Ultimate magazine theme for WordPress.

गर्भावस्था में सोते समय इन बातों का ध्यान रखें

गर्भावस्था में सोते समय इन बातों का ध्यान रखें, प्रेगनेंसी में सोते हुए इन बातों का ध्यान रखें, प्रेगनेंसी टिप्स, गर्भावस्था के दौरान इन बातों का ध्यान रखें, Sleeping tips during Pregnancy

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए बहुत ही महत्वपुर्ण समय होता है, और इस दौरान महिला को अपने अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। ताकि गर्भावस्था के दौरान महिला को स्वस्थ रहने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में भी मदद मिल सके। गर्भवती महिला को अपने खान पान, उठने बैठने, चलने फिरने, के साथ सोते समय भी बहुत सी बातों का ध्यान रखना चाहिए। जिससे की महिला को बेहतर नींद लेने में मदद मिल सके और किसी भी तरह की परेशानी न हो, क्योंकि यदि गर्भावस्था के दौरान महिला नींद भरपूर नहीं लेती है तो तनाव हो सकता है, और गलत तरीके से महिला सोती है तो इसके कारण गर्भ में पल रहे शिशु पर बुरा असर पड़ सकता है। इसके अलावा और भी बहुत सी बातें हैं जिनका ध्यान महिला को प्रेगनेंसी के दौरान महिला को सोते समय रखना चाहिए, तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की वो टिप्स कौन से हैं।

सोने की जगह

सोने के लिए गर्भवती महिला को सोने के स्थान को साफ़ सुथरा रखना चाहिए, और नरम गद्दों पर सोना चाहिए। क्योंकि यदि महिला का सोने का स्थान साफ़ नहीं होता है तो इसके कारण महिला को बेहतर नींद नहीं मिल पाती है, साथ ही टाइट गद्दों पर सोने के कारण महिला को कमर दर्द जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसीलिए बेहतर नींद के लिए सोने की जगह का खास ध्यान रखना चाहिए।

आरामदायक कपडे पहने

गर्भावस्था के दौरान आपको कॉटन के और ढीले कपडे पहनने चाहिए, इससे आपको आरामदायक महसूस होता है। और सोते समय भी आपको इस बात का दिन रखना चाहिए की आप ऐसे कपडे डालकर न सोएं जो की टाइट या चुभने वाले हो। क्योंकि इसके कारण आपके साथ गर्भ में पल रहे शिशु को भी परेशानी होगी, और आपको भरपूर नींद लेने में भी परेशानी होगी। इसीलिए रात को सोते समय ढीले और सूती कपडे पहने जिसमे आपको आरामदायक महसूस हो और आप बेहतर नींद ले सकें।

पोजीशन का रखें ध्यान

प्रेगनेंसी के दौरान वजन बढ़ने के कारण सोने में परेशानी हो सकती है, लेकिन आपको सोते समय अपनी पोजीशन का खास ध्यान रखना चाहिए। प्रेगनेंसी के दौरान जितना हो सके महिला को बाईं और करवट लेकर सोना चाहिए इससे महिला को नींद बेहतर आती है, साथ ही शिशु को भी किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। और यदि आप सीधे होकर सोते हैं तो इसके कारण बॉडी में ब्लड फ्लो बेहतर नहीं हो पाता है जिसके कारण सूजन जैसी समस्या का आपको सामना करना पड़ सकता है, साथ ही दाईं और करवट लेकर सोने से लिवर पर जोर पड़ता है, ऐसे में सोते समय आपको अपनी पोजीशन का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

कितनी देर सोना है जरुरी

आमतौर पर स्वस्थ रहने के लिए दिन में आठ घंटे सोने की सलाह दी जाती है, लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में लगातार हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण गर्भवती महिला थकान व् कमजोरी का अनुभव कर सकती है। ऐसे महिला रात की नींद के अलावा दिन में भी थोड़ी देर सोना चाहिए। ऐसा करने से महिला को फ्रैश महसूस होने में मदद मिलती है।

पेट और पीठ के बल न सोएं

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को पेट के बल नहीं सोना चाहिए, क्योंकि इसके कारण पेट पर दबाव पड़ता है। जिसकी वजह से महिला को पेट में दर्द होने के साथ गर्भ में शिशु को भी असहज महसूस हो सकता है। इसके अलावा महिला को पीठ के बल भी नहीं सोना चाहिए, क्योंकि ऐसा करने से पैरों तक ब्लड फ्लो अच्छे से नहीं हो पाता है, जिसके कारण सूजन के साथ पीठ में दर्द की समस्या भी हो सकती है।

तनाव न लें

सोते समय आपको किसी भी तरह की बात को लेकर आपको परेशान नहीं होना चाहिए, क्योंकि यदि आप किसी बात को लेकर परेशान रहते हैं तो इसके कारण आपको नींद नहीं आ पाती है। और नींद पूरी न होने के कारण आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है, जो शिशु के लिए भी नुकसानदायक होता है।

पानी पीएं

सोने से पहले महिला को एक या दो गिलास पानी भी जरूर पीना चाहिए, इससे शिशु को बेहतर मूव करने में मदद मिलती है। साथ ही बॉडी में एनर्जी भी बरकरार रहती है।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिनका ध्यान आपको प्रेगनेंसी के दौरान सोते समय रखना चाहिए। यदि आप इन टिप्स का ध्यान रखते हैं तो गर्भवती महिला को बेहतर नींद लेने में मदद मिलती है, जिसके कारण प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली बहुत सी परेशानियों से निजात मिल जाता है।

यूट्यूब विडिओ –

गर्भधारण के बाद रात को सोने से पहले इन बातों का ध्यान रखें।