Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

सफ़ेद पानी (White Discharge) आने के ये कारण हो सकते हैं

0

सफ़ेद पानी महिलाओ को होने वाली एक आम समस्या होती है, परतु इसका ज्यादा मात्रा में होना इन्फेक्शन या किसी रोग के होने का संकेत से सकता है, और ज्यादातर महिलायें ऐसी होती है जिन्हे ये भी नहीं पता होता है, सफ़ेद पानी का कितना आना सामान्य है, और कितना असामन्य होता है, और महिलाएं इस बारे में किसी से शेयर भी नहीं करती है, जो की गलत होता है, क्योंकि अधिक मात्रा में सफ़ेद पानी का आना आपके हरिर में कमजोरी ये फिर किसी रोग को आमंत्रित कर सकता है।

इन्हे भी पढ़े:- लडकिया और औरते ऐसे रखें प्राइवेट पार्ट का ख्याल

जिस तरह मासिक धरम के दौरान महिलाओ के प्राइवेट पार्ट से रक्त का स्त्राव होता है, उसी प्रकार आपके प्राइवेट पार्ट से वाइट डिस्चार्ज भी होता रहता है, और पीरियड्स से पहले या बाद में इसका होना एक सामन्य प्रक्रिया होती है, अण्डोत्सर्ग के समय भी आपके प्राइवेट पार्ट से सफ़ेद पानी का स्त्राव होता है, ताकि अंडे को तैरकर जाने में मदद मिल सकें, सफ़ेद पानी का आना तो एक आम बात होती है, परन्तु जब ये स्त्राव गाढ़े नीले, हरे, या पीले रंग का होता है तो ये असामन्य होता है, इसके कारण आपको सफ़ेद पानी से जुड़े रोग की परेशानी का अनुभव हो सकता है, तो आइये जानते है की सफ़ेद पानी आने के कौन कौन से कारण होते है।

सफ़ेद पानी आने के लक्षण:-

  • प्राइवेट पार्ट में अधिक खुजली का होना।
  • कमर व् पेट के निचले हिस्से में दर्द का अनुभव होना।
  • प्राइवेट पार्ट से गंध का आना।
  • शरीर में कमजोरी महसूस होने लगती है।
  • सर दर्द व् कमजोरी का अहसास होने लगता है।

सफ़ेद पानी आने के कारण:-

इन्फेक्शन होने के कारण:-

जब भी आपको प्राइवेट पार्ट में इन्फेक्शन हो जाता है, तो इन्फेक्शन के समय बैक्टेरिया का जमाव होने के कारण आपको सफ़ेद पानी आने लगता है, और ऐसे में कई बार ये ज्यादा मात्रा में भी आ जाता है, इसके लिए जरुरी होता है की आप अपने प्राइवेट पार्ट की समस्या का समाधान करें।

बार बार गर्भपात होने के कारण:-

जिन महिलाओ का एक से ज्यादा बार गर्भपात हो जाता है, उन महिलाओ को सफ़ेद पानी की समस्या ज्यादा रहती है, ऐसे में आप चाहे तो अपने डॉक्टर से राय ले सकते है।

रोगग्रस्त पुरुष के साथ सम्बन्ध बनाने से:-

यदि आप किसी भी रोगग्रस्त व्यक्ति से संपर्क बनाती है, तो इसके कारण भी आपका प्राइवेट पार्ट से जुडी परेशानी हो जाती है, जिसके कारण जब भी आप उसके संपर्क में आती है, तो आपको उसके बाद सफ़ेद पानी की समस्या हो जाती है।

इन्हे भी पढ़े:- प्राइवेट पार्ट में जलन व् एलर्जी से बचने के कुछ उपाय

प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई न रखने से:-

जो महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई का ध्यान नहीं रखती है, उनके उस हिस्से में बैक्टेरिया का जमाव अधिक होने लगता है, जिसके कारण आपको इन्फेक्शन की समस्या बढ़ जाती है, और साथ ही आपको सफ़ेद पानी की समस्या से परेशानी होना पड़ सकता है, इसीलिए महिलाओ को हमेशा अपने प्राइवेट पार्ट की साफ़ सफाई का ध्यान रखना चाहिए ताकि वहां के ph लेवल को सही रखने में मदद मिल सकें।

अश्लील बातें करने से:-

वाइट डिस्चार्ज का एक कारण और भी होता है, जब भी आप अश्लील बातें करते है या अश्लील वीडियो देखते है, तो इसके कारण भी आपके शरीर में हॉर्मोन प्रभावित होते है, जिसके कारण भी आपको सफ़ेद पानी आने लगता है, परन्तु ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके कारण आपकी से* क्स पावर पर बुरा प्रभाव पड़ता है, और इसके कारण आपको अपनी शादीशुदा जिंदगी में दिक्कत का सामना भी करना पड़ सकता है।

उत्तेजित कल्पनाओ के बारे में विचार करने पर:-

जब आप मन में ही सम्बन्ध बनाने के बारे में या ओरल सम्बन्ध बनाने के बारे में सोचते है, और अपने दिमाग में केवल वही बातें सोचते रहते हैं, तो इसके कारण आपके से* क्स हॉर्मोन बहुत बहुत अधिक उत्तेजित हो जाते है, जिसके कारण आपको सफ़ेद पानी आने लगता है।

सफ़ेद पानी की समस्या से बचने के टिप्स:-

  • प्राइवेट पार्ट को बोरिक एसिड या फिर फिटकरी युक्त पानी से धोने पर आपको इस समस्या से राहत मिलती है।
  • पेशाब करने के बाद और सम्बन्ध बनाने के बाद अच्छे से अपने प्राइवेट पार्ट को साफ करें।
  • बार बार गर्भपात करवाने से बचें, और सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का इस्तेमाल करें।
  • यदि आपको सफ़ेद पानी की समस्या है तो इसके लिए आपको अपने डॉक्टर से भी बात करनी चाहिए, ताकि ये समस्या ज्यादा न बढे।
  • समबन्ध बनाने के दौरान सुरक्षा का इस्तेमाल करें, ताकि रोगाणु आपके प्राइवेट पार्ट में प्रवेश न करें।

सफ़ेद पानी की समस्या से बचने के आयुर्वेदिक उपाय:-

  • चावल की मांड पीने से आपको सफ़ेद पानी की समस्या से बचने में मदद मिलती है।
  • अदरक को पानी में डाल कर पानी में अच्छे से उबाल लें, कुछ दिनों तक दिन में दो समय इस पानी को छान कर इसका सेवन करें आपको फायदा मिलेगा।
  • मैथी के कुछ दाने पानी में भिगो कर रख दें, और रात भर के लिए छोड़ दें, सुबह उठ कर इस पानी को छान कर नियमित इसका सेवन करें, आपको कुछ ही दिनों में इसका असर दिखाई देने लगेगा।
  • मैथी के लडू खाने से भी आपको सफ़ेद पानी की समस्या से राहत मिलती है।
  • थोड़ी सी हल्दी और थोड़ा सा लहसुन को बराबर मात्रा में पीस कर अपने प्राइवेट पार्ट पर लगाएं ऐसा करने से भी आपको इस समस्या से राहत मिलती है।
  • नियमित कच्चे टमाटर का सेवन करने से भी आपको इस समस्या से राहत मिलती है।
  • दिन में दो बार प्याज़ का रस और शहद मिलाकर इसका सेवन करने से भी आपको इस समस्या से राहत मिलने में मदद मिलती है।

तो ये कुछ कारण है जिनके कारण आपको सफ़ेद पानी की समस्या हो जाती है, और साथ ही कुछ उपाय भी है जिनका इस्तेमाल करके आप इस समस्या से राहत भी पा सकते है, इसके अलावा जब भी आपको ऐसा लगे की आपको आपको सफ़ेद पानी की समस्या ज्यादा हो रही है, तो बिना शर्म के आपको इस बारे में डॉक्टर से बात करनी चाहिए, ताकि आपको किसी बीमारी का सामना न करना पड़ें।

इन्हे भी पढ़े:- जननांग में संक्रमण होने पर क्या क्या प्रॉब्लम हो सकती हैं

Leave a comment