Take a fresh look at your lifestyle.

गर्भवती महिला के पेट पर लाइन बनने का क्या मतलब होता है?

0

प्रेगनेंसी में पेट पर होने वाली काली रेखा का कारण, माँ बनना हर महिला की जिंदगी का सबसे खास अनुभव होता है। लेकिन इस खास अनुभव को लेने के साथ प्रेग्नेंट महिला को प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सी शारीरिक व् मानसिक परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। और इन परेशानियों का कारण प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव हो सकते हैं। बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला को परेशानियों के साथ बॉडी में होने वाले बदलाव का भी अनुभव होता है। और यह बदलाव केवल शारीरिक रूप से जुड़े ही नहीं बल्कि महिला की स्किन से जुड़े भी हो सकते हैं।

प्रेगनेंसी के दौरान स्किन में होने वाले बदलाव

  • गर्भावस्था के दौरान महिला को चेहरे की स्किन पर दाग, धब्बे, स्किन का डल पड़ना जैसे बदलाव मसहूस हो सकते हैं।
  • चेहरे की स्किन के साथ महिला के पेट, जाँघों आदि की स्किन में भी बदलाव आ सकता है।
  • जैसे की गर्भाशय का आकार बढ़ने के कारण पेट की स्किन में खिंचाव होने पर स्ट्रेचमार्क्स की समस्या हो सकती है।
  • इसके अलावा पेट पर नाभि से होकर प्राइवेट पार्ट तक जाती हुई एक गहरी काली रेखा भी महिला को दिखाई दे सकती है।

प्रेगनेंसी में पेट पर लाइन क्या होती है?

  • गर्भावस्था के दौरान महिला की स्किन में होने वाले बदलाव के कारण नाभि के आस पास एक सीधी रेखा बनी हुई प्रेग्नेंट महिला को महसूस हो सकती है।
  • पेट पर बनने वाली इस लाइन को लीनिया नाइग्रा भी कहते हैं।
  • यह रेखा नाभि से लेकर जांघ की हड्डी तक जाती है।
  • कई बार यह रेखा नाभि से ऊपर जाती हुई छाती तक भी दिखाई दे सकती है।
  • और ऐसा नहीं है की यह लाइन डिलीवरी के बाद पेट पर ही रहती है।
  • जैसे जैसे डिलीवरी के बाद पेट सही शेप में आता है वैसे वैसे यह लाइन भी दिखाई देना बंद हो जाती है।

गर्भवती में पेट पर लाइन होने का क्या कारण होता है?

  • प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में एस्ट्रोजन, प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन का स्तर बढ़ने लगता है।
  • जिसके कारण बॉडी में मेलेनिन का निर्माण ज्यादा निर्माण होने लगता है।
  • मेलेनिन का निर्माण स्किन में अधिक होने के कारण स्किन पर काले दाग या काली लाइन्स आदि नज़र आ सकती है।
  • इसी कारण पेट पर काली गहरे रंग की लाइन भी दिखाई देने लगती है।
  • यह लाइन प्रेगनेंसी की दूसरी तिमाही से दिखना शुरू होती है।
  • और गर्भाशय का आकार बढ़ने के साथ यह लाइन और गहरी होने लगती है।

पेट पर काली रेखा कैसे बताती है की लड़का होगा या लड़की

  • गर्भावस्था के दौरान महिला की बॉडी में होने वाले बदलाव को देखकर पुराने समय से ही इस बात का अंदाजा लगाया जाता है की गर्भ में लड़का है या लड़की है।
  • वैसे ही पेट पर होने वाली काली रेखा को देखकर भी इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है की गर्भ में लड़का होगा या लड़की होगी।
  • जैसे की यदि पेट पर होने वाली रेखा नाभि से लेकर जांघ की हड्डी तक बिल्कुल सीधा जाती है और इसका रंग गहरा होता है तो यह गर्भ में लड़का होने का संकेत देती है।
  • लेकिन यदि यह रेखा सीधी जाने की बजाय थोड़ा तिरछी होने के साथ थोड़ा कम गहरी होती है तो यह गर्भ में लड़की होने की तरफ इशारा करती है।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के दौरान पेट पर होने वाली रेखा से जुडी कुछ बातें। तो यदि आप भी प्रेग्नेंट है और आपको भी पेट पर कोई रेखा नज़र आ रही है। तो इसमें घबराने की कोई बात नहीं होती है। ऐसा होना प्रेगनेंसी के दौरान आम बात होती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.