Take a fresh look at your lifestyle.

बाबा रामदेव का पथरी का आयुर्वेदिक इलाज

0

Baba Ramdev Home Remedies for Stone (Pathri)

बाबा रामदेव का पथरी का आयुर्वेदिक इलाज, Baba Ramdev Remedies for Pathri, Gall Bladder Stone, Kidney Stone, Stomach Stone Remedies, Causes of Stone 

आज के समय में जिस प्रकार फ़ास्ट फ़ूड खाना लोगो की आम आदत बनता जा रहा है उसी प्रकार तरह तरह की बीमारियां भी आजकल आम होती जा रही है। मधुमेह से लेकर थाइराइड तक कुछ ऐसी बीमारियां है जिनसे हर चौथा व्यक्ति परेशान रहता है। ऐसी ही एक बिमारी है पथरी। जिसका होना काफी दुखदाई होता है।

सुनने में पथरी बहुत मामूली बीमारी लगती है लेकिन अगर यह किसी को हो जाए तो उस व्यक्ति को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। असमय पेट में होने वाला दर्द, खाने पीने में परेशानी और ठीक तरह से पेट साफ़ नहीं होना कुछ ऐसी ही समस्याएं है जो पथरी होने के बाद व्यक्ति को झेलनी पड़ती है। वैसे तो ये बीमारी किसी भी व्यक्ति को हो सकती है लेकिन महिलाओं की तुलना में पुरुषों में इसकी शिकायत 3 गुना अधिक देखने को मिलती है।

एक बात और यह बिमारी हर उम्र में नहीं होती बल्कि 20 से 30 वर्ष की आयु के बीच होती है जिसका सही समय पर इलाज कराया जाना बहुत जरुरी होती है। क्योंकि अगर समय रहते इस समस्या का सही इलाज नहीं किया जाए तो ये आपके शरीर के फंक्शन को ठीक प्रकार से कार्य नहीं करने देती। पथरी की समस्या में व्यक्ति के पेट, किडनी या पाचन क्रिया से संबंधित किसी भी ऑर्गन में पत्थर का टुकड़ा मौजूद होता है जो दिखने में बहुत छोटा होता है लेकिन दर्द बहुत देता है।

पथरी का इलाज तीन तरह से किया जा सकता है – ऑपरेशन, दवाएं और घरेलू इलाज। और लोग अपनी अपनी जेब और सहूलियत के अनुसार इनका प्रयोग भी करते है। लेकिन क्या आप जानते है की भारत के जाने-माने योग गुरु बाबा रामदेव भी इस समस्या को ठीक करने का दावा करते है। जी हां, बाबा रामदेव द्वारा बताये कुछ उपाय है जिनके द्वारा इस समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है। लेकिन सभी को उन उपायों के बारे में नहीं पता होता।इसलिए आज हम आपको बाबा रामदेव के पथरी ठीक करने के घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे है जिनकी मदद से आप भी अपनी इस समस्या को ठीक कर सकते है।

पथरी के लक्षण :-

शरीर के किसी भी हिस्से में पथरी होने पर सबसे पहले व्यक्ति के पेट में तेज दर्द होने लगता है।

गुर्दे की पथरी होने पर दर्द पीठ से शुरू होता है। जिसके बाद वह पेट में होने लगता है और फिर जांघों में होने लगता है।

  • पेशाब में खून आना या पीब निकलना।
  • यूरिन में इन्फेक्शन होना।
  • बुखार आना या कपकपी होना।
  • रुक-रुक कर पेशाब आना।
  • बार-बार पेशाब आना।
  • पेशाब में बदबू आना, जलन होना और दर्द महसूस होना।
  • पित्त की पथरी होने पर पेट में दर्द के साथ-साथ उलटी भी होने लगती है। और खाना पचाने में समस्या आती है।
  • लगातार दस्त और उल्टियां भी पथरी का एक लक्षण है।

पथरी होने के क्या कारण होते है?kidney बाबा रामदेव का पथरी का आयुर्वेदिक इलाज

किसी भी बीमारी का इलाज जानने से पूर्व उसके कारणों को जान लेना बेहद आवश्यक होता है ताकि भविष्य में समस्या को बढ़ने से रोका जा सके।

1. जब पेशाब में यूरिक एसिड, कैल्शियम, ऑक्सलेट की मात्रा सामान्य से अधिक होने लगती है तो वह किडनी से बाहर नहीं निकल पाती जिसके कारण वह किडनी में ही इकट्ठी होने लगती है और आगे चलकर पथरी बन जाती है।

2. पथरी होने का मुख्य कारण शरीर में कैल्सियम की अधिक मात्रा होना भी माना जाता है। क्योंकि इसकी वजह से शरीर ने खाना ठीक तरह से पच नहीं पाता। जो बाद में पथरी का कारण बनता है।

3. इसके अलावा कम पानी पीना, यूरिन में इन्फेक्शन, पेशाब रोकना और पेशाब से जुडी किसी समस्या के लिए दवाओं का सेवन करने से भी पथरी का खतरा बढ़ जाता है।

4. पित्त की पथरी होने का कारण शरीर में कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना होता है।

बाबा रामदेव के पथरी के घरेलू इलाज :-

वैसे तो पथरी के लिए लोग दवाओं का इस्तेमाल करना ज्यादा प्रेफर करते है लेकिन कई बार यह ऐसे स्थान पर हो जाती है जहां से इसे केवल ऑपरेशन के द्वारा ही निकाला है सकता है। लेकिन हम यहां कुछ घरेलू उपाय दे रहे है जिनकी मदद से भी इस समस्या का इलाज किया जा सकता है लेकिन ध्यान रहे इनके इस्तेमाल से पूर्व डॉक्टरी सलाह अवश्य ले लें।

1. आयुर्वदिक उपचार :

बाबा रामदेव द्वारा सुझाये गए आयुर्वेदिक इलाज के लिए आप किसी नजदीकी बाबा रामदेव के पतंजलि स्टोर से जाकर आयुर्वेदिक दवा ले सकती है। ये दवाये पित्त, किडनी की पथरी निकालने के साथ-साथ दर्द कम करने में भी मदद करती है।

2. कुल्थी की दाल :

बाबा रामदेव के घरेलू नुस्खे के मुताबिक आप कुल्थी की दाल खाकर भी अपनी पथरी का इलाज कर सकते है। इसके लिए 2 चम्मच कुल्थी लेकर उसे 1 ग्लास पानी में उबाल लें। जब पानी 50 ग्राम रह जाए तो उसे छान कर पी लें।

3. पतंजलि की दवा :

आयुर्वेदिक उपचार के लिए आप बाबा रामदेव की पतंजलि में दिव्या असमरिहार रस का प्रयोग कर सकते है। ये दवाई पथरी को तोड़कर उसके टुकड़ों को पेशाब के जरिये बाहर निकाल देती है।

4. कपालभाति :

पथरी की समस्या के लिए योग भी काफी असरदार उपाय है। इसकी मदद से भी आप अपनी पथरी का इलाज कर सकते है। इसके लिए रोजाना कपालभाति प्राणायाम करें ये पथरी को ठीक करने के साथ साथ आपको अन्य रोगों से भी बचाएगा।

5. कोलेस्ट्रॉल :

पित्त की पथरी शरीर में मौजूद अधिक कोलेस्ट्रॉल के कारण होती है। अगर आप उसे ठीक करना चाहते है तो नियमित रूप से कपालभाति करें। साथ ही ऐसे आहारों से दूर रहे जिनमे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत अधिक होती है।

6. मूली के पत्ते :

मूली के पत्तों के रस का सेवन करके भी आप अपनी पथरी की समस्या को ठीक कर सकते है। इसके लिए मूली के पत्तों का 100 ग्राम रस दिन में 2 से 3 बार पियें। और साथ ही प्रतिदिन सलाद में मूली का सेवन करें।

7. पुदीना :mint

पथरी निकालने के लिए पुदीने की ताज़ी या सुखी पत्तियों को पानी में उबाल लें। अब गुनगुना होने के बाद उन्हें छान लें और पानी में शहद मिलाकर पी लें। कुछ ही दिनों में समस्या दूर होने लगेगी।

8. सेब का सिरका या जूस :

पित्त की पथरी के लिए आप सेब के सिरके या जूस का इस्तेमाल भी कर सकते है। क्योंकि ये पथरी को गलाने का काम करते है और साथ ही शरीर में कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी कम करते है। इसके लिए रोजाना दिन में 2 बार 1 ग्लास सेब के जूस में 1 चम्मच सेब का सिरका डालकर पिएं।

तो ये थे कुछ उपाय जिनकी मदद से आप पथरी की समस्या का इलाज कर सकते है। लेकिन ध्यान रहे किसी भी आयुर्वेदिक उपचार को कार्य करने में थोड़ा समय लगता है इसलिए उपाय का प्रयोग करते रहे बीच में नहीं छोड़ें। अन्यथा पूर्ण लाभ नहीं मिलेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.