शिशु के जरुरी अंगों के विकास में मदद करता है। प्रेग्नेंसी के दौरान कीवी खाने से मिसकैरिज की संभावनाएं भी कम हो जाती है।

इम्यून सिस्टम के लिए

गर्भ में पल रहे शिशु के मस्तिष्क के विकास के लिए शरीर में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा होना आवश्यक होता है। एंटी ऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी से प्रचुर फल गर्भवती महिला के शरीर से सभी टॉक्सिन्स को बाहर निकालकर इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं। जिससे गर्भ में पल रहा शिशु भी बिमारियों से बचा रहता है।

ब्लड शुगर लेवल

गर्भावस्था के दौरान कई महिलाओं को मीठा खाने की बहुत इच्छा होती है। कीवी में प्राकृतिक शुगर होती है जो महिलाओं की मीठा खाने की इच्छा की पूर्ति करती हैं। Glycemic index कम होने के कारण इसका ब्लड में इंसुलिन लेवल पर कोई असर नहीं पड़ता। तो अगर आपको मीठा खाने की इच्छा हो तो मिठाई या चॉकलेट खाने की बजाए कीवी का स्वाद लें। ये आपके लिए फायदेमंद रहेगी।

पाचन सुधारे

प्रेग्नेंसी के दौरान कब्ज, गैस आदि पेट से संबंधित समस्याएं होना आम बात है। जिससे निजात पाने के लिए महिला को भोजन में प्रोबायोटिक्स युक्त भोजन का सेवन करना चाहिए। प्रोबायोटिक्स डायरिया, मितली, पेट में दर्द और गैस आदि की समस्या से निजात दिलाने में मदद करते हैं। कीवी में डायट्री फाइबर होता है जो पेट को स्वस्थ रखने में मदद करता है। कीवी खाने से पाचन में सुधार आता है और पाचन तंत्र भी सही तरीके से कार्य करता है।

हड्डियों के लिए

गर्भ में पल रहे शिशु की हड्डियों, मांसपेशियों, दांतो और हृदय को स्वस्थ रखने के लिए कैल्शियम एक आवश्यक पोषक तत्व है। कीवी फल में कैल्शियम अच्छी मात्रा में होता है। अगर आप आहार में कीवी को शामिल करती हैं तो शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होगी और मैग्नेशियम भी सही मात्रा में मिलेगा।

विटामिन और मिनरल्स की प्रचुर मात्रा

विटामिन सी की प्रचुरता के अतिरिक्त कीवी में विटामिन ई भी प्रचुर मात्रा में होता है। जो आपकी और गर्भ में पल रहे शिशु की कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाएगा। विटामिन ई स्किन को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। जिससे प्रेग्नेंसी के दौरान और डिलीवरी के बाद भी आपकी त्वचा दमकती हुई रहेगी।

शिशु के मस्तिष्क का विकास

कीवी में कॉपर नामक पोषक तत्व होता है जो गर्भ में पल रहे शिशु के मस्तिष्क के विकास में मदद करता है और शिशु के इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। कीवी खाने से शिशु को जन्म के साथ होने वाली बिमारियों से भी बचाव होता है।

हॉर्मोन्स बैलेंस रखें

प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला के शरीर में कई तरह के हार्मोनल चैंजेस होते रहते हैं। इन चैंजेस के कारण कई महिलाएं तनाव, थकान और कमजोरी महसूस करने लगती हैं। कीवी खाने से हॉर्मोन्स को बैलेंस रखने में मदद मिलती है जिससे मूड स्विंग्स कम होते हैं और महिला को अच्छा फील होता है।

स्ट्रेच मार्क्स के लिए

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स महिलाओं के लिए एक समस्या होती है। कीवी त्वचा में कोलेजन के निर्माण को बढ़ाता है जो त्वचा में खिंचाव लाता है। शोध में पाया गया है कीवी के नियमित सेवन से डिलीवरी के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स से निजात मिलती है।

आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर

कीवी में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है। जो गर्भ में पल रहे शिशु और गर्भवती महिला के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके साथ-साथ कीवी में पोटैशियम भी अच्छी मात्रा में होता है। कीवी में विटामिन ई भी होता है। जो त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद होता है। कीवी गर्भवती महिला की इम्युनिटी बढ़ाने में भी मदद करती है और इंफेक्शन से बचाव करती है। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को कीवी जरूर खानी चाहिए। पर ध्यान रहे, ज्यादा मात्रा में कीवी नहीं खाएं। ज्यादा खाने से आपको समस्या हो सकती है।