जानिए पीरियड्स के कितने दिनों बाद प्रेगनेंसी होती है

जानिए पीरियड्स के कितने दिनों बाद प्रेगनेंसी होती है, पीरियड्स के बाद गर्भधारण, पीरियड्स के कितने दिनों बाद होती है प्रेगनेंसी, pregnancy after periods, periods ke bad pregnancy ke liye in bato ka dhyan rakhe, periods ke bad garbhadharan, pregnancy test kab karna chahiye

0

ज्यादातर महिलाएं जो की पहली बार माँ बन रही होती है, या काफी गैप के बाद दूसरे बच्चे के लिए प्लान करती है। तो उनके मन में गर्भधारण को लेकर तरह तरह के सवाल उठते है। जैसे की पीरियड्स के कितने दिनों बाद वो माँ बन सकती है? प्रेगनेंसी के लिए सबसे सही समय कौन सा होता है? प्रेगनेंसी के लिए सम्बन्ध बनाने पर आपको किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? जिससे की वो माँ बन सकें।

इसका जावब होता है की इसके लिए सबसे पहले तो आपको अपने पीरियड्स की डेट का अच्छे से पता होना चाहिए। जिससे की आप अपने ओवुलेशन पीरियड का पता कर सकें। क्योंकि ओवुलेशन पीरियड के दौरान ही अण्डोत्सर्ग की प्रक्रिय आरम्भ होती है। और विशेषज्ञों के अनुसार पीरियड्स के छटे दिन से ही फेलोपियन ट्यूब में शुक्राणु अंडे का इंतज़ार गर्भाधान के लिए करने लग जाते है।

जिस दिन महिला को पीरियड्स की शुरुआत होती है उस दिन से लेकर बाहरवें और चौहदवे दिन तक और उससे पांच दिन आगे तक महिला की प्रजनन क्षमता सबसे अधिक होती है। ऐसे में यदि आप गर्भधारण करना चाहती है। तो इन दिनों में आपको और आपके पार्टनर को शारीरिक सम्बन्ध नियमित बनाने चाहिए। इससे आपकी प्रेगनेंसी के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है।

पीरियड्स के कितने दिनों बाद होती है प्रेगनेंसी?:-

जिस दिन आपको पीरियड होता है उस दिन से लेकर आपको दस से सतरह दिन तक सबसे ज्यादा प्रेगनेंसी के चांस होते हैं। क्योंकि यह आपका ओवुलेशन पीरियड होता है। जिन महिलाओं को मासिक धर्म का चक्र सही होता है उनकी प्रेगनेंसी के चांस ज्यादा होते है। लेकिन कई बार अनियमित मासिक धर्म वाली महिला को थोड़ी परेशानी हो सकती है ऐसे में आपको इस बारे में डॉक्टर से बात करनी चाहिए की आपके ओवुलेशन का सही समय कौन सा होता है।

प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन बाद करना चाहिए:-

आपके पीरियड्स खत्म होने बाद नेक्स्ट पीरियड आने की तारीख से तीन या चार दिन बाद आपको टेस्ट कर लेना चाहिए। कई महिलाओ का यह टेस्ट नेगेटिव भी आ सकता है, क्योंकि कई महिलाओ का गर्भधारण आखिरी दिनों में होता है। इसके लिए यदि आपको पीरियड नहीं होता है तो एक हफ्ते बाद दुबारा चेक कर सकते है। यदि उसमे भी नेगेटिव आता है तो एक बार आपको डॉक्टर से जाकर चेक करवाना चाहिए क्योंकि कई बार घर में टेस्ट नेगेटिव आने के बाद डॉक्टर के पास चेक करवाने से आपको सही रिपोर्ट मिल जाती है।

प्रेगनेंसी के दौरान पीरियड्स:-

कई महिलाएं जो पहली बार माँ बन रही होती है उनके मन में सवाल होता है की क्या प्रेगनेंसी के दौरान भी पीरियड्स होते है। वैसे तो इसका जवाब न होता है, लेकिन कई महिलाओ को इस दौरान भी स्पॉटिंग होती है। ऐसे में यदि आप स्पॉटिंग की समस्या ज्यादा हो तो आपको इस बारे में डॉक्टर से राय लेनी चाहिए। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान रक्तस्त्राव नुक्सानदायक होता है।

पीरियड्स के बाद प्रेग्नेंट होने के लिए इन बातों का ध्यान रखें:-

  • पीरियड्स के बाद सम्बन्ध बनाते समय महिला और पुरुष दोनों को ही प्राइवेट पार्ट की साफ सफाई का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि पीरियड्स के तुरंत बाद सम्बन्ध बनाने से संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है।
  • महिला को स्वस्थ आहार का सेवन करना चाहिए, साथ ही फोलिक एसिड क सेवन भी शुरू करना चाहिए। क्योंकि प्रेगनेंसी के लिए महिला को शारीरिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए, साथ ही महिला में खून की कमी भी नहीं होनी चाहिए, नहीं तो इसके कारण प्रेगनेंसी में आने वाली परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
  • यदि महिला प्रेग्नेंट होना चाहती है तो सम्बन्ध बनाने के बाद न तो महिला को तुरंत खड़े होना चाहिए, और न ही यूरिन पास करके आना चाहिए।
  • इस दौरान महिला को पेट के बल कोई काम नहीं करना चाहिए, भरी चीजों को नहीं उठाना चाहिए आदि।
  • महिला को तनाव भी नहीं लेना चाहिए और मानसिक रूप से फिट होना चाहिए ताकि प्रेगनेंसी में किसी तरह की कोई परेशानी न आए।
  • प्रेगनेंसी का निर्णय लेने से पहले महिला और पुरुष दोनों को हो अपना शारीरिक रूप से चेकअप करवाना चाहिए।

तो यदि आप भी प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो इसके लिए आपको अपना अच्छे से ध्यान रखने के साथ, ओवुलेशन पीरियड के दौरान शारीरिक सम्बन्ध बेहतर बनाने चाहिए। और रोजाना बनाने चाहिए, साथ ही ऊपर दिए गए टिप्स का भी ध्यान रखना चाहिए ताकि आपको प्रेग्नेंट होने में मदद मिल सके।