लेबर पेन शुरू करने के तरीके

0

प्रेगनेंसी महिला के लिए एक ऐसा लम्हा होता है जो महिला के लिए उसकी जिंदगी में खुशियां लेकर आता है। लेकिन साथ ही महिला को इस दौरान बेचैनी, घबराहट, टेंशन जैसी परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है। खासकर जो महिलाएं पहली बार माँ बन रही होती है उन्हें शरीर में होने वाले बदलाव को समझने के साथ अपने बच्चे और अपने स्वास्थ्य का ध्यान भी रखना होता है। और महिलाएं इसमें कोई कमी नहीं रखती है और प्रेगनेंसी में अपना पहले से दुगुना ध्यान रखती है। इसके बाद जैसे जैसे डिलीवरी का समय आता है तो शरीर में कुछ ऐसे लक्षण महसूस होते हैं।

जो इस बात का संकेत देते हैं की अब आपके बच्चे के जन्म लेने में कुछ ही समय रह गया है। लेकिन कुछ केस ऐसे भी होते हैं की डिलीवरी का समय पास आने पर भी शरीर में प्रसव के कुछ लक्षण महसूस नहीं होता हैं। ऐसे में डॉक्टर आपको आर्टिफिशल पेन देकर आपकी डिलीवरी कर सकते है या फिर आपको सिजेरियन डिलीवरी द्वारा बच्चे को जन्म देने की सलाह दे सकते हैं। लेकिन यदि आप चाहे तो लेबर पेन की शुरुआत के लिए डिलीवरी का समय पास आने पर कुछ घरेलू नुस्खों को ट्राई कर सकती है। जैसे की:

सम्बन्ध

ऐसा माना जाता है की यदि महिला को प्रसव पीड़ा की शुरुआत नहीं होती है तो ऐसे में महिला को अपने पार्टनर के साथ पूरी सावधानी से सम्बन्ध बनाना चाहिए। क्योंकि सम्बन्ध बनाने से गर्भाशय में संकुचन उत्पन्न करने में मदद मिलती है। लेकिन ध्यान रखें की यदि महिला के प्राइवेट पार्ट से तरल पदार्थ निकल रहा है तो ऐसा नहीं करना चाहिए।

मसाज

डिलीवरी का समय पास आने पर यदि पेट के निचले हिस्से मसाज की जाएँ (ज्यादा तेजी और दबाव के साथ नहीं) तो ऐसा करने से भी प्रसव पीड़ा को उत्तेजित करने में मदद मिलती है।

मसालेदार भोजन

प्रसव पीड़ा की शुरुआत के लिए कुछ लोग मसालेदार भोजन खाने की सलाह भी देते हैं। क्योंकि मसालेदार भोजन खाने से गर्भाशय में संकुचन बढ़ जाता है। ऐसे में आप भी चाहे तो डिलीवरी पेन को बढ़ाने के लिए इस तरीके का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें की जरुरत से ज्यादा भी इसका सेवन न करें कहीं आपको पेट सम्बन्धी परेशानी अधिक न हो जाये।

लेबर पेन बढ़ाने के लिए कुछ आहार खाएं

कुछ ऐसे आहार होते हैं जिन्हे खाने से महिला की प्रसव पीड़ा की शुरुआत करने में मदद मिलती है। ऐसे में यदि आप लेबर पेन को उत्तेजित करना चाहते हैं तो आपको भी उन खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। और इसके लिए महिला अनानास, लहसुन, अरंडी का तेल, खजूर, ड्राई फ्रूट्स, गर्म तासीर वाली चीजों का सेवन कर सकती है।

व्यायाम करें

गर्भवती महिला लेबर पेन को शुरू करने के लिए व्यायाम भी कर सकती है लेकिन वही व्यायाम करें जिससे बच्चे पर कोई बुरा असर न पड़े। जैसे की महिला सैर कर सकती है, बर्थिंग बॉल का इस्तेमाल करके व्यायाम कर सकती है, ऐसा व्यायाम कर सकती है जिससे महिला के थोड़ा पुश कर सकें, आदि।

गुनगुने पानी से नहाएं

प्रसव पीड़ा को बढ़ाने के लिए गर्भवती महिला को गुनगुने पानी से स्नान करना चाहिए। गुनगुने पानी से नहाने पर भी गर्भाशय में संकुचन को बढ़ाने में मदद मिलती है। जिससे प्रसव पीड़ा उत्तेजित होती है।

ब्रेस्ट के आगे के हिस्से को उत्तेजित करें

ऐसा भी माना जाता है की ब्रेस्ट के आगे के हिस्से में उत्तेजना करने से शरीर में से ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन उत्तेजित होता है। जिससे गर्भाशय में संकुचन होता है और महिला की प्रसव पीड़ा को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ उपाय जिन्हे ट्राई करने से प्रसव पीड़ा को उत्तेजित करने में मदद मिलती है। यदि आप भी इन टिप्स को ट्राई करना चाहे तो कर सकती है। लेकिन यदि फिर भी शरीर में कोई प्रसव का लक्षण महसूस न हो तो आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए। क्योंकि डिलीवरी डेट के निकल जाने के बाद गर्भ में शिशु का ज्यादा समय के लिए रहना परेशानी खड़ी कर सकता है।