प्रेगनेंसी में गुड़ खाना चाहिए या नहीं?

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला अपने खान पान का पूरा ध्यान रखने की कोशिश करती है। ताकि प्रेग्नेंट महिला व् गर्भ में पल रहे शिशु को किसी भी तरह की दिक्कत न हो। इसीलिए महिला फलों व् सब्जियों का भरपूर सेवन करने के साथ अन्य चीजों का सेवन भी कर सकती है। जो प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला व् भ्रूण के विकास के लिए फायदेमंद होते हैं। और उन खाद्य पदार्थों में गुड़ भी आता है। तो आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको प्रेगनेंसी के दौरान गुड़ के सेवन से जुडी पूरी जानकारी बताने का जा रहे हैं।

प्रेगनेंसी में गुड़ का सेवन करना चाहिए या नहीं?

  • गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला चाहे तो गुड़ का सेवन कर सकती है।
  • क्योंकि गुड़ में मौजूद आयरन, कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व गर्भवती महिला व् भ्रूण के लिए फायदेमंद होते हैं।
  • लेकिन गर्भवती महिला को इसकी सही मात्रा पर ध्यान देना जरुरी होता है।
  • क्योंकि जरुरत के अनुसार यदि गुड़ का सेवन फायदेमंद होता है।
  • तो जरुरत से ज्यादा गुड़ का सेवन प्रेग्नेंट महिला व् शिशु को नुकसान भी पहुंचा सकता है।
  • इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को गुड़ का सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर की राय जरूर लेनी चाहिए।
  • की आखिर प्रेगनेंसी के दौरान कितने गुड़ का सेवन फायदेमंद हो सकता है।

प्रेगनेंसी में गुड़ का सेवन करने के फायदे

गर्भवती महिला यदि सिमित मात्रा में गुड़ का सेवन करती है। तो इससे प्रेग्नेंट महिला व् शिशु को फायदा मिलता है। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं प्रेगनेंसी में गुड़ का सेवन करने से कौन से फायदे मिलते हैं।

आयरन

  • गुड़ में आयरन की मात्रा की अधिकता होती है।
  • ऐसे में गुड़ का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को एनीमिया जैसी परेशानी से बचाव करने में मदद मिलती है।
  • इसके अलावा खून की कमी के कारण होने वाली अन्य दिक्कतों से बचाव करने में भी मदद मिलती है।

ऊर्जा

  • प्रेग्नेंट महिला को प्रेगनेंसी के दौरान ऊर्जा की बहुत अधिक जरुरत होती है।
  • और गुड़ का सेवन करने से महिला के शरीर में ऊर्जा को मेन्टेन रखने में मदद मिलती है।
  • जिससे प्रेग्नेंट महिला को स्वस्थ व् एक्टिव रहने में मदद मिलती है।

कार्बोहाइड्रेट

गुड़ में कार्बोहाइड्रेट भी मौजूद होता है। जो गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में फायदेमंद होता है।

प्रेगनेंसी में गुड़ खाने के नुकसान

  • गुड़ का सेवन जरुरत से अधिक करने के कारण गर्भवती महिला का वजन जरुरत से ज्यादा बढ़ सकता है। और प्रेग्नेंट महिला को बढ़ते वजन के कारण दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।
  • सोडियम की मात्रा भी गुड़ में मौजूद होती है ऐसे में गुड़ के अधिक सेवन के कारण प्रेग्नेंट महिला को हाई ब्लड प्रैशर जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
  • अधिक मात्रा में गुड़ का सेवन गर्भवती महिला के लिए गेस्टेशनल डाइबिटीज़ जैसी समस्या खड़ी कर सकता है।
  • किसी भी रूप में गुड़ को गर्म करके सेवन करने से बचें क्योंकि इसके कारण महिला को गर्भपात जैसी समस्या हो सकती है।
  • यदि आपका पहले गर्भपात हुआ है तो प्रेग्नेंट महिला को गुड़ का सेवन करने से बचना चाहिए।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में गुड़ का सेवन करने से जुड़े कुछ खास टिप्स। ऐसे में प्रेगनेंसी में गुड़ का सेवन करने से गर्भवती महिला को किसी तरह का नुकसान न हो। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को गुड़ का सेवन सिमित मात्रा में ही करना चाहिए। इसके अलावा गुड़ को आप किसी साफ़ जगह से खरीदें। गुड़ पर मक्खियां आदि न बैठी हुई हो, गुड़ पर मिट्टी आदि के कण न लगे हुए हो।