Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्राइवेट पार्ट में किस तरह का इन्फेक्शन होता है? क्या है उपाय

प्राइवेट पार्ट इन्फेक्शन, योनि में इन्फेक्शन के कारण, प्राइवेट पार्ट से जुडी परेशानियां, private part infection, private part me infection se bachne ke tips, private part me infection ke kaaran v upay

0

प्राइवेट पार्ट में कई तरह के इन्फेक्शन होते है जैसे की यीस्ट इन्फेक्शन, खुजली व् जलन होना, रैशेस की समस्या होना, यूरिन में इन्फेक्शन होना, प्राइवेट पार्ट में सूजन होना आदि। और इसके कारण महिला को बहुत परेशानी होती है, क्योंकि कई बार अधिक दर्द व् जलन होने के साथ महिलाओ को यूरिन पास करने में भी परेशानी होती है, साथ ही उठने बैठने में भी समस्या होती है।

इन सब परेशानियों के होने के कई कारण हो सकते है जैसे की यदि आप अपने प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई का ध्यान नहीं रखते है, पानी कम पीते है, प्राइवेट पार्ट के लिए ज्यादा सुगन्धित चीजों का इस्तेमाल करते है, सम्बन्ध बनाते समय सावधानी नहीं बरतते है, आदि। तो आइये आज हम आपको विस्तार से बताते है की प्राइवेट पार्ट में आपको कौन कौन सी समस्या हो सकती है और इससे बचने के लिए आप क्या कर सकते है।

प्राइवेट पार्ट में कौन कौन से इन्फेक्शन हो सकते है:-

यीस्ट इन्फेक्शन:-

इसका कारण आपके प्राइवेट पार्ट में बैड बैक्टेरिया का बढ़ना होता है। इसे खमीर संक्रमण भी कहते है, यदि खमीर यानी फंगस की समस्या आपके प्राइवेट पार्ट में होती है तो इसके कारण आपको यात इन्फेक्शन का सामना करना पड़ सकता है।

खुजली व् जलन की परेशानी होना:-

यदि आप अच्छे से अपने प्राइवेट पार्ट की साफ सफाई नहीं करते है, या गंदे कपडे पहनते है, पीरियड्स के दौरान लापरवाही करते है, तो इसके कारण आपको खुजली की समस्या हो सकती है। और अधिक खुजली जलन का कारण बनती है, क्योंकि साफ सफाई न रखने के कारण बैड बैक्टेरिया बढ़ जाता है जिसके कारण आपको इस परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है।

यूरिन इन्फेक्शन:-

पानी की मात्रा शरीर में कम होने पर आपको यूरिन इन्फेक्शन की समस्या हो सकती है, ऐसे में कई बार यूरिन पास करते समय आपको दर्द व् जलन की समस्या भी हो सकती है। साथ ही आप यूरिन के रंग को देखकर यह भी जान सकते है की आपको कौन सी समस्या है।

सूजन होना:-

प्राइवेट पार्ट में सूजन होने के कई कारण हो सकते है, जैसे की यदि आप सम्बन्ध बनाते समय तेजी करते है, या फिर अधिक खुजली अधिक है, प्रेगनेंसी के दौरान, हार्मोनल बदलाव के कारण, एस्ट्रोजन की कमी के कारण, आदि। ऐसे में इस परेशानी से बचने के लिए आपको अपने प्राइवेट पार्ट का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए।

सूखापन होना:-

पानी की कमी के कारण, प्राइवेट पार्ट की त्वचा भी अपनी नमी खो देती है। जिसके कारण सूखापन होने लगता है, और इसके कारण आपको इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है। साथ ही इसके कारण आपको रैशेस आदि पड़ने की सम्भावना भी ज्यादा हो जाती है।

प्राइवेट पार्ट में इन्फेक्शन को दूर करने के टिप्स:-

साफ़ सफाई का ध्यान रखें:-

योनि में होने वाले इन्फेक्शन का सबसे बड़ा कारण होता है, की आप अपने प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई का ध्यान नहीं रखते है। जिसके कारण बैड बैक्टेरिया बढ़ने लगता है, और फंगस होने के कारण इन्फेक्शन की समस्या हो जाती है। इसीलिए आपको अपने प्राइवेट पार्ट को साफ़ रखना चाहिए, जितनी बार यूरिन पास करने जाते है अच्छे से सफाई करें, और अच्छे से सुखाने के बाद कपडे पहने।

पानी का भरपूर सेवन करें:-

शरीर में होने वाली पानी की कमी के कारण प्राइवेट पार्ट की स्किन में भी सूखापन होने लगता है। जिसके कारण आपको खुजली व् जलन भी हो सकती है। इसीलिए पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए, सूखापन दूर करने के साथ पानी का भरपूर सेवन करने से आपको यूरिन इन्फेक्शन की समस्या से बचने में भी मदद मिलती है।

ज्यादा सुगन्धित चीजों का इस्तेमाल न करें:-

प्राइवेट पार्ट के लिए यदि आप ज्यादा सुगन्धित चीजों का इस्तेमाल करनी हैं, या मासिक धर्म के दौरान पैड से जुडी लापवाही बरतती है, साबुन का या इत्र का अधिक इस्तेमाल करती है, तो इसके कारण भी बैड बैक्टेरिया बढ़ने की सम्भावना अधिक होती है। इसीलिए प्राइवेट पार्ट के लिए ज्यादा सुगन्धित चीजों का इस्तेमाल न करें, और पीरियड्स के दौरान हर छह से आठ घंटे बाद आपको अपने पैड को बदल लेना चाहिए।

टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल करें:-

योनि में खुजली जलन, सूजन, इन्फेक्शन, आदि से बचाने के लिए टी ट्री ऑयल एक आसान और असरदार उपाय है। इसके लिए आप एक कप गर्म पानी में एक चम्मच टी ट्री ऑयल मिलाएं, और एक चम्मच जैतून का तेल मिलाएं। उसके बाद इससे दो से तीन बार अच्छे से अपने प्राइवेट पार्ट को साफ़ करें। ऐसा करने से आपको योनि से जुडी समस्याओ से राहत पाने में मदद मिलती है।

सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का ध्यान रखें:-

कई बार इन्फेक्शन का कारण आपके पार्टनर को होने वाली समस्या भी हो सकता है। ऐसे मियादी आपके पार्टनर को यदि इन्फेक्शन है तो उसे फैलने से रोकने के लिए आपको सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का इस्तेमाल करना चाहिए। यदि आप सुरक्षा का इस्तेमाल नहीं करते है, तो इसके कारण इन्फेक्शन के बढ़ने का खतरा अधिक रहता है।

कॉटन के कपडे पहने:-

यदि आप सिंथेटिक अंडरवियर पहनते है, तो यह आपके पसीने को सोख नहीं पाता है, जिसके कारण बैड बैक्टेरिया बढ़ने लगता है। और इसके कारण आपको खुजली की समस्या से भी परेशान होना पड़ सकता है। ऐसे में आपको कॉटन का साफ़ अंडरवियर पहनना चाहिए इससे आपका पसीना भी सोख लिया जाता है, साथ ही आपको खुजली व् जलन जैसी परेशानी भी नहीं होती है।

नीम के पानी का इस्तेमाल करें:-

नीम का इस्तेमाल एक प्राकृतिक औषधि के रूप में किया जाता है जो बैड बैक्टेरिया को खत्म करने में आपकी मदद करती है। ऐसे में आप नीम के पत्तों को पीस कर उनका लेप बनाकर प्राइवेट पार्ट में लगाएं, या नीम की निबोली को पानी में अच्छे से उबाल कर उससे अपने परिवाते पार्ट की सफाई करें, ऐसा दिन में दो बार करने से आपको राहत मिलेगी। और इस उपाय को जब तक करना चाहिए जब तक की आपका इन्फेक्शन ठीक न हो जाए।

दही है फायदेमंद:-

दही में मौजूद गुड़ बैक्टेरिया आपको बैड बैक्टेरिया की समस्या से बचाने में मदद करते है। साथ ही इससे आपको ठंडक भी मिलती है, जिससे आपको खुजली व् जलन की समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है। इसके लिए आपको अपने आहार में दही को सम्मिलित करना चाहिए, साथ ही आप रुई को दही में भिगोकर उसे भी अपने प्राइवेट पार्ट में लगा सकते है।

नारियल तेल का इस्तेमाल करें:-

नारियल तेल में मौजूद गुण आपको प्राइवेट पार्ट से जुडी परेशानियों से राहत दिलाने में मदद करते है। इसके लिए आप दिन में दो से तीन बार रुई की मदद से अच्छे से अपने प्राइवेट पार्ट में नारियल के तेल को लगाएं। ऐसा करने से आपको प्राइवेट पार्ट से जुडी इस समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है। जैतून और मीठे बादाम के तेल का इस्तेमाल करने से भी आपको फायदा मिलता है।

तो आपको अपने प्राइवेट पार्ट की अच्छे से साफ सफाई का ध्यान रखना चाहिए। ताकि आपको भी प्राइवेट पार्ट से जुडी इन परेशानियों का सामना न करना पड़े। और यदि आपको ये समस्या हो जाती है, तो ऐसे में आप ऊपर दिए गए टिप्स का इस्तेमाल करके अपनी समस्या का समाधान भी कर सकते है।

प्राइवेट पार्ट इन्फेक्शन, योनि में इन्फेक्शन के कारण, प्राइवेट पार्ट से जुडी परेशानियां, private part infection, private part me infection se bachne ke tips, private part me infection ke kaaran v upay

Leave a comment