शादी के कितने दिनों बाद बेबी प्लान करना चाहिए

0

शादी के कितने दिनों बाद बेबी प्लान करना चाहिए, बेबी प्लान करने की सही उम्र क्या होती है, शादी के बाद कब करें बेबी प्लान, शिशु के जन्म के लिए शादी के बाद कब करें तैयारी, Baby planning after Marriage

शिशु का जन्म माँ बाप दोनों के लिए ही बहुत ख़ुशी का समय होता है। लेकिन आज के समय में ज्यादातर कपल शादी के थोड़े समय बाद ही बच्चे की प्लानिंग करते हैं, क्योंकि शादी के बाद एन्जॉय करने के साथ यदि वो अभी शिशु की जिम्मेवारी उठाने के काबिल नहीं समझते हैं तो वो बच्चे की प्लानिंग नहीं करते हैं। और केवल लडकियां ही नहीं बल्कि आजकल पुरुष भी चाहते हैं की जब तक वो पूरी तरह से बच्चे की जिम्मेवारी नहीं उठा सकते तब तक शिशु को प्लान न करें। लेकिन क्या आप जानते हैं की शिशु के जन्म लेने के लिए भी एक सही समय होता है।

और यह इस बात पर निर्भर करता है की आप शादी कब करते हैं, जैसे की यदि आप बीस साल की उम्र में शादी कर लेते हैं तो आप तीन चार साल बाद भी बच्चा प्लान कर सकते हैं। लेकिन यदि आप शादी तीस की उम्र में करते हैं तो उसके बाद शिशु की प्लानिंग में देरी आपके लिए परेशानी का कारण बन सकती है। क्योंकि रिसर्च के अनुसार बचा पैदा करने की सही उम्र तेईस से पच्चीस होती है। ऐसा इसीलिए क्योंकि इस समय शुक्राणु अच्छे से परिपक्व होते हैं जो प्रेगनेंसी के लिए परफेक्ट होते हैं। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की शादी के बाद बच्चा कब प्लान करना चाहिए।

उम्र का रखे ध्यान

आज कल लडकियां माँ बनने से घबराती हैं क्योंकि उन्हें लगता है की शायद अभी वो इस जिम्मेवारी को उठाने लायक नहीं है। लेकिन उम्र बढ़ने के साथ हॉर्मोन का स्तर भी गिरने लगता है, साथ ही अंडाशय में अंडे बनने भी उम्र के साथ कम होने लगते हैं। ऐसे में पच्चीस साल की उम्र तक यदि आप शादी हो जाती है, तो आपको प्रेगनेंसी का निर्णय ले लेना चाहिए। और यदि इससे अधिक जैसे की अठाइस या तीस वर्ष की उम्र में शादी होती है तो आपको प्रेगनेंसी के लिए ज्यादा देरी नहीं करनी चाहिए। हां लेकिन यदि आप कम उम्र जैसे की बीस या बाइस की उम्र में शादी होती है तो आप थोड़ा रुक सकती हैं।

पार्टनर का भी रखें ध्यान

केवल महिला की उम्र ही मायने नहीं रखती है, बल्कि पुरुष की उम्र भी मायने रखती है। यदि दोनों पार्टनर में उम्र का ज्यादा गैप हो तो भी आपको देरी नहीं करनी चाहिए। क्योंकि पुरुष के शुक्राणु की क्वालिटी भी धीरे धीरे कम होने लगती है। और उनका हॉर्मोन का स्तर भी गिरने लगता है। जिसके कारण बाद में महिला को प्रेगनेंसी न होने जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसीलिए शादी के बाद बच्चा प्लान करने में इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए।

शादी की उम्र के अनुसार बेबी प्लान करते समय इन बातों का रखे ध्यान

  • यदि आप शादी बीस की उम्र के आस पास होती है तो आप थोड़ा समय ले सकती है, और बेबी प्लानिंग के लिए इंतेज़ार कर सकती है।
  • पच्चीस से तीस की उम्र में शादी होने के बाद आपको आपको ज्यादा देरी न करते हुए जल्दी से जल्दी बेबी प्लान करना चाहिए।
  • तीस की उम्र में यदि आपकी शादी होती है या पेंतीस की उम्र में होती है या इससे भी ज्यादा उम्र में होती है, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आप अपने शरीर की जांच अच्छे से करवाए, और उसके बाद जितना जल्दी हो सके शिशु प्लान करें। क्योंकि इस दौरान शुक्राणु की बेहतर क्वालिटी न होने के कारण और हॉर्मोन का स्तर गिरने के कारण जन्म लेने वाले शिशु को दिक्कत हो सकती है।

तो यह हैं कुछ बातें जिनका ध्यान आपको शादी के बाद बेबी प्लान करते समय रखना चाहिए। और शादी के बाद बेबी प्लान के लिए आपकी बॉडी की फिटनेस और आपकी उम्र मायने रखती है इसीलिए दोनों का ध्यान रखते हुए आपको बेबी प्लान करना चाहिए।

[Total: 3    Average: 3/5]