Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

शादी में उबटन लगाने से क्या होता है

शादी में उबटन लगाने से क्या होता है, शादी में उबटन लगाने के फायदे, शादी में क्यों लगाया जाता है उबटन, विवाह में उबटन , shadi me ubtan kyo lagaya jata hai, shadi me ubtan lagane ke fayde, विवाह में उबटन का महत्व, शादी में उबटन की रस्म, shadi me ubtan ki rasm

0

शादी में हर रस्म का अपना अलग महत्व होता है, और हर रस्म एक अलग मान्यता की प्रतीक होती है। फिर चाहे वो मेहँदी हो, या चूड़ा डालने की रस्म, जूता चोरी करने की रस्म हो, या फिर उबटन लगाने की, आदि। शादीशुदा जिंदगी के खुशाल रहने की कामना को लेकर परिवार वाले हर एक रस्म को बड़े दिल से निभाते है। ऐसे ही शादी में एक खास रस्म उबटन लगाने की भी होती है। जिसे लड़के और लड़की दोनों को ही लगाया जाता है।

हल्दी के बनाएं इस उबटन को सभी घर वाले अपने आर्शीवाद के साथ दुल्हन और दूल्हे को लगाते है। ताकि जिस तरह हल्दी अपनी खुशबू को बिखेरती है, वैसे ही इनकी शादीशुदा जिंदगी में भी हमेशा खुशबू बरकरार रहे। इसके अलावा और भी कई कारण होते है जिनकी वजह से इस उबटन का प्रयोग किया जाता है। तो आइए अब विस्तार से हम आपको बताते है की शादी में उबटन का प्रयोग क्यों किया जाता है।

शादी में उबटन लगाने से क्या होता है:-

रस्म होती है:-

शादी में हल्दी एक रस्म होती है, जिससे की लड़के और लड़की दोनों को ही हल्दी का उबटन लगाया जाता है। भारतीय रीती रिवाज़ में शादी के दौरान हल्दी की एक खास परम्परा है इसीलिए शादी के दौरान उबटन लगाया जाता है।

चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए:-

उबटन का प्रयोग लड़की के चेहरे की चमक को बढ़ाने में भी मदद करता है। और शादी के दिन लड़की को ही सबसे खूबसूरत दिखने का हल होता है, ताकि सब्ज़ी नज़रे दुल्हन पर टिकी रहें। और ऐसा होना भी चाहिए क्योंकि यह किसी भी लड़की के लिए खास दिन होता है। इसीलिए भी शादी में दूल्हा और दुल्हन दोनों के चेहरे की चमक को दुगुना करने के लिए इसे लगाया जाता है।

तनाव कम करती है:-

हल्दी का उबटन एक स्ट्रेस कटर का काम करता है। शादी के दिन लड़की के मन में सौ तरह की बातें चल रही होती है। ख़ुशी के साथ कही न कही उसके मन में डर भी होता है। और उबटन उसके स्ट्रेस को कम करने में मदद करता है। इसीलिए भी शादी में उबटन लगाया जाता है।

ख़ुशी और समृद्धि:-

पीला रंग चटक होता है, जो की खुशियों और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। दूल्हा दुल्हन की जिंदगी में हमेशा खुशियां और समृद्धि बनी रहे, इसीलिए उबटन की रस्म की शुरुआत करके शादी की रस्मो को आगे बढ़ाया जाता है।

ताजगी के लिए:-

हल्दी केवल चेहरे की चमक को ही नहीं बढ़ाती है, बल्कि यदि दुल्हन नहाते समय हल्दी के उबटन का इस्तेमाल करती है। तो ऐसा करने से उसके शरीर की गंदगी को भी निकलने में मदद मिलती है। जिससे उसे ताजगी और शरीर में से भीनी भीनी खुशबू का अहसास होता है।

नकारत्मकता को बाहर करती है:-

शादी में सभी आपकी खुशियों में शामिल होने आते हैं, लेकिन कुछ नेगेटिव लोग भी होते हैं। जिनके कारण उनकी नेगेटिविटी आप पर कोई बुरा असर न डालें, और आपकी खुशियों पर नकारात्मक ऊर्जा का कोई प्रभाव न पड़े इसीलिए भी हल्दी के उबटन को लगाया जाता है। क्योंकि हल्दी को पूजा सामग्री की तरह इस्तेमाल किया जाता है जो बुरी चीजों को नष्ट करने में मदद करती है।

तो इन सभी कारणों की वजह से दुल्हन और दूल्हे को शादी के समय उबटन लगाया जाता है। साथ ही शादी की रस्मो में इसकी मान्यता काफी बरसों से है, और हल्दी को शुभ और अच्छे काम का प्रतीक माना जाता है। इसीलिए शादी में कोई भी खलल न पड़े और सभी काम शुभ हो इसीलिए इस रस्म से शादी की रस्मो की शुरुआत की जाती है। साथ ही इससे आपकी खुशियों को सभी की बुरी नज़र से बचाने में भी मदद मिलती है।

Leave a comment