Take a fresh look at your lifestyle.

ओव्यूलेशन पीरियड के लक्षण

0

माँ बनने की चाहत हर महिला की होती है और हर महिला कभी न कभी माँ बनने का अनुभव लेना चाहती है। लेकिन कई बार महिला बहुत कोशिश करती है लेकिन फिर भी प्रेगनेंसी नहीं हो पाती है। ऐसे में डॉक्टर्स भी आपको सलाह देते हैं की जो आपका ओव्यूलेशन पीरियड होता है उस दौरान आप सम्बन्ध बनाएं। क्योंकि उन दिनों में प्रजनन क्षमता सबसे ज्यादा सक्रिय होती है और आपके प्रेग्नेंट होने के चांस भी अधिक होते हैं। लेकिन उससे पहले यह जानना भी जरुरी होता है की ओव्यूलेशन पीरियड क्या होता है और आपको कैसे पता चलता है की आपका ओव्यूलेशन पीरियड चल रहा है। तो आइये अब इस आर्टिकल में आगे जानते हैं की ओव्यूलेशन पीरियड क्या होता है? और आपको कैसे पता चलता है की आपका ओव्यूलेशन पीरियड चल रहा है।

ओव्यूलेशन पीरियड क्या होता है?

महिला के पीरियड्स जिस दिन शुरू होते हैं उस दिन को पहला दिन गिनते हुए जो बारह से सोलह दिन का समय होता है वो आपका ओव्युलेशन पीरियड होता है। जैसे की यदि आपको 1 तारीख को पीरियड आए हैं तो आपका ओव्यूलेशन पीरियड 12 से 16 दिनों के बीच का होता है। इन दिनों में महिला की प्रजनन क्षमता सबसे ज्यादा सक्रिय होती है ऐसे में इन दिनों में यदि महिला सम्बन्ध बनाती है तो महिला के प्रेग्नेंट होने के चांस अधिक होते हैं।

ओव्यूलेशन पीरियड के क्या लक्षण होते हैं?

जब महिला का ओवुलेशन पीरियड शुरू होता है तो महिला को शरीर में कुछ लक्षण महसूस हो सकते हैं। जिनसे यह जानने में मदद मिलती है की महिला का ओव्यूलेशन पीरियड शुरू हो गया है। जैसे की:

पेट के निचले हिस्से में दर्द

ओव्यूलेशन पीरियड के शुरू होने पर महिला के पेट के निचले हिस्से में दर्द महसूस हो सकता है। और जैसे ही आपका ओव्यूलेशन पीरियड खत्म होता है। वैसे ही यह दर्द भी खत्म हो जाता है। पेट में दर्द के साथ महिला को ऐंठन भी महसूस हो सकती है।

जी मिचलाना

इस दौरान महिला को जी मिचलाना, मुँह का स्वाद बिगड़ जाना जैसी समस्या भी हो सकती है। और इसका कारण ओव्यूलेशन पीरियड के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव हो सकते हैं।

सफ़ेद पानी

ओव्यूलेशन पीरियड के दिनों में और दिनों की अपेक्षा महिला को ज्यादा सफ़ेद पानी निकल जाता है। जिसके कारण महिला को प्राइवेट पार्ट में गीलेपन का अहसास अधिक हो सकता है।

ब्रेस्ट में बदलाव

ओव्यूलेशन पीरियड के दौरान महिला को ब्रेस्ट में दर्द अधिक महसूस हो सकता है, ब्रेस्ट में कड़ापन महसूस हो सकता है, सूजन जैसा भी महसूस हो सकता है। लेकिन घबराएं नहीं क्योंकि ओव्यूलेशन पीरियड के खत्म होने के बाद आपको इस परेशानी से निजात पाने में मदद मिलेगी।

सम्बन्ध बनाने की इच्छा में वृद्धि

ओव्यूलेशन पीरियड शुरू होने के बाद महिला के बॉडी में हॉर्मोन्स रिलीज़ होते हैं। जिसके कारण महिला की सम्बन्ध बनाने की इच्छा में वृद्धि होती है।

सिर दर्द

सिर दर्द का महसूस होना भी ओव्यूलेशन का संकेत होता है। यदि अपने पीरियड के अनुसार अपने ओव्यूलेशन का अंदाजा लगाया है और उन्ही दिनों में आपको सिर दर्द हो रहा है तो यह संकेत होता है की आपका ओव्यूलेशन पीरियड चल रहा है।

तो यह हैं महिला के ओव्यूलेशन पीरियड से जुड़े कुछ टिप्स, यदि आप भी प्रेग्नेंट बनने के लिए ट्राई कर रही हैं तो आपको भी अपने ओव्यूलेशन के बारे में जानकारी होनी चाहिए। ताकि जल्द से जल्द गर्भधारण करने में आपको मदद मिल सके।

Symptoms of Fertile Days, Ovulation Period symptoms


Symptoms After Egg Rupture Everything You Need To Know About Ovulation follicle rupture and pregnancy watch this Hindi Videos for women fertile period

Leave A Reply

Your email address will not be published.