प्रेगनेंसी में क्या करने से शिशु बुद्धिमान होता है?

जैसे ही महिला की प्रेगनेंसी की न्यूज़ कन्फर्म होती है वैसे ही महिला अपने वाले शिशु के लिए सपने संजोना शुरू कर देती है। और हर गर्भवती महिला यही चाहती है की उसका होना वाला शिशु स्वस्थ, हष्ट पुष्ट व् बुद्धिमान हो। और यदि महिला ऐसा चाहती है तो इसके लिए महिला को ही कुछ करना चाहिए। जैसे की प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अपना अच्छे से ध्यान रखना चाहिए, किसी तरह की लापरवाही नहीं करनी चाहिए।

क्योंकि गर्भ में पल रहे शिशु का शारीरिक व् मानसिक विकास प्रेगनेंसी के दौरान अपनी माँ पर ही निर्भर करता है। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम गर्भवती महिला को कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जो यदि महिला प्रेगनेंसी के दौरान फॉलो करती है तो इससे गर्भ में पल रहे शिशु के दिमागी विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है। जिससे आपका होने वाला शिशु बुद्दिमान होता है।

डाइट का रखें ध्यान

गर्भावस्था के दौरान खान पान का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है क्योंकि बेहतर खान पान गर्भवती महिला को फिट रखने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में भी मदद करता है। ऐसे में महिला को प्रेगनेंसी के दौरान उन चीजों का भरपूर सेवन करना चाहिए जिससे शिशु के दिमागी विकास को बेहतर करने में मदद मिल सके। और इसके लिए महिला को बादाम, अखरोट, हरी सब्जियां व् फल, अंडे, चिकन, डेयरी प्रोडक्ट्स आदि का सेवन करना चाहिए।

नींद ले भरपूर

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को भरपूर नींद लेनी चाहिए क्योंकि इससे महिला को हेल्दी, फ्रैश, एक्टिव रहने में मदद मिलती है। इसके अलावा यदि महिला भरपूर नींद लेती है तो इससे शिशु भी हेल्दी रहता है जिससे शिशु के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में मदद मिलती है।

शिशु से करें बातें

यदि आप चाहती है की आपका होने वाला शिशु बुद्धिमान हो तो आपको गर्भ में पल रहे शिशु से बातें करनी चाहिए, पेट पर हाथ फेरना चाहिए क्योंकि शिशु की सुनने की क्षमता बढ़ने के साथ शिशु बाहर की आवाज़ों को महसूस करता है साथ ही महिला के अहसास का भी अनुभव करता है। जिससे शिशु को एक्टिव रहने में मदद मिलती है और गर्भ में शिशु जितना एक्टिव रहता है उतना ही गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है।

टेंशन नहीं लें

गर्भावस्था के दौरान महिला को बिल्कुल भी टेंशन नहीं लेनी चाहिए क्योंकि इससे गर्भ में पल रहे शिशु के मानसिक विकास में कमी आ सकती है। और जितना हो सके महिला को खुश रहना चाहिए इससे शिशु के मानसिक विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है।

वजन नियंत्रित रखें

प्रेगनेंसी के दौरान जरुरत से ज्यादा वजन बढ़ने के कारण महिला की डिलीवरी समय से पहले होने का खतरा रहता है। और समय से पहले यदि महिला की डिलीवरी होती है तो इसकी वजह से शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास में कमी आने का खतरा होता है। ऐसे में गर्भवती महिला को अपने वजन को नियंत्रित रखना चाहिए जिससे समय से पहले डिलीवरी होने का खतरा कम हो और शिशु के बेहतर मानसिक विकास में मदद मिल सके।

एक्सरसाइज करें

गर्भ में पल रहे शिशु के दिमागी विकास को बेहतर करने के लिए महिला को थोड़ी देर व्यायाम योगा आदि भी करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है जिससे शिशु तक ब्लड अच्छे से पहुँचता है और ब्लड के माध्यम से ऑक्सीजन का फ्लो अच्छे से होता है जो शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास को बढ़ाने में मदद करता है।

नशीले पदार्थों से दूरी

प्रेग्नेंट महिला यदि नशीले पदार्थों का सेवन करती है तो इससे गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास को नुकसान पहुँचता है। ऐसे में शिशु के बेहतर मानसिक विकास के लिए महिला को नशीले पदार्थों का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए और ऐसी जगह पर बिल्कुल नहीं जाना चाहिए जहां कोई इनका सेवन कर रहा हो।

सही समय पर जांच

प्रेगनेंसी के दौरान महिला हेल्दी रहे और गर्भ में पल रहे शिशु का विकास अच्छे से हो इसके लिए महिला को समय पर अपनी जांच करवानी चाहिए। और डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाइयों का समय से सेवन करना चाहिए यदि महिला ऐसा करती है तो इससे महिला को स्वस्थ रहने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिन्हे प्रेगनेंसी के दौरान फॉलो करने से गर्भवती महिला को अपने शिशु के दिमागी विकास को बढ़ाने में मदद मिलती है। यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो गर्भ में पल रहे शिशु के दिमागी विकास को बढ़ाने के लिए आपको भी प्रेगनेंसी के दौरान इन टिप्स को जरूर फॉलो करना चाहिए।

Tips for smart baby born

Leave a comment