नोर्मल डिलीवरी के लिए 10 टिप्स

0

नोर्मल डिलीवरी के लिए 10 टिप्स, सामान्य प्रसव के उपाय, नोर्मल डिलीवरी के लिए आसान टिप्स, 10 easy tips for having Normal delivery, Tips for Normal delivery

बदलती जीवनशैली के कारण आजकल देखा जाता है महिलाओं के पास अपने लिए ही समय नहीं होता है। जिसके कारण समय से पहले ही उन्हें कोई न कोई शारीरिक परेशानी लगी रहती है। और ऐसी ही परेशानियों का सामना उन्हें प्रेगनेंसी के दौरान भी करना पड़ता है। और सबसे ज्यादा परेशान तो महिलाएं प्रसव के समय होती है क्योंकि आज कल डॉक्टर्स भी दर्द से बचाने के लिए नार्मल से ज्यादा सिजेरियन डिलीवरी की सलाह देते हैं। लेकिन फिर भी ज्यादातर महिलाएं यही चाहती हैं की उनकी नोर्मल डिलीवरी हो। क्योंकि यदि आपका प्रसव नोर्मल होता है तो आपको डिलीवरी के समय तो बहुत दर्द होता है। लेकिन उसके बाद फिट होने के लिए आपको ज्यादा समय नहीं लगता है, और न ही ज्यादा शारीरिक समस्याएं होती हैं। नोर्मल डिलीवरी का फायदा न केवल महिला को होता है बल्कि यह शिशु के लिए भी फायदेमंद होती है।

नोर्मल डिलीवरी के लिए टिप्स

क्या आप भी प्रेग्नेंट हैं और आप चाहती हैं की आपकी नोर्मल डिलीवरी हो यदि हाँ तो इसके लिए आपको एक बात का खास ध्यान रखना चाहिए, कि प्रेगनेंसी के दौरान आप अपने स्वास्थ्य का अच्छे से ध्यान रखे जिससे आप स्वस्थ रह सकें और गर्भ में पल रहे शिशु का विकास भी अच्छे से हो। जिससे आपके नोर्मल डिलीवरी के चांस बढ़ सकें, इसके अलावा प्रेगनेंसी के दौरान आप कुछ टिप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे आपके नोर्मल डिलीवरी के चांस बढ़ जाते हैं आइये जानते हैं कि वो टिप्स कौन से हैं।

बेहतर डाइट

प्रेगनेंसी के दौरान फिट रहना बहुत जरुरी होता है, क्योंकि जितना आप फिट रहती है उतना आपके नोर्मल डिलीवरी के चांस बढ़ते हैं। और फिटनेस के लिए आपको अपनी डाइट का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए, जैसे कि पोषक तत्वों से भरपूर आहार लेना चाहिए, पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए, समय पर खाना चाहिए, ऐसे आहार से बचना चाहिए जिससे आपको कोई स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी या एलर्जी हो। इससे गर्भवती महिला को फिट रहने के साथ शिशु के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है।

वजन ज्यादा न बढ़ने दें

प्रेगनेंसी के दौरान अपने वजन को भी सही रखना चाहिए क्योंकि यदि आपका वजन बहुत ज्यादा हो जाता है तो ऐसे में नोर्मल डिलीवरी के चांस कम हो जाते हैं। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि वजन कम करने के लिए डाइट न करें। बल्कि खाना खाने के बाद थोड़ा वॉक करें, ज्यादा ऑयली न खाएं, आदि इससे आपके वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।

हाइड्रेट रहें

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी का हाइड्रेट रहना बहुत जरुरी होता है क्योंकि जितना आपकी बॉडी हाइड्रेट रहती है। इससे भी नोर्मल डिलीवरी में मदद मिलती है और इसके लिए दिन में आठ से दस गिलास पानी का सेवन करने के साथ, सूप, घर में ताजा बना हुआ जूस आदि भरपूर मात्रा में लें।

तनाव से रखें दूरी

स्ट्रेस लेने से भी गर्भावस्था के दौरान आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आप तनाव से दूरी बनाकर रखें। जितना हो प्रेगनेंसी में आप खुश रहें दिमाग को रिलैक्स रखें, इससे आपको स्वस्थ रहने में मदद मिलेगी और सामान्य प्रसव के चांस बढ़ाने में मदद मिलेगी।

व्यायाम करें

प्रेगनेंसी के दौरान आपको हल्का फुल्का व्यायाम करते रहना चाहिए, लेकिन अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए। यदि आपको शारीरिक समस्या अधिक रहती है तो बॉडी पर जोर नहीं डालना चाहिए। और यदि आप ठीक हैं तो हल्का फुल्का व्यायाम करना चाहिए, इससे बच्चे कि पोजीशन को सही रहने में मदद मिलती है जिससे आपको डिलीवरी के समय अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। और इससे बॉडी को सामान्य प्रसव के लिए तैयार करने में मदद मिलती है।

घी का सेवन

यदि आप गर्भावस्था के नौवें महीने में घी का भरपूर सेवन करते हैं तो ऐसा करने से सर्विक्स में चिकनाहट उत्त्पन्न होती है, जो न केवल नोर्मल डिलीवरी के लिए फायदेमंद होती है, बल्कि इस दौरान होने वाली प्रसव पीड़ा से निजात दिलाने में भी आपको मदद करती है। इसीलिए सामान्य प्रसव के लिए प्रेगनेंसी के आखिरी महीने में घी का भरपूर सेवन करना चाहिए।

मालिश करें

प्रेगनेंसी के आखिरी महीनो में आपको अपनी बॉडी कि हल्की मसाज भी करनी चाहिए इससे न केवल आपको बॉडी में होने वाले दर्द से आराम मिलता है। बल्कि आपके शरीर को लेबर पेन के लिए तैयार करने में भी मदद मिलती है। लेकिन ध्यान रखें पेट पर ज्यादा तेजी से मालिश न करें।

फिटनेस का रखें ध्यान

प्रेगनेंसी के दौरान जितना आप स्वस्थ रहती है उतना ही शिशु का बेहतर विकास होता है और नोर्मल डिलीवरी के चांस भी बढ़ते हैं। और इसके लिए आपको अपनी दिनचर्या का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए जैसे कि एक्सरसाइज करना, नींद भरपूर लेना, खान पान का अच्छे से ध्यान रखना, इससे आप फिट रहती है और आपको सामान्य प्रसव के लिए मदद मिलती है। साथ ही आपको डिब्बाबंद चीजों, बाहर के खाने आदि का सेवन नहीं करना चाहिए इससे गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों पर ही बुरा असर पड़ता है।

खून की कमी से बचें

नोर्मल डिलीवरी के लिए शरीर में ब्लड कि मात्रा पूरी होनी चाहिए यदि आपके शरीर में आयरन कि कमी होती है तो इससे नोर्मल डिलीवरी के चांस कम हो जाते है। ऐसे में खून कि कमी से बचने के लिए आपको प्रेगनेंसी के दौरान आयरन युक्त आहार का भरपूर सेवन करना चाहिए।

डॉक्टर से राय लें

प्रेगनेंसी के समय आपको समय समय पर जांच करवाने के साथ डॉक्टर से राय लेते रहना चाहिए, और नोर्मल डिलीवरी के चांस बढ़ाने के उपाय पूछने चाहिए। जिससे गर्भ में पल रहे शिशु का विकास भी अच्छे से हो सके और प्रेगनेंसी के दौरान आपको भी फिट रहने में मदद मिल सके।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिनका इस्तेमाल यदि आप प्रेगनेंसी के समय करते हैं तो ऐसा करने से आपके नोर्मल डिलीवरी के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है। और यदि आपकी प्रेगनेंसी में किसी तरह कि कॉम्प्लीकेशन्स हैं और आपको शारीरिक समस्या हैं तो आपको अपनी बॉडी पर किसी तरह का जोर नहीं डालना चाहिए कि नोर्मल डिलीवरी हो, यदि आप ऐसा करती हैं तो हो सकता हैं कि आपकी परेशानी बढ़ जाएँ।

[Total: 5    Average: 2.8/5]