आईवीएफ ट्रीटमेंट के दौरान क्या खाने से बच्चा हेल्दी होगा?

0

हर गर्भवती महिला यही चाहती है की उसके गर्भ में पल रहे शिशु का विकास अच्छे से हो और उसका होने वाला शिशु स्वस्थ व् हष्ट पुष्ट हो। और जब महिला ने आईवीएफ ट्रीटमेंट के जरिये गर्भधारण किया हो तो महिला गर्भ में बच्चे के विकास को लेकर ज्यादा परेशान होती है। साथ ही महिला अपने खान पान व् अन्य छोटी छोटी चीजों का ध्यान रखती है।

जिससे उसके गर्भ में पल रहे बच्चे का विकास अच्छे से हो और बच्चे को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हो। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके गर्भ में पल रहे शिशु को हेल्दी रखने में मदद करते हैं खासकर आईवीएफ ट्रीटमेंट के दौरान इन चीजों का सेवन करने से आपका बच्चा हेल्दी होगा।

दालें व् फलियां

गर्भवती महिला को दालों का भरपूर सेवन करना चाहिए क्योंकि यह प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत होती है। जो गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में मदद करती है। साथ ही दालों में अन्य पोषक तत्व भी भरपूर मात्रा में विद्यमान होते हैं जो शिशु के बेहतर विकास में मदद करते हैं।

डेयरी प्रोडक्ट्स

दूध, दही, पनीर, छाछ आदि का सेवन भी प्रेग्नेंट महिला को भरपूर करना चाहिए। क्योंकि यह कैल्शियम का बेहतरीन स्त्रोत होते हैं। जो शिशु की हड्डियों व् दांतों के बेहतर विकास में मदद करते हैं।

आयरन और फोलिक एसिड युक्त डाइट

आईवीएफ ट्रीटमेंट के दौरान गर्भवती महिला को आयरन व् फोलिक एसिड से भरपूर डाइट भी लेनी चाहिए। क्योंकि यदि प्रेग्नेंट महिला के शरीर में आयरन की कमी होती है या फोलिक एसिड की कमी होती है तो इससे शिशु का विकास प्रभावित होने के साथ शिशु को जन्मदोष होने का खतरा भी रहता है। और आयरन व् फोलिक एसिड की कमी को पूरा करने के लिए महिला को हरी सब्जियां, चुकंदर, गाजर, ब्रोकली, संतरे, आंवला आदि का भरपूर सेवन करना चाहिए।

READ  प्रेगनेंसी में नाभि में दर्द होने और नाभि के बाहर आने के कारण

ड्राई फ्रूट्स

बादाम, अखरोट व् अन्य ड्राई फ्रूट्स का सेवन भी सिमित मात्रा में महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि ड्राई फ्रूट्स पोषक तत्वों की खान होते हैं जो बच्चे के बेहतर विकास में मदद करते हैं।

फल

सब्जियों के साथ फलों में भी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं ऐसे में महिला को रोजाना किसी न किसी फल का सेवन जरूर करना चाहिए। ताकि शिशु के विकास के लिए सभी जरुरी पोषक तत्व शिशु को मिल सके।

तरल पदार्थ

प्रेग्नेंट महिला को तरल पदार्थों का भी भरपूर सेवन करना चाहिए। ताकि गर्भाशय में एमनियोटिक फ्लूड की मात्रा सही बनी रहे जिससे बच्चे के बेहतर विकास में मदद मिल सके। साथ ही गर्भवती महिला की परेशानियां भी कम हो सकें।

अंडा व् नॉन वेज

यदि गर्भवती महिला अंडे व् नॉन वेज का सेवन कर लेती है तो प्रेगनेंसी के दौरान महिला को इनका सेवन भी करना चाहिए। क्योंकि इनमे पोषक तत्वों की अधिकता होती है जो शिशु के शारीरिक के साथ मानसिक विकास में भी मदद करते हैं।

तो यह हैं कुछ खाद्य पदार्थ जिनका सेवन आईवीएफ ट्रीटमेंट के दौरान करने से आपका बच्चा हेल्दी होता है। यदि आप भी आईवीएफ की मदद से माँ बनने जा रही हैं तो आपको भी अपनी प्रेगनेंसी के दौरान इन चीजों का सेवन करना चाहिए ताकि आपका बच्चा भी हेल्दी और स्वस्थ हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.