Lifestyle Blog India
Uncategorized

प्रेगनेंसी टेस्ट करने के 10 तरीके

10 ways to do pregnancy test

पीरियड्स मिस होने पर महिलाएं इस बात को लेकर सोचने लगती है की कहीं वो प्रेग्नेंट तो नहीं हो गई हैं। क्योंकि पीरियड्स का मिस होना प्रेगनेंसी का अहम लक्षण है। और महिला गर्भवती है या नहीं इसका पता लगाना आज कल कोई मुश्किल बात भी नहीं है। क्योंकि महिला प्रेग्नेंट है या नहीं है इसका पता महिला मार्किट से प्रेगनेंसी टेस्ट लाकर या फिर कुछ आसान घरेलू तरीको का इस्तेमाल करके भी कर सकती है। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे दस तरीको के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको यह बताने में मदद करते हैं की महिला गर्भवती है या नहीं है।

कांच का गिलास

प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सबसे आसान तरीका है की महिला अपने यूरिन को एक कांच के साफ़ सूखे गिलास में डाले। उसके बाद उसे थोड़ी देर के लिए रखें उसके बाद यदि गिलास में यूरिन के ऊपर सफ़ेद रंग की परत आ जाती है। तो इसका मतलब होता है की महिला प्रेग्नेंट है।

चीनी

चीनी का इस्तेमाल करके भी महिला प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती है। इस टेस्ट के लिए महिला थोड़े से यूरिन के सैंपल में थोड़ी सी चीनी मिलाएं। अब महिला उसे मिक्स करे यदि चीनी यूरिन में घुल जाती है तो इसका मतलब है की आप प्रेग्नेंट नहीं है और यदि चीनी नहीं घुलती है और इक्क्ठी होने लगती है तो इसका मतलब होता है की आप गर्भवती हैं।

READ  एक से नौ महीने तक प्रेग्नेंट महिला के शरीर में कौन-कौन से बदलाव आते हैं?

ब्लीच

प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए ब्लीच का इस्तेमाल करना भी बहुत फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल के लिए आप थोड़ा सा यूरिन लेकर उसमे थोड़ी सी ब्लीच मिलाएं। अब उसे मिक्स करें यदि मिश्रण के ऊपर आपको बुलबुले दिखाई देते हैं तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट हो सकती है।

सिरका

विनेगर यानी सिरका का इस्तेमाल करने से भी प्रेगनेंसी टेस्ट किया जा सकता है। इस टेस्ट को करने के लिए आप यूरिन में थोड़ा सा सिरका मिलाएं। यदि यूरिन में सिरका मिलाने के बाद आपको उसके रंग में कोई बदलाव नज़र आता है तो इसका मतलब होता है की शायद आप प्रेग्नेंट हैं और यदि रंग में कोई बदलाव नज़र नहीं आता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट नहीं है।

टूथपेस्ट

सफ़ेद रंग के टूथपेस्ट को आप यूरिन सैंपल में मिक्स करें उसके बाद देखें की यदि सैंपल का रंग नीला हो जाता है तो इसका मतलब आप प्रेग्नेंट हैं। और यदि सैंपल का रंग वैसे ही रहता है तो इसका मतलब होता है की परिणाम नेगेटिव है।

डेटोल

डेटोल का इस्तेमाल करने से भी आप घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती है। इसके इस्तेमाल के लिए आप आप एक डिस्पोजेबल गिलास में यूरिन और डेटोल को बराबर मात्रा में मिलाएं यदि डेटोल और यूरिन अच्छे से मिक्स हो जाता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट हैं और यदि डेटोल के ऊपर यूरिन परत बनाकर अलग से तैरने लगता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट नहीं है।

READ  प्रेग्नेंट महिला को गर्मियों में क्या करना चाहिए?

साबुन

घर में मौजूद साबुन का इस्तेमाल करने से भी आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। इसके लिए आप यूरिन में थोड़ा साबुन मिलाएं यदि साबुन यूरिन में घुलकर बुलबुले बनाने लगता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट हैं।

नमक

सफ़ेद नमक का इस्तेमाल करने से भी आप घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। इसके लिए आप यूरिन सैंपल में थोड़ा सा नमक मिलाएं। अब इसे अच्छे से मिक्स करें यदि नमक यूरिन सैंपल में मिलकर दूधिया रंग का होने लगता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट हैं। और यदि किसी तरह का कोई भी रिऎक्शन नहीं होता है तो इसका मतलब होता है की आप प्रेग्नेंट नहीं हैं।

बेकिंग सोडा

यूरिन सैंपल में दो से तीन चम्मच बेकिंग सोडा को अच्छे से मिक्स करें यदि मिश्रण को अच्छे से मिलाने पर झाग या बुलबुले दिखाई देते हैं। तो इसका मतलब होता है की महिला गर्भवती है यदि मिश्रण को मिक्स करने पर ऐसा कुछ नहीं होता है तो इसका मतलब होता है महिला प्रेग्नेंट नहीं है।

प्रेगनेंसी टेस्ट किट

मार्किट से मिलने वाली प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करके भी आप घर पर बैठे आसानी से अपनी प्रेगनेंसी के बारे में जान सकते हैं। टेस्ट किट का इस्तेमाल करने के लिए आप ड्रॉपर की मदद से यूरिन सैंपल को किट में बताई गई जगह पर दो से तीन बून्द डालें। और उसके बाद पांच से दस मिनट तक इंतज़ार करें। यदि किट पर दी गई दोनों लाइन लाल या गुलाबी हो जाती है तो इसका मतलब होता है की टेस्ट पॉजिटिव है। और यदि ऐसा नहीं होता है तो इसका मतलब होता है की टेस्ट नेगेटिव है।

READ  प्रेग्नेंट महिला को शिवरात्रि का व्रत करने के फायदे

प्रेगनेंसी टेस्ट करते समय इन बातों का ध्यान रखें

  • जिस दिन आपने प्रेगनेंसी टेस्ट करना हो उस दिन के पहले यूरिन का टस्ट के लिए इस्तेमाल करें या फिर टेस्ट करने से चार से पांच घंटे पहले तक यूरिन पास न करें और उस यूरिन का इस्तेमाल करें। क्योंकि इसमें HCG हॉर्मोन का लेवल सही होता है जिससे प्रेगनेंसी की सही रिपोर्ट आने में मदद मिलती है।
  • यूरिन सैंपल के लिए इस्तेमाल किया जाना वाला कंटेनर साफ़ सुथरा और सूखा हुआ होना चाहिए।
  • पीरियड्स के मिस होने के कम से कम एक चार से पांच दिन बाद टेस्ट करें।
  • टेस्ट के सही परिणाम का पता लगाने के लिए कम से कम तीन से पांच मिनट तक इंतज़ार करें।

तो यह हैं प्रेगनेंसी टेस्ट करने के दस आसान तरीके, तो यदि आप भी घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहती है तो आप भी इन टिप्स को ट्राई कर सकती है। और यदि टेस्ट पॉजिटिव आता है तो उसके बाद जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलें और अपना ट्रीटमेंट शुरू करवाएं।

10 ways to do pregnancy test

Related posts

प्रेगनेंसी के दौरान स्ट्रेचमार्क्स से बचाव के 10 टिप्स

Suruchi Chawla

प्रेगनेंसी में मशरूम खाने के फायदे

Suruchi Chawla

प्रेगनेंसी के दौरान गैस की समस्या अधिक होना शिशु के लिए कितना खतरनाक होता है

Suruchi Chawla

Leave a Comment