Take a fresh look at your lifestyle.

बदसूरत लड़के को सुन्दर गर्लफ्रेंड ही क्यों मिलती है?

0

आज के समय में कॉलेज गर्ल हो या ऑफिस गर्ल सभी में बॉयफ्रेंड बनाने भूत सवार है। कोई अपने से बड़े उम्र के लड़के को बॉयफ्रेंड बना लेती है तो कोई अपने से बहुत छोटे। समझ नहीं आता उन्हें उनमे क्या दिखता है की वे उन्हें अपना जीवनसाथी मान बैठती है।

आपने भी अक्सर रोड, बस, मेट्रो आदि में देखा होगा की ज्यादातर लड़किया लड़को के साथ ही दिखाई देती है। लेकिन उन सभी में सबसे गौर करने वाली बात ये होती है की सुन्दर लड़कियों के साथ हमेशा बदसूरत लड़के (बॉयफ्रेंड) ही दिखाई देते है। उस समय उन्हें देख आपके मन में भी यही सवाल उछल कूद करता होता की इतने खराब लड़कों को इतनी सुन्दर लड़कियां कैसे मिल जाती है?

कई लड़के इसे उन्हें जादूगर समझते है तो कुछ का मानना है की लड़किया पटाना उनके बाएं हाथ का खेल है। जबकि ऐसा कुछ नहीं है। किसी बदसूरत लड़के को सुन्दर गर्लफ्रेंड का मिलना कोई इत्तेफाक या जादू नहीं होता। बल्कि उसके लड़के की खुबिया होती है। इसके अलावा भी ऐसे बहुत से कारण होते है जिनकी वजह से सुन्दर लड़किया बदसूरत बॉयफ्रेंड बना लेती है। और आज हम आपको इन्ही कारणों के बारे में बताने जा रहे है। ताकि अगली बार जब आप एक सुन्दर लड़की के साथ किसी बदसूरत बॉयफ्रेंड को देखे तो समझ लें की खूबसूरती चेहरे की नहीं अपितु मन की होती है।

सुंदर लड़कियों के बदसूरत बॉयफ्रेंड इसलिए होते है :-

1. आजकल की लड़किया और लड़के केवल शारीरिक संरचना ही नहीं बल्कि सोच के आधार पर भी अलग अलग होते है। जहां एक तरफ लड़के केवल सुंदर और खूबसूरत लड़कियों की ओर आकर्षित होते है वहीं लड़कियों की पसंद इस मामले में थोड़ी डिफर होती है। वे गोर और स्टाइलिश लड़के नहीं बल्कि रफ लड़के अधिक पसंद करती है।

2. लड़कियों को हसंकर बात करने वाले, बोलने वाले और मजाक करने वाले लड़के बहुत पसंद होते है। और ये खूबी अधिकतर बदसूरत लड़कों में देखी जाती है। शायद इसीलिए सुंदर लड़कियां भी ऐसे लड़कों को ही पसंद करती है।

3. आजकल की लड़कियां लड़कों की शक्ल के बजाय उनकी पर्सनालिटी को देखना अधिक पसंद करती है। लड़कियों को शक्ल से ज्यादा उनकी पर्सनालिटी अट्रैक्ट करती है। इसीलिए जिन लड़कों की पर्सनालिटी अच्छी होती है उनसे लड़कियां बहुत जल्दी इम्प्रेस हो जाती है।

4. बहुत सी लड़कियां अपने साथी में मैच्युरिटी का गुण देखती है। क्योंकि आजकल की लड़कियों को बचकानी हरकते करने वालों से अधिक मच्योर लड़के पसंद होते है। फिर चाहे ये गुण सुंदर लड़कों में हो या बदसूरत लड़कों में।

5. आज की लड़कियों को गोल गोल बातें करवाने वाले लड़कों से अधिक सीधे और सरल लड़के पसंद आते है जो उनकी इज्जत करें। साथ ही उसमे स्मार्टनेस भी होनी चाहिए। और वे गुण भी अधिकतर बदसूरत लड़कों में ही देखने को मिलते है। क्योंकि सुंदर लड़के अपनी बातें बहुत घुमा घुमा कर करते है। ऐसे में बदसूरत लड़के ही उनकी पहली पसंद बन जाते है।

तो अब आप अच्छे से समझ गए होंगे, की बदसूरत लड़कों को सुंदर लड़कियां कैसे मिल जाती है। और ये भी समझ गए होंगे की ये कोई और जादू नहीं बल्कि उनके गुणों और व्यक्तित्व का जादू है।

सुंदर लड़कियां बदसूरत बॉयफ्रेंड, सुंदर लड़कियों के बदसूरत बॉयफ्रेंड, बदसूरत लड़कों को इतनी सुंदर लड़कियां कैसे मिल जाती है, सुंदर लड़की पटाने की टिप्स, बदसूरत बॉयफ्रेंड की सुंदर गर्लफ्रेंड, सुंदर लड़की और बदसूरत लड़का दोस्त कैसे बन जाते है, सुंदर लड़की को पटाने के तरीके, सुंदर लड़की को अपनी गर्लफ्रेंड कैसे बनायें 

Leave A Reply

Your email address will not be published.