Take a fresh look at your lifestyle.

सांस की दुर्गन्ध इन बीमारियों का संकेत होती है

0

सांस में आने वाली दुर्गन्ध की समस्या आम बात होती है, क्योंकि जो लोग अपने मुँह की साफ सफाई का अच्छे से ध्यान नहीं रखते हैं उन्हें यह समस्या होती है। और सांस में आने वाली दुर्गन्ध के कारण कई बार उन्हें दूसरों से बात करते समय शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ता है। क्योंकि जब भी आप बात करते हैं तो आपके मुँह से एयर ब्लो करती है, जिससे आपकी साँस की दुर्गन्ध का दूसरों को भी पता चल जाता है। लेकिन बहुत ही कम लोग ये जानते हैं की सांस से दुर्गन्ध आने का केवल यही कारण नहीं होता है की आपकी मुँह की साफ़ सफाई नहीं रखते हैं। बल्कि साँस से आने वाली दुर्गन्ध आपके शरीर में होने वाली किसी बिमारी का भी संकेत देती है। तो आइए अब जानते हैं की सांस में आने वाली दुर्गन्ध किन किन बिमारियों का संकेत देती है।

सांस में आने वाली दुर्गन्ध के कारण:-

  • जो लोग अपने मुँह और दांतों की अच्छे से साफ़ सफाई नहीं रखते हैं उन्हें यह समस्या हो सकती है।
  • पेट में खराबी जैसे की कब्ज़ या एसिडिटी होने के कारण भी ऐसा होता है।
  • मुँह में लार कम बनने के कारण भी ऐसा होता है।
  • मसूड़ों में बैक्टेरिया के जमाव के कारण भी आपको सांस में आने वाली दुर्गन्ध का सामना करना पड़ता है।
  • जीभ पर यदि गंदगी जमी रहती है तो भी आपकी सांस में से बदबू आती है।
  • यदि आप किसी बीमारी से परेशान हैं तो भी मुँह में आने वाले सूखेपन के कारण ऐसा हो सकता है, क्योंकि दवाइयों के अधिक सेवन के कारण मुँह सूखने लगता है।

सांस में आने वाली दुर्गन्ध की वजह से हो सकती हैं यह बीमारियां:- साँस में आने वाली दुर्गन्ध केवल इस और इशारा नहीं करती है की आप अपने मुँह और दांतों की साफ़ सफाई अच्छे से नहीं करते हैं। बल्कि कई बार यह आपके शरीर में होने वाली बीमारियों की और संकेत करती हैं। तो आज हम आपको बताते है की सांस से आने वाली दुर्गन्ध के कारण कौन कौन सी बीमारी हो सकती है।

साइनस की बिमारी हो सकती है:- इस बिमारी के होने पर नाक बंद रहने लगता है जिसके कारण व्यक्ति मुँह से साँस लेता है। मुँह से सांस लेने के कारण मुँह सूखा हुआ रहता है जिसके कारण वहां पर बैड बैक्टेरिया पनपने लगता है। और नाक से बहने वाला द्रव भी गले में आने लगता है जिसके कारण आपको सांस में दुर्गन्ध आती है।

पेट से सम्बंधित परेशानी हो सकती है:- एसिडिटी, गैस आदि की समस्या होने पर सीने में जलन होना आम बात होती है। साथ ही इसके कारण आपकी पाचन क्रिया पर भी असर पड़ता है। जिसके कारण खट्टी डकार आदि आने लगती है, और आपके मुँह से सांस की बदबू आती है। इसीलिए हो सकता है यदि आपके मुँह से बदबू आ रही है तो आपको पाचन क्रिया से सम्बंधित परेशानी है।

शुगर की समस्या के होने पर:- यदि आप मधुमेह के रोग से पीड़ित है और आपको पता नहीं है, तो हो सकता है की आपके मुँह से आने वाली दुर्गन्ध इसी और इशारा करती है। क्योंकि मधुमेह होने के कारण शरीर में अपर्याप्त मात्रा में इन्सुलिन उत्त्पन्न होता है, जिससे बॉडी में फैट जलता है। और कैंटोन्स की मात्रा में बढ़ोतरी होती है, जिसके कारण आपको साँस मेसे बदबू आने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

मुँह में इन्फेक्शन भी हो सकता है:– नियमित ब्रश न करने और मुँह की अच्छे से साफ़ सफाई न करने के कारण, मुँह में बैड बैक्टेरिया का जमाव होने लगता है। और यह बैक्टेरिया मुँह में सल्फर यौगिक को उत्सर्जित करने लगता है। जिसके कारण भी सांस से बदबू आने की समस्या हो सकती है, क्योंकि इसके कारण मुँह में इन्फेक्शन हो जाता है। इसीलिए दांतों, जीभ व पूरे मुँह की अच्छे से साफ़ सफाई करनी चाहिए।

श्वसन तंत्र में संक्रमण हो सकता है:- यदि आपकी नाक से हरे या पीले रंग का डिस्चार्ज आता है, बलगम की समस्या होती है, नाक हमेशा भरी रहती है, और सांस में से भी दुर्गन्ध आती है। तो यह इस बात की और संकेत करती है की आपके श्वसन तंत्र में इन्फेक्शन हो गया है।

फेफड़ों में गाँठ का होना:- यदि आपको फेफड़ों में गाँठ होती है तो इसके कारण भी आपको सांस में से आने वाली दुर्गन्ध का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही यह फेफड़ों में होने वाले संक्रमण की तरफ इशारा करती है, इसके अलावा जो लोग बहुत अधिक तम्बाकू आदि का सेवन करते हैं तो भी आपको इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

मसूड़ों की बिमारी हो सकती है:- मुँह व सांस से बदबू का आना मसूड़ों में होने वाली बिमारी की और संकेत करता है। यह बिमारी बैक्टेरिया से निकालने वाले प्लेक से होती है जो की एक चिपचिपा तत्व होता है। जो की हाइड्रोज़न सल्फाइड भाप बनाते है जिसके कारण दांतो पर एक रंगहीन परत जमने लगती है। जिसके कारण दांतों में कमजोरी आने लगती है, और मसूड़ों में इन्फेक्शन होने की समस्या का सामना आपको करना पड़ सकता है।

लिवर से सम्बंधित समस्या हो सकती है:- सांस में अधिक बदबू का आना लिवर डिसऑर्डर की और भी संकेत करता है, इसके कारण आपको लिवर में इन्फेक्शन या अन्य कोई समस्या भी हो सकती है।

ड्राई माउथ सिंड्रोम की समस्या:- मुँह में लार का बनना बहुत जरुरी होता है क्योंकि यह बेहतर पाचन, मुँह में नमी, और साथ ही मुँह की साफ़ सफाई के लिए भी बहुत जरुरी होती है। लेकिन कई बार मुँह में लार का बनना कम हो जाता है जिसके कारण आपको ड्राई माउथ सिंड्रोम नामक बीमारी हो सकती है। ऐसा होने में कारण मुँह में मृत कोशिकाओं का जमाव होने लगता है। जिसके कारण यह कोशिकाएं दुर्गन्ध पैदा करने लगती है, और आपको सांस से आने वाली दुर्गन्ध का सामना करना पड़ता है।

तो यह है कुछ कारण जिनकी वजह से आपकी सांस में से दुर्गन्ध आती है, और यदि साफ़ सफाई रखने के बाद भी आपकी साँस में से दुर्गन्ध आती है तो हो सकता है की आप ऊपर दी गई किसी बिमारी से परेशान हो। इसीलिए यदि ऐसा होता है तो एक बार आपको अपनी शारीरिक जांच जरूर करवानी चाहिए ताकि यदि कोई समस्या हो तो उसका समय रहते इलाज हो सके और आपको इस परेशानी से बचाव मिलने में मदद मिलें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.